1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. EXCLUSIVE | क्या टी20 वर्ल्ड कप 2021 से सुधरेंगे भारत-पाकिस्तान के क्रिकेट कनेक्शन? दानिश कनेरिया ने दिया जवाब

EXCLUSIVE | क्या टी20 वर्ल्ड कप 2021 से सुधरेंगे भारत-पाकिस्तान के क्रिकेट कनेक्शन? दानिश कनेरिया ने दिया जवाब

इंडिया टीवी से खास बातचीज में पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने भारत-पाकिस्तान क्रिकेट कनेक्शन समेत कई मुद्दों पर चर्चा की।

Lokesh Khera Lokesh Khera @lokeshkhera29
Updated on: May 17, 2021 15:36 IST
India vs Pakistan Cricket Relations T20 World Cup 2021 Danish Kaneria Exclusive Interview- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES India vs Pakistan Cricket Relations T20 World Cup 2021 Danish Kaneria Exclusive Interview

भारत और पाकिस्तान के बीच द्वीपक्षीय सीरीज काफी लंबे अरसे से देखने को नहीं मिली है। पहले जब यह दोनों टीमें द्वीपक्षीय सीरीज खेलती थी तो पूरी दुनिया की नजरें इन पर रहती है क्योंकि इस सीरीज का माहौल ही काफी अलग होता था। भारत-पाक सीरीज को इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जाने वाली ऐशेज सीरीज से कम अहमियत नहीं मिलती थी। मगर 2012/13 के बाद से दोनों देशों के बीच राजनेतिक मसलों की वजह से कोई द्वीपक्षीय सीरीज नहीं खेली गई है। भारत और पाकिस्तान की टीमें अब आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में ही एक दूसरे का आमना-सामना करता हुए दिखाई देती है। इन दोनों टीमों को आपस में द्वीपक्षीय सीरीज खेलता हुआ देखने के लिए दोनों देशों की ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की आवाम इंतजार कर रही है।

क्रिकेट के गलियारों में कई बार सवाल उठता है कि कब, आखिर कब इन दोनों देशों के बीच सुलाह होगी और फैन्स को भारत-पाकिस्तान द्वीपक्षीय सीरीज देखने को मिलेगी। अब लगता है कि ऐसा मौका बनने वाला है। इस साल अक्टूबर में भारतीय सरजमीं पर टी20 वर्ल्ड कप 2021 खेला जाना है और खबर है कि भारत ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम को वीजा देने की अनुमति दे दी है। इस फैसले को अब दोनों देशों के बीच क्रिकेट कनेक्शन सुधारने का पहला कदम माना जा रहा है।

जब इस बारे में पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया से पूछा गया तो उन्होंने भी इस फैसले पर खुशी जताई और कहा कि बीसीसीआई ने पाकिस्तान को वीजा देने के लिए हां कर दिया है तो इसे हमें बड़े दिल के साथ लेना चाहिए।

IndiaTV.in से खास बातचीत में दानिश कनेरिया ने कहा "बिल्कुल ये फर्स्ट स्टैप है, लेकिन पहले भी जब पाकिस्तान 2016 में भारत आया था उस समय भी ऐसी ही बातें चल रही थी। उम्मीद करते हैं कि इस बार चीजें अच्छी हो। बीसीसीआई ने पाकिस्तान को वीजा देने के लिए हां कर दिया है तो इसे हमें बड़े दिल के साथ लेना चाहिए।"

इस चर्चा के दौरान दानिश ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच हर एक-दो साल में द्वीपक्षीय सीरीज होनी चाहिए जिसमें टेस्ट क्रिकेट भी शामिल हो। यह सीरीज भारत और पाकिस्तान की सरजमीं पर मुमकिन नहीं है तो न्यूटर्ल वेन्यू, यूएई या फिर इंग्लैंड में इसका आयोजन हो सकता है।

उन्होंने आगे कहा "पाकिस्तान-भारत की सीरीज सबसे बड़ी सीरीज होती है। मैंने भी काफी सीरीज खेली है। पाकिस्तान और भारत के बीच टेस्ट सीरीज होना जरूरी है, न्यूटर्ल वेन्यू पर इसका आयोजन किया जा सकता है। फैन्स भी इन दोनों टीमों को खेलता देखना चाहते हैं। टी20 वर्ल्ड कप में भी जब ये दोनों टीमें भिड़ेंगीं तो उस समय भी काफी जोश होगा। भारत पाकिस्तान को यूएई या इंग्लैंड में साल-दो साल में एक द्वीपक्षीय सीरीज खेलनी चाहिए जिसमें दो टेस्ट, तीन टी20 शामिल हो। इस तरह के इवेंट काफी जरूरी है।"

पाकिस्तान को भारत की तरह मजबूत करनी चाहिए बेंच स्ट्रेंथ

Rishabh Pant And Mohammed Siraj

Image Source : GETTY IMAGES
Rishabh Pant And Mohammed Siraj

दानिश कनेरिया ने इस चर्चा में दोनों देशों की बैंच स्ट्रेंथ की भी तुलना की। इस दौरान उन्होंने भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज 2020 के साथ आईपीएल के बारे में भी बातचीत की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को भारत से सीखने की जरूरत है कि युवा खिलाड़ियों का चयन सिर्फ फ्रेंचाइजी लीग्स के परफॉर्मेंस पर नहीं बल्कि घरेलू क्रिकेट के प्रदर्शन के आधार पर करना चाहिए।

दानिश ने कहा "पाकिस्तान चयनकर्ताओं को भारत की तरह खिलाड़ियों को यह साफ करने की जरूरत है कि पाकिस्तान टीम में चयन पीएसएल की परफॉर्मेंस को देखते हुए नहीं बल्कि डोमेस्टिक क्रिकेट की परफॉर्मेंस को देखकर किया जाएगा। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में इसलिए जीत कर आया क्योंकि मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर और ऋषभ पंत जैसे युवा खिलाड़ियों ने डोमेस्टिक क्रिकेट का रगड़ा खाया हुआ था।"

सूर्यकुमार यादव का भी दिया उदहारण

Suryakumar Yadav

Image Source : GETTY IMAGES
Suryakumar Yadav

दानिश ने कहा कि पाकिस्तान में ऐसा नहीं होता है, वहां एक खिलाड़ी पीएसएल के एक दो मैचों में परफॉर्म करके नेशनल टीम में जगह बना लेता है, लेकिन जो खिलाड़ी लगातार दो-तीन साल से डोमेस्टिक क्रिकेट में परफॉर्म कर रहा है उसे नहीं चुना जाता। इस दौरान दानिश ने भारतीय क्रिकेटर सूर्यकुमार यादव का भी उदहारण दिया।

दानिश ने कहा "जब से पीएसएल पर फोक्स हुआ है तब से डोमेस्ट क्रिकेट को नजरअंदाज किया जा रहा है। खिलाड़ी आता है पीएसएल में एक दो मैच खेलता है वहा-वाही होती है फिर वह पाकिस्तान टीम में आ जाता है। जो घरेलू क्रिकेट में लगातार परफॉर्म कर रहा है वो रह जाता है। पीसीबी का फ्यूचर इनवेस्टमेंट पर कोई ध्यान नहीं है।"

उन्होंने सूर्यकुमार यादव का उदहारण देते हुए अंत में कहा "सूर्यकुमार यादव लगातार तीन साल से आईपीएल में परफॉर्म कर रहे थे। उसके साथ-साथ वह डोमेस्टिक क्रिकेट में भी रन बना रहे थे, इस वजह से वह मानसिक रूप से काफी मजबूत हो गए हैं और अब आप उन्हें कहीं भी खिलाएंगे तो वह परफॉर्म करेंगे। भारत स्टार डेवलपर कर रहा है। पाकिस्तान क्रिकेट को भी ऐसा करना चाहिए।"

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X