1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. कोहली और बीसीसीआई के शुक्रगुजार है ऑस्ट्रेलिया दिग्गज शेन वॉर्न, जानें क्यों दिया ये बयान?

कोहली और बीसीसीआई के शुक्रगुजार है ऑस्ट्रेलिया दिग्गज शेन वॉर्न, जानें क्यों दिया ये बयान?

वॉर्न ने कहा कि कोहली ने जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा दिया, उससे भारत के पूर्व कप्तान के लिए उनके मन में सम्मान कई गुना बढ़ गया है।

Bhasha Reported by: Bhasha
Updated on: January 24, 2022 22:29 IST
Virat Kohli (File Photo)- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES Virat Kohli (File Photo)

Highlights

  • वॉर्न ने कहा कि कोहली ने जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा दिया उससे विराट के लिए उनके मन में सम्मान बढ़ गया है
  • कोहली लिमिटेड ओवर क्रिकेट से ज्यादा टेस्ट क्रिकेट को तवज्जो देते रहे हैं

नई दिल्ली। दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न ने सोमवार को कहा कि विराट कोहली अपने आप में एक ‘प्रेरणादायक कप्तान’ रहे हैं लेकिन खेल के पारंपरिक प्रारूप के लिए उनके जुनून के बिना टेस्ट क्रिकेट की लोकप्रियता कई देशों में कम हो जाती। कोहली ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका की कमजोर टीम के खिलाफ तीन मैचों की श्रृंखला में 1-2 हार के बाद टेस्ट कप्तानी छोड़ दी थी। लेकिन लेग-स्पिन के इस पूर्व जादूगर ने कहा कि कोहली का सबसे बड़ा योगदान क्रिकेट के सबसे कठिन प्रारूप को प्राथमिकता देना रहा है। 

वार्न ने ‘बुक माय शो’ पर प्रसारित हो रही अपनी डॉक्यूमेंट्री ‘शेन’ के प्रचार के दौरान  पीटीआई-भाषा से विशेष बातचीत से कहा,‘‘विराट बहुत अच्छे कप्तान थे और उन्होंने अपने साथियों को प्रेरित किया। मुझे लगता है कि रणनीतिक पहलुओं में वह सुधार कर सकता था लेकिन जहां तक कप्तानी का सवाल है तो उसने अपने साथियों को हर समय प्रेरित किया।’’ 

ये भी पढ़ें - ब्रेंडन टेलर के मैच फिक्सिंग खुलासे के बाद अश्विन ने दी प्रतिक्रिया

वॉर्न ने कहा कि कोहली ने जिस तरह से टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा दिया, उससे भारत के पूर्व कप्तान के लिए उनके मन में सम्मान कई गुना बढ़ गया है। 

टेस्ट क्रिकेट में 709 विकेट लेने वाले इस पूर्व गेंदबाज ने कहा, ‘‘सबसे पहले मैं कहना चाहूंगा कि विराट कोहली के लिए मेरे मन में काफी सम्मान है। मुझे लगता है कि वह एक शानदार क्रिकेटर और खेल के लिए महान दूत हैं। मुझे लगता है कि हम सभी को विराट कोहली और बीसीसीआई को टेस्ट क्रिकेट को आगे बढ़ाने के लिए धन्यवाद देना चाहिए। यह इस खेल का शीर्ष प्रारूप है।’’ 

वॉर्न का मानना है कि अगर कोहली और भारतीय क्रिकेट बोर्ड टेस्ट क्रिकेट के महत्व को बनाये रखने के लिए जोर नहीं लगाया होता तो टी20 लीग के युग में लोगों का इस प्रारूप से मोहभंग हो जाता। 

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप क्रिकेट में खुद को परखना चाहते हैं, तो यह टेस्ट क्रिकेट में हो सकता है। टेस्ट हमारे खेल का सबसे कठिन प्रारूप है। अगर भारत और विराट कोहली ने टेस्ट क्रिकेट को तवज्जो नहीं दी होती तो बहुत से अन्य देश शायद इससे दूर हो जाते।’’ 

वॉर्न ने कहा, ‘‘मैं विराट और बीसीसीआई का शुक्रगुजार हूं कि वह जिस तरह से खेल रहा है और वह खेल के लिए शानदार है।’’

लाइव स्कोरकार्ड

erussia-ukraine-news