ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अन्य देश
  5. Omicron Variant: ओमिक्रॉन ने बदला रूप, खुद को दो भागों में किया विभाजित

Omicron Variant: ओमिक्रॉन ने बदला रूप, खुद को दो भागों में किया विभाजित

एक्सपर्ट्स का कहना है कि ओमिक्रॉन का वंश में विभाजन वैज्ञानिकों के लिए दिलचस्प विषय है क्योंकि ये महामारी विज्ञान को बेहतर तरीके से समझने में मदद मिलेगी। एक्सपर्ट्स ने इसे आम आदमी के लिए खतरनाक नहीं बताया है।

Bhasha Edited by: Bhasha
Published on: December 09, 2021 12:42 IST
ओमिक्रॉन तेजी से...- India TV Hindi
Image Source : PTI ओमिक्रॉन तेजी से पसार रहा है अपने पांव

Highlights

  • ये वेरिएंट दो वंशों BA.1 और BA.2. में विभाजित हो गया है
  • BA.1 जहां मूल वंश है, वहीं BA.2 में करीब 24 म्यूटेशन मिले हैं
  • ओमिक्रॉन में लगभग 50 से भी ज्यादा म्यूटेशन हैं

नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 का एक नया वेरिएंट B.1.1.529 सामने आया था इसने पूरे विश्व में हाहाकार मचा रखा है। अब इसे लेकर एक और जानकारी सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार B.1.1.529 वेरिएंट ने खुद को दो वंशावली में विभाजित कर दिया है। ये वेरिएंट दो वंशों BA.1 और BA.2. में विभाजित हो गया है। वायरोलॉजिस्ट का कहना है कि BA.2 के कई मामले दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा पाए गए हैं।

BA.1 जहां मूल वंश है वहीं, BA.2 में  करीब 24 म्यूटेशन मिले हैं। ओमिक्रॉन में लगभग 50 से भी ज्यादा म्यूटेशन हैं। एक्सपर्ट्स का कहना है कि ओमिक्रॉन का वंश में विभाजन वैज्ञानिकों के लिए दिलचस्प विषय है क्योंकि ये महामारी विज्ञान को बेहतर तरीके से समझने में मदद मिलेगी। एक्सपर्ट्स ने इसे आम आदमी के लिए खतरनाक नहीं बताया है।

ओमिक्रॉन वेरिएंट के अलग-अलग हो जाने पर दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (IGIB) के वरिष्ठ वैज्ञानिक विनोद स्कारिया ने एक ट्वीट भी किया है। उन्होंने लिखा, ''B.1.1.529 (ओमिक्रॉन) वंश अब  BA.1 और BA.2 में विभाजित हो गया है।''

डेल्ट वेरिएंट में भी बदलाव की आई थी जानकारी

इससे पहले डेल्टा वेरिएंट (B.1.617.2), भी पहले दो और फिर तीन वंशों में विभाजित हो गया था जिसमें डेल्टा प्लस भी शामिल था। बाद में ये लगभग 100 की संख्या में कई वंशों में बंट गया था, लेकिन अच्छी बात ये रही कि इससे लोगों को कोई खास नुकसान नहीं पहुंचा था। 

 

elections-2022