1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर देख डरा पाकिस्तान, लगा रहा सऊदी अरब से मदद की गुहार

पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर देख डरा पाकिस्तान, लगा रहा सऊदी अरब से मदद की गुहार

सऊदी के क्राउन प्रिंस सीधे इस्लामाबाद से दिल्ली आना चाहते थे लेकिन भारत की तरफ से इसका विरोध किया गया जिसका नतीजा ये हुआ कि प्रिंस पहले सऊदी लौट गए और फिर वहां से नई दिल्ली आए।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 20, 2019 9:53 IST
पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर देख डरा पाकिस्तान, लगा रहा सऊदी अरब से मदद की गुहार- India TV Hindi
Image Source : NARENDRAMODI/TWITTER पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर देख डरा पाकिस्तान, लगा रहा सऊदी अरब से मदद की गुहार

नई दिल्ली: पुलवामा में कायराना हमला करने के बाद भारत के तेवर देखकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस से दोनों देशों के बीच मध्यस्थ्ता करने को कहा है लेकिन भारत ने इसे साफ तौर पर खारिज कर दिया है। पाकिस्तान को अंदेशा हो गया है कि इस बार भारत बदला लेगा और उसकी आंच पाकिस्तान की आर्मी तक भी पहुंचेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साफ कर चुके हैं कि सेना को खुली छूट दे दी गई है और इसका नतीजा भी आ गया जब पुलवामा हमले के 100 घंटे के अंदर ही मास्टरमाइंड को सेना ने ढेर कर दिया। अब पाकिस्तान सऊदी अरब से मदद की गुहार लगा रहा है।

बता दें कि सऊदी के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार की रात भारत पहुंच चुके हैं और पीएम मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर एयरपोर्ट पर उनका पूरी गर्मजोशी से स्वागत किया। इंडिया टीवी को जानकारी मिली है कि इमरान खान ने सऊदी के क्राउन प्रिंस से कहा है कि वो भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थ बनने की पेशकश करें।

क्राउन प्रिंस रविवार को पाकिस्तान में थे, वहीं इमरान ने उनसे मदद मांगी। दरअसल, पुलवामा में फिदायीन हमले के बाद भारत के सख्त रूख से पाकिस्तान बुरी तरह डर गया है। पीएम मोदी साफ कर चुके हैं कि पुलवामा हमले में शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। सेना 100 घंटे में अपना एक्शन दिखा चुकी है। अब बारी पाकिस्तान की ही है इसलिए उसने सऊदी के क्राउन प्रिंस से गुहार लगाई है लेकिन भारत ने अपना रुख साफ कर दिया है।

सऊदी के क्राउन प्रिंस सीधे इस्लामाबाद से दिल्ली आना चाहते थे लेकिन भारत की तरफ से इसका विरोध किया गया जिसका नतीजा ये हुआ कि प्रिंस पहले सऊदी लौट गए और फिर वहां से नई दिल्ली आए। हाल के वर्षों में सऊदी अरब और भारत के बीच रिश्ते बेहद अच्छे हुए हैं। दोनों देशों के आर्थिक रिश्ते बहुत तेज़ी से मज़बूत हो रहे हैं। इसके अलावा दोनों देश आतंकी फंडिग और मनी लॉंड्रिंग को लेकर भी इंटेलिडजेंस रिपोर्ट शेयर करने को लेकर समझौता कर चुके हैं।

क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान और पीएम मोदी के बीच व्यक्तिगत केमिस्ट्री भी अच्छी है, यही वजह है कि पीएम उन्हें लेने खुद एयरपोर्ट गए। इसी केमिस्ट्री में इमरान खान को अपना मुंह छिपाने की उम्मीद दिख रही थी लेकिन भारत ने साफ कर दिया है कि पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले हर शख्स को इसका हिसाब चुकाना होगा। साज़िश करने वाला मारा जा चुका है अब उनके आकाओं की बारी है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X