1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इमरान ने घोटाले के आरोपों से घिरे अपने करीबी असीम बाजवा का इस्तीफा अस्वीकार किया

इमरान खान ने घोटाले के आरोपों से घिरे अपने करीबी असीम बाजवा का इस्तीफा अस्वीकार किया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) असीम सलीम बाजवा के इस्तीफे को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

IANS IANS
Published on: September 04, 2020 23:58 IST
Imran Khan, Imran Khan Asim Bajwa, Asim Bajwa, Asim Bajwa resignation- India TV Hindi
Image Source : AP FILE पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे असीम बाजवा के इस्तीफे को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) असीम सलीम बाजवा के इस्तीफे को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है। भ्रष्टाचार घोटाले में लिप्त असीम बाजवा सूचना एवं प्रसारण मामलों पर इमरान खान के प्रमुख सलाहकार हैं। सीनेटर फैसल जावेद खान ने एक ट्वीट के माध्यम से पुष्टि की कि इमरान खान घोटाले की व्यापकता के बावजूद उनके साथ काम करना जारी रखना चाहते हैं। दरअसल एक वेबसाइट ने एक बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि बाजवा ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मिलकर एक विशाल अपतटीय व्यवसाय स्थापित की है।

बाजवा ने किया है आरोपों का खंडन

गौरतलब है कि बाजवा चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा प्राधिकरण के अध्यक्ष भी हैं। गुरुवार को उनके द्वारा जारी एक बयान में, इमरान के करीबी बाजवा ने आरोपों को गलत बताते हुए रिपोर्ट का खंडन किया था। बयान के अनुसार, रिपोर्ट में आरोप लगाया गया कि 22 अगस्त को एसएपीएम के रूप में उनकी संपत्ति और देनदारियों की घोषणा गलत थी, क्योंकि वह अपनी पत्नी द्वारा विदेश में किए गए निवेश का खुलासा करने में विफल रहे थे। बाजवा के खिलाफ लगाए गए आरोपों को देखें तो उन्होंने एक मूल कंपनी, जिसे बाजको ग्लोबल मैनेजमेंट कहा जाता है, उसके माध्यम से काफी पैसा कमाया।

बाजवा ने कहा, हम पाक साफ
द डॉन की रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया कि बाजवा के भाइयों ने अमेरिका में कारोबार किया और उनके कारोबार का विकास पाकिस्तानी सेना में उनकी पदोन्नति पर निर्भर था। बाजवा ने अपने पर लगे आरोपों पर सफाई देते हुए कहा है कि संपत्ति की घोषणा के दाखिल होने की तारीख, यानी 22 अगस्त को, उनकी पत्नी उनके भाइयों या विदेश में अन्य किसी भी व्यवसाय में निवेशक या शेयरधारक नहीं है। उन्होंने कहा कि 2002 से इस साल एक अगस्त तक (18 साल) उनकी पत्नी द्वारा अमेरिका में उनके भाइयों के स्वामित्व वाली कंपनियों में किए गए निवेश की कुल राशि महज 19,492 डॉलर है। 

99 कंपनियों के मालिक हैं भाई और पत्नी!
उन्होंने कहा, ‘यह निवेश मेरी पत्नी द्वारा 18 वर्षो की अवधि में मेरी बचत के माध्यम से किया गया था। एक बार भी एसबीपी द्वारा निर्धारित नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया है।’ बता दें कि शुक्रवार को सामने आई कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि असीम बाजवा के भाई नदीम बाजवा ने पिज्जा रेस्त्रां में डिलविरी ड्राइवर के रूप में अपने करियर की शुरूआत की थी। रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि अब उनके भाईयों और असीम बाजवा की पत्नी कथित तौर पर 99 कंपनियों के मालिक हैं। इनके पास पिज्जा कंपनी के 133 रेस्त्रां हैं, जिनकी कीमत करीब 4 करोड़ डॉलर बताई जा रही है।

1.45 करोड़ डॉलर में अमेरिका में खरीदी प्रॉपर्टी
यह भी बताया जा रहा है कि बाजवा के परिवार ने 5 करोड़ 22 लाख डॉलर अपने व्यापार को विकसित करने में खर्च किए। इसके अलावा उन्होंने एक करोड़ 45 लाख डॉलर अमेरिका में संपत्ति खरीदने में खर्च किए। उन्होंने अमेरिका और यूएई में पिज्जा चेन पापा जॉन में उनके भाईयों के कथित निवेश के संबंध में भी उन पर लगे तमाम आरोपों का खंडन किया है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X