Thursday, April 18, 2024
Advertisement

जोहान्सबर्ग के BRICS शिखर सम्मेलन में जाएंगे पीएम मोदी, जिनपिंग भी होंगे शामिल; मगर इसलिए नहीं रहेंगे पुतिन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दक्षिण अफ्रीका के ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जोहान्सबर्ग जाएंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से इसकी पुष्टि कर दी गई है। जोहान्सबर्ग में 22 से 24 अगस्त तक ब्रिक्स शिखर सम्मेलन का आयोजन होना है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी इसमें हिस्सा लेंगे।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: August 03, 2023 22:05 IST
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री- India TV Hindi
Image Source : AP नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति माटेमेला सिरिल रामाफोसा के आमंत्रण पर ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जोहान्सबर्ग जाएंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी एक बयान में बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी गई। ब्रिक्स एक अंतरराष्ट्रीय समूह है जिसमें चीन, भारत, रूस, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं। पंद्रहवां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन इस साल 22 से 24 अगस्त तक जोहान्सबर्ग में आयोजित होगा। दक्षिण अफ्रीका ब्रिक्स का मौजूदा अध्यक्ष है। इसमें चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी शामिल नहीं होंगे। मगर रूस के राष्ट्रपति पुतिन भौतिक रूप से मौजूद नहीं होंगे। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सम्मेलन में शामिल होने की बात कही है।

पीएमओ ने बताया कि मोदी ने रामाफोसा के साथ बृहस्पतिवार को टेलीफोन पर बातचीत की और इसी दौरान दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति ने ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के लिए प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया और उन्हें इसकी तैयारियों के बारे में भी जानकारी दी। प्रधानमंत्री ने तब निमंत्रण स्वीकार कर लिया और कहा कि वह शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जोहान्सबर्ग की अपनी यात्रा के लिए उत्सुक हैं।" बातचीत के दौरान दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय सहयोग में प्रगति का सकारात्मक आकलन किया, जिसमें 2023 में द्विपक्षीय राजनयिक संबंधों की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ भी शामिल है।

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति ने भारत को दी जी-20 की बधाई

पीएमओ की ओर से जारी बयान में कहा गया, "पीएम मोदी ने आपसी हित के कई क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भी विचारों का दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति के साथ फोन पर आदान-प्रदान किया।" पीएमओ ने कहा राष्ट्रपति रामाफोसा ने जी-20 की अध्यक्षता के तहत भारत की पहलों को अपना पूरा समर्थन दिया और कहा कि वह जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भारत की यात्रा को लेकर आशान्वित हैं। बयान के मुताबिक, दोनों नेताओं ने संपर्क में बने रहने पर सहमति जताई।  (भाषा)

इसलिए ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में नहीं जाएंगे पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन को भी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए जोहान्सबर्ग जाना था। मगर यूक्रेन में बच्चों के अपहरण और जुर्म के आरोप में अंतरराष्ट्रीय बाल न्यायालय ने पुूतिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर रखा है। दक्षिण अफ्रीका भी अंतरराष्ट्रीय बाल न्यायालय का एक सदस्य है। ऐसे में पुतिन के शामिल होने पर दक्षिण अफ्रीका पर उनकी गिरफ्तारी करने का दबाव बनाया जा रहा था। ऐसे में दक्षिण अफ्रीका के सामने धर्मसंकट पैदा हो गया था। इसलिए पुतिन ने स्वयं सम्मेलन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से शामिल होने की बात कह कर दक्षिण अफ्रीका को नैतिक संकट से उबारने का काम किया।

यह भी पढ़ें

अब मां-बाप को वापस मिलेगी 2 वर्ष की मासूम "अरिहा", भारत ने जर्मनी के राजदूत को किया तलब

पाकिस्तान के साथ अब गुटर गूं करने से कतरा रहा अमेरिका, सुरक्षा समझौते को लेकर सता रहा भारत का डर!

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement