1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. संसद परिसर में हिंसा पर बाइडेन ने कहा-'वे प्रदर्शनकारी नहीं,आतंकी थे'

संसद परिसर में हिंसा पर बाइडेन ने कहा-'वे प्रदर्शनकारी नहीं,आतंकी थे'

संसद परिसर में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के हमले को अमेरिका के इतिहास का ‘काला दिन’ बताते हुए नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि ट्रंप द्वारा ‘‘लोकतंत्र की अवहेलना’’ के कारण हिंसा की घटना हुई। वे प्रदर्शनकारी नहीं, देश के आतंकी थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 08, 2021 12:08 IST
संसद परिसर में हिंसा पर बाइडेन ने कहा-'वे प्रदर्शनकारी नहीं,आतंकी थे'- India TV Hindi
Image Source : AP संसद परिसर में हिंसा पर बाइडेन ने कहा-'वे प्रदर्शनकारी नहीं,आतंकी थे'

वाशिंगटन: कैपिटल हिल (संसद भवन) में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के हमले को अमेरिका के इतिहास का ‘काला दिन’ बताते हुए नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि ट्रंप द्वारा ‘‘लोकतंत्र की अवहेलना’’ के कारण हिंसा की घटना हुई। वे प्रदर्शनकारी नहीं, देश के आतंकी थे। बाइडेन ने डेलावेयर विलमिंगटन में बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा कि कैपिटल हिल में उत्पात की घटना कोई असहमति, या विरोध प्रदर्शन नहीं बल्कि अराजकता थी। 

उन्होंने कहा, ‘‘वे प्रदर्शनकारी नहीं थे। उन्हें प्रदर्शनकारी मत कहिए। वे दंगाई भीड़ थे, वे देश के आतंकी थे। काश मैं यह कह पाता कि हमने यह सब नहीं देखा, लेकिन यह सच नहीं है। हमने उन्हें आते हुए देखा।’’ बाइडेन ने कहा, ‘‘पिछले चार साल से हमारे यहां ऐसे राष्ट्रपति हैं जिन्होंने हमारे लोकतंत्र, हमारे संविधान, कानून के शासन की अवहेलना की।’’ बाइडन ने तीखा हमला करते हुए कहा कि ट्रंप ने उनकी सत्ता पर सवाल उठाने वाले मुक्त प्रेस पर भी लगातार निशाना साधा, उन्हें लोगों का दुश्मन बताया। 

नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा, ‘‘ट्रंप को ऐसा लगता था कि वह अदालत में अपने मित्र न्यायाधीशों की बदौलत जीत जाएंगे लेकिन उन्हें तब धक्का लगा जब उन्हीं के द्वारा नियुक्त न्यायाधीशों ने उनकी चुनौती को खारिज कर दिया।’’ बाइडेन ने कहा कि न्यायपालिका ने हर अवसर पर अपना काम पूरी निष्ठा के साथ बखूबी किया और निष्पक्षता बरती। 

इनपुट-भाषा

Click Mania
bigg boss 15