1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दूसरी खुराक मुहैया नहीं करा सकते, तो इतनी जोर-शोर से टीकाकरण केंद्र क्यों शुरू किए- HC ने दिल्ली सरकार से पूछा

दूसरी खुराक मुहैया नहीं करा सकते, तो इतनी जोर-शोर से टीकाकरण केंद्र क्यों शुरू किए- HC ने दिल्ली सरकार से पूछा

न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किए और उससे यह बताने को कहा कि क्या वह कोवैक्सीन की पहली खुराक ले चुके लोगों को छह सप्ताह की समय सीमा समाप्त होने से पहले दूसरी खुराक मुहैया करा सकते हैं। अ

Bhasha Bhasha
Published on: June 02, 2021 14:52 IST
Covid Vaccine Delhi High Court slams kejriwal Govt over second dose of Covaxin दूसरी खुराक मुहैया नह- India TV Hindi
Image Source : AP दूसरी खुराक मुहैया नहीं करा सकते, तो इतनी जोर-शोर से टीकाकरण केंद्र क्यों शुरू किए- HC ने दिल्ली सरकार से पूछा

नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने बुधवार को कहा कि यदि दिल्ली सरकार यह सुनिश्चित नहीं कर सकती कि लोगों को निर्धारित समय सीमा में कोवैक्सीन की दोनों खुराक मिल जाएंगी, तो ‘‘इसने जोर-शोर’’ से इतने टीकाकरण केंद्र शुरू नहीं करने चाहिए थे। न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किए और उससे यह बताने को कहा कि क्या वह कोवैक्सीन की पहली खुराक ले चुके लोगों को छह सप्ताह की समय सीमा समाप्त होने से पहले दूसरी खुराक मुहैया करा सकते हैं। अदालत ने राष्ट्रीय राजधानी में कोवैक्सीन और कोविशील्ड की दोनों खुराक उपलब्ध कराने का अनुरोध करने वाली दो याचिकाओं पर केंद्र को भी नोटिस जारी किया।

राज्यों के पास 1.64 करोड़ से अधिक टीके उपलब्ध हैं: केंद्र

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 रोधी 1.64 करोड़ से अधिक टीके उपलब्ध हैं। केंद्र ने अभी तक राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को निशुल्क और राज्यों द्वारा सीधे खरीदने पर 23 करोड़ से अधिक टीके उपलब्ध कराए हैं। मंत्रालय ने बताया कि इसमें से 21,71,44,022 टीकों की खपत हुई है जिनमें खराब हुए टीके भी शामिल हैं। उसने बताया कि राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के पास कुल 1,64,42,938 कोविड-19 रोधी टीके अब भी उपलब्ध हैं।

मई में टीकों की संख्या पर मीडिया की खबरें तथ्यात्मक रूप से गलत हैं: सरकार
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मीडिया में आयी उन खबरों को बुधवार को ‘‘तथ्यात्मक रूप से गलत और निराधार’’ बताया जिनमें आरोप लगाया गया है कि केंद्र ने जून में कोविड-19 रोधी 12 करोड़ टीके देने का वादा किया है जबकि मई में उपलब्ध 7.9 करोड़ टीकों में से केवल 5.8 करोड़ टीके ही लगाए गए। मंत्रालय के एक जून को सुबह सात बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, एक से 31 मई तक राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में 6.10 करोड़ टीके लगाए गए।

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि राज्यों के पास कुल 1.62 करोड़ टीके बचे हैं और उनका इस्तेमाल नहीं किया गया है। एक से 31 मई तक कुल 7.94 करोड़ टीके उपलब्ध कराए गए। केंद्र 16 जनवरी से प्रभावी टीकाकरण अभियान के लिए राज्यों के प्रयासों में सहयोग कर रहा है। टीकों की उपलब्धता बनाए रखने के लिए केंद्र टीकों के निर्माताओं के साथ लगातार संपर्क बनाए हुए हैं और उसने एक मई से राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के लिए विभिन्न खरीद विकल्पों की भी शुरुआत की।

मंत्रालय ने कहा कि मीडिया में कई अपुष्ट खबरें आ रही हैं जिसमें जनता को गलत सूचनाएं दी गई। देश में अब तक लोगों को 21,85,46,667 कोविड-19 रोधी टीके लगाए जा चुके हैं। बयान में कहा गया है, ‘‘मीडिया में आ रही खबरों में आरोप लगाया गया कि केंद्र सरकार ने जून 2021 में 12 करोड़ टीके देने का वादा किया है जबकि मई में उपलब्ध कुल 7.9 करोड़ टीकों में से करीब 5.8 करोड़ टीके ही लगाए गए। यह खबर तथ्यात्मक रूप से गलत और निराधार है।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। दूसरी खुराक मुहैया नहीं करा सकते, तो इतनी जोर-शोर से टीकाकरण केंद्र क्यों शुरू किए- HC ने दिल्ली सरकार से पूछा News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन
Write a comment
X