Saturday, July 20, 2024
Advertisement

5 दिन से भूख हड़ताल पर बैठीं आतिशी की तबीयत बिगड़ी, देर रात LNJP अस्पताल में कराया गया भर्ती

दिल्ली की जल मंत्री आतिशी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह पिछले पांच दिनों से कुछ भी नहीं खा रही हैं और हरियाणा से दिल्ली के हिस्से का पानी जारी करने की मांग पर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं। आप का आरोप है कि हरियाणा सरकार दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं दे रही है।

Edited By: Khushbu Rawal @khushburawal2
Updated on: June 25, 2024 6:29 IST
atishi- India TV Hindi
Image Source : X- ANI तबीयत बिगड़ने के बाद आतिशी को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

राजधानी दिल्ली में जारी जल संकट के बीच देर रात बड़ी खबर सामने आई है। दिल्ली की जल मंत्री आतिशी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। देर रात आतिशी की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें LNJP अस्पताल ले जाया गया। बता दें कि राजधानी में पानी की कमी को लेकर आतिशी 21 जून से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठीं थी जहां पांचवे दिन उनकी तबीयत बिगड़ गई। डॉक्टरों के मुताबिक आतिशी ने पिछले 5 दिनों से कुछ भी नहीं खाया था जिस वजह से उनका शुगर लेवल गिर गया, कीटोन बढ़ गया और ब्लड प्रेशर कम हो गया जिसके चलते उनकी तबीयत बिगड़ी और उन्हें भर्ती कराया गया।

वहीं, आतिशी के भर्ती होने पर आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कहा कि हरियाणा सरकार दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं दे रहा जिसे लेकर वो अनशन पर थीं।

2.2 किलो घटा वजन

इससे पहले आम आदमी पार्टी ने एक बयान में कहा था कि आतिशी का वजन और ब्लड प्रेशर तेजी से घट रहा है, जिसे लोकनायक जय प्रकाश (LNJP) अस्पताल के डॉक्टरों ने "खतरनाक" बताया है। बयान में कहा गया, "जल मंत्री आतिशी का वजन भी अप्रत्याशित रूप से घट रहा है। 21 जून को भूख हड़ताल पर बैठने से पहले उनका वजन 65.8 किलोग्राम था, जो भूख हड़ताल के चौथे दिन घटकर 63.6 किलोग्राम रह गया है यानी महज 4 दिनों में उनका वजन 2.2 किलोग्राम कम हुआ है।" पार्टी ने कहा कि भूख हड़ताल के पहले दिन के मुकाबले चौथे दिन उनका शर्करा स्तर 28 यूनिट कम हुआ है। इस बयान में कहा गया है, "इसके साथ ही उनका ब्लड प्रेशर का स्तर भी कम हो गया है। जल मंत्री आतिशी के शुगर लेवर, ब्लड प्रेशर और वजन में जिस गति से कमी आई है उसे डॉक्टरों ने खतरनाक बताया है।"

अस्पताल में भर्ती करने की दी थी सलाह

आप ने कहा था कि डॉक्टरों ने आतिशी को उनके बिगड़ते स्वास्थ्य को देखते हुए अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी है, लेकिन वह अपनी जान जोखिम में डालकर दिल्ली के हक के पानी के लिए लड़ रही हैं। डॉक्टरों की रिपोर्ट में कहा गया है कि "मरीज को अस्पताल में भर्ती होने और पानी पीने का परामर्श दिया गया है" लेकिन उसने इनकार कर दिया। मंत्री ने दावा किया कि हरियाणा ने पिछले तीन हफ्तों में राष्ट्रीय राजधानी के लिए छोड़े जाने वाले यमुना के पानी में दिल्ली का हिस्सा 100 मिलियन गैलन प्रति दिन (एमजीडी) कम कर दिया है। उन्होंने कहा कि 100 एमजीडी कम पानी मिलने की वजह से दिल्ली में पानी की कमी हो गई है, जिससे यहां के 28 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

यह भी पढ़ें-

क्या तिहाड़ से बाहर आएंगे अरविंद केजरीवाल? दिल्ली हाई कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

ED का दावा, निचली अदालत ने केजरीवाल को दी गैर कानूनी जमानत, हाई कोर्ट में दिए सबूत

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement