Tuesday, April 16, 2024
Advertisement

हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट में क्या है अंतर, डॉक्टर से जानिए लक्षणों से कैसे समझें

Cardiac Failure And Heart Attack Symptoms: हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट के लक्षण काफी एक जैसे होते हैं। ऐसे में ज्यादातर लोगों को हार्ट अटैक और सडन कार्डियक अरेस्ट के बीच अंतर का पता नहीं होता है। डॉक्टर से आसान भाषा में समझिए कार्डियक अरेस्ट और हार्ट अटैक में क्या फर्क है। दोनों के लक्षण क्या हैं?

Bharti Singh Written By: Bharti Singh
Published on: February 23, 2024 7:33 IST
Heart Attack Cardiac Arrest - India TV Hindi
Image Source : FREEPIK हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट में अंतर

आजकल हार्ट अटैक और सडन कार्डियक अरेस्ट के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। हालांकि ज्यादातर लोग हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट में अंतन नहीं समझ पाते हैं। दोनों के लक्षण काफी हद तक एक जैसे लगते हैं जिससे लोगों को समझने में मुश्किल होती है कि व्यक्ति को हार्ट अटैक आया है या कार्डियक अरेस्ट का शिकार हुआ है। शारदा हॉस्पिटल के इंटरनल मेडिसिन डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉ भुमेश त्यागी से जानते हैं कि आखिर हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट में क्या अंतर होता है। हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट के लक्षण क्या होते हैं।

हार्ट अटैक क्या है? (Heart Attack In Hindi)

आसान भाषा में समझें तो हार्ट अटैक में व्यक्ति के दिल के अंदर ठीक तरह से खून नहीं पहुंच पाता ऐसी स्थिति में दिल का दौरा यानी हार्ट अटैक आता है। हार्ट अटैक आने पर छाती को तेजी से दबाया जाता है, जिससे हार्ट में ब्लड सर्कुलेशन शुरू हो जाता है। दूसरी तरह से समझें तो दिल के अंदर खून का प्रवाह रुकने पर हार्ट काम करना बंद कर देता है और जिसे हार्ट अटैक कहा जाता है। हार्ट अटैक में दिल धड़कता रहता है, लेकिन मांसपेशियों को खून नहीं मिल पाता है। इस वक्त शरीर के बाकी हिस्सों में खून का संचार होता रहता है। हार्ट अटैक आने पर व्यक्ति होश में रहता है। 

हार्ट अटैक के लक्षण  

  • सीने में दर्द
  • सीने में बेचैनी 
  • जी मिचलाना 
  • सीने में जलन 
  • अपच या पेट दर्द 
  • थकान और सूजन
  • ठंड लगना और बांह में दर्द
  • चक्कर आना 
  • गले या जबड़े में दर्द 

कार्डियक अरेस्ट क्या है? (Cardiac Arrest In Hindi)

कार्डियक अरेस्ट में व्यक्ति का हार्ट शरीर में खून पंप करना बंद कर देता है, जिसके कारण मरीज को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। ज्यादातर मामलों में मरीज बेहोश हो जाते हैं। कार्डियक अटैक में हार्ट के अंदर खून तो पहुंचता है लेकिन हार्ट खून को पंप करना बंद कर देता है। जिससे शरीर के दूसरे अंगों तक खून और ऑक्सीजन पहुंचना बंद हो जाता है। ऐसे में शरीर के दूसरे हिस्से भी काम करना बंद कर देते हैं। दिल धड़कना बंद कर देता है तो इंसान सांस नहीं ले पाता है। हार्ट अटैक की स्थिति में भी सडन कार्डियक अरेस्ट हो सकता है।

कार्डियक अरेस्ट के लक्षण 

  • अचानक बेहोश हो जाना
  • अचानक से गिर जाना
  • दिल का अचानक तेजी से धड़कना
  • पल्स और ब्लड प्रेशर रुक जाना
  • सांस में तकलीफ और घबराहट

कार्डियक अरेस्ट से कैसे बचें, जानिए अचानक से रुक जाए दिल की धड़कन तो कैसे बचाएं जान

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement