1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. भारत ने मेघालय में इस देश से लगे 70 प्रतिशत बॉर्डर पर लगा दी है बाड़, BSF ने दी जानकारी

भारत ने मेघालय में इस देश से लगे 70 प्रतिशत बॉर्डर पर लगा दी है बाड़, BSF ने दी जानकारी

तस्कर सामग्रियों की तस्करी के लिए सीमा के पास बिना बाड़ के इलाकों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन बीएसएफ ने सतर्कता बढ़ा दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 08, 2021 21:01 IST
70 pc of India-Bangladesh border in Meghalaya fenced: BSF- India TV Hindi
Image Source : PTI (REPRESENTATION PIC) तस्कर सामग्रियों की तस्करी के लिए सीमा के पास बिना बाड़ के इलाकों का इस्तेमाल करते हैं। 

शिलॉन्ग: मेघालय में भारत-बांग्लादेश की 70 प्रतिशत सीमा पर बाड़ लगा दी गई है। मेघालय फ्रंटियर में बीएसएफ महानिरीक्षक हरदीप सिंह ने कहा कि शेष कार्य के भी जल्द पूरा होने की उम्मीद है, लेकिन 13 इलाकों में बाड़ लगाने के लिए बॉर्डर गार्ड्स बांग्लादेश से मंजूरी लेनी होगी। सिंह ने कहा, ‘‘हम उनके सामने पहले ही यह मामला लेकर जा चुके हैं और हमें जल्द ही मंजूरी मिलने की उम्मीद है, जिसके बाद पूरी सीमा पर बाड़ लगा दी जाएगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मेघालय में बांग्लादेश के साथ लगती 443 किलोमीटर की करीब 70 प्रतिशत अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बाड़ लगा दी गई है। जिन इलाकों में बाड़ नहीं लगी है, वहां कार्य प्रगति पर है।’’ बीएसएफ के आईजी ने बताया कि 10,000 से अधिक पशु और 40 करोड़ रुपए की अन्य सामग्री पिछले एक साल में सीमा के पास से जब्त की गई है। 

उन्होंने कहा कि तस्कर पशुओं और अन्य सामग्रियों की तस्करी के लिए सीमा के पास बिना बाड़ के इलाकों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन बीएसएफ ने सतर्कता बढ़ा दी है। सिंह ने पूर्वोत्तर एवं मेघालय के उग्रवादी शिविरों की खासकर पड़ोसी बांग्लादेश में मौजूदगी से इनकार किया। 

इससे पहले मेघालय के गृह मंत्री लहकमेन रयंबुई ने कहा था कि पुलिस कर्मियों की संख्या में कमी को देखते हुए भारत बांग्लादेश सीमा बाड़ रहित क्षेत्रों में होमगार्ड को तैनात किया जाएगा। बांग्लादेश से लगी 443 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा में से 60 किलोमीटर बाड़ रहित है और इसकी सुरक्षा सीमा सुरक्षा बल करता है। 

रयंबुई ने ट्वीट किया, “जयंतिया और खासी पहाड़ियों पर भारत बांग्लादेश सीमा के बाड़ रहित क्षेत्रों में लोगों की सुरक्षा के वास्ते और पुलिस कर्मियों की संख्या में कमी को देखते हुए मेघालय सरकार, गृह विभाग (पुलिस) और होमगार्ड ने होमगार्ड की बॉर्डर विंग के कुछ कर्मियों को क्षेत्र के पुलिस स्टेशन/आउटपोस्ट पर पुलिस की सहायता के लिए तैनात करने का निर्णय लिया है।”

ये भी पढ़ें

दिल्‍ली में बर्ड फ्लू की एंट्री? मयूर विहार में बड़ी संख्या में कौओं की मौत से मचा हड़कंप

दिल्ली में सामने आए Coronavirus के 444 नये मरीज, इन्हें सात दिन होम क्वारंटीन में रहना जरूरी
81 वर्षीय महिला ने 35 साल के युवक से की शादी, सामने आई ये मुसीबत
MG Hector का यह खास मॉडल भारत में हुआ लॉन्च, जानें इसकी कीमत और खूबियां

Click Mania
bigg boss 15