1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. "MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी", किसानों के साथ बैठक के बाद बोले कृषि मंत्री

"MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी", किसानों के साथ बैठक के बाद बोले कृषि मंत्री

नए कृषि कानूनों के मुद्दे पर 40 किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच विज्ञान भवन में पांचवें दौर की लगभग 5 घंटे चली बातचीत के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: December 05, 2020 23:32 IST
"MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी", किसानों के साथ बैठक के बाद बोले कृषि मंत्री- India TV Hindi
Image Source : PTI "MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी", किसानों के साथ बैठक के बाद बोले कृषि मंत्री

नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों के मुद्दे पर 40 किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच विज्ञान भवन में पांचवें दौर की लगभग 5 घंटे चली बातचीत के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में कृषि मंत्री ने बताया कि बैठक में सरकार ने कहा है कि MSP जारी रहेगी। तोमर ने कहा, "MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी।"

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों के हितों के लिए प्रतिबद्ध है। किसानों की हर शंका का समाधान करेंगे। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि आज की बैठक में किसानों की ओर से कोई नया सुझाव नहीं आया। अगर वह कोई नया सुझाव देते तो समाधान जल्दी निकल जाता। उम्मीद है कि अगली मीटिंग में किसान नये सुझाव देंगे। हम किसानों के किसानों के हित में कुछ भी करेंगे। 

इसके साथ ही कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसानों से आंदोलन छोड़कर बातचीत का रास्ता ही अपनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन छोड़कर चर्चा के रास्ते पर आएं। उन्होंने किसान यूनियन से अपील की है कि सर्दी का समय है, कोरोना है, इसीलिए वह आंदोलन में आए बच्चे और बुजुर्गों को घर वापस भेज दें।

बता दें कि किसानों और सरकार के बीच यह पांचवें दौर की बातचीत थी और इसमें भी कोई समाधान नहीं निकला। अब अगले दौर की बातचीत 9 दिसंबर यानि बुधवार को होगी। तोमर ने कहा कि 9 तारीख को फिर बैठक करेंगे, सबकी सहमति से यह तारीख तय की गई है। हालांकि, इससे पहले ही किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान कर रखा है।

वहीं, किसान प्रतिनिधियों का कहना है कि वह केवल हां और नहीं में जवाब चाहते हैं। किसान नेता केवल कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं। पंजाब, जालंधर से किसान दिल्ली में कृषि क़ानूनों के खिलाफ विरोध कर रहे किसानों के लिए खाने-पीने की चीजें ले जा रहे हैं। एक किसान प्रदर्शनकारी ने कहा,"कुछ लोग पहले से वहां गए हुए हैं, हम उनके लिए राशन ले जा रहे हैं। जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाएंगी तब तक संघर्ष जारी रहेगा।"

गौरतलब है कि सरकार और प्रदर्शनकारी किसान संगठनों के बीच विज्ञान भवन में शनिवार अपराह्न करीब 2.30 बजे बातचीत शुरू हुई थी, जो करीब 5 घंटे चली। नरेंद्र सिंह तोमर समेत तीन केंद्रीय मंत्री इस समय किसान नेताओं के साथ बातचीत में शामिल रहे। रेल, वाणिज्य और खाद्य मंत्री पीयूष गोयल और वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश भी बैठक में मौजूद रहे। सोम प्रकाश पंजाब से सांसद हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment