Ankita Murder Case: एक्सट्रा सर्विस का मतलब फिजिकल रिलेशन... लड़की की चैट ने खोले कत्ल के राज!

Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि अंकिता भंडारी के मोबाइल से मिले स्क्रीनशॉट से पुलिस को कुछ अहम सबूत मिले हैं।

Pankaj Yadav Edited By: Pankaj Yadav @pan89168
Updated on: September 25, 2022 7:48 IST
ankita- India TV Hindi
Image Source : FILE ankita

Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में डीजीपी अशोक कुमार ने कई चौंका देने वाले खुलासे किए हैं। डीजीपी अशोक कुमार की मानें तो बीजेपी नेता का बेटा और रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य ने अंकिता भंडारी पर अपने भाई अंकित आर्य को स्पेशल सर्विस देने के लिए दबाव बनाया था।

अंकिता के मोबाइल से मिले स्क्रीनशॉट से पुलिस को मिले सबूत

डीजीपी अशोक कुमार के कहा कि अंकिता भंडारी के मोबाइल से मिले स्क्रीनशॉट से पुलिस को कुछ अहम सबूत मिले हैं। जिसके आधार पर कहा जा सकता है कि अंकिता पर सेक्स करने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। इसी गलत काम के दबाव को लेकर आपस में झगड़ा हुआ होगा और उसके बाद इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया गया।

Chat

Image Source : INDIATV
Chat

अंकिता पर होटल ग्राहकों से शारीरिक सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाता था पुलकित आर्य

जानकारी के मुताबिक रिसॉर्ट का मालिक पुलकित आर्य और अन्य आरोपी अंकिता पर होटल ग्राहकों से शारीरिक सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाते थे। ये बात अंकिता ने अपने कुछ साथियों को बता दी थी। इसी को लेकर अंकिता और आरोपितों के बीच 18 सितंबर को विवाद हुआ था। जिसके बाद सभी आरोपी उसे अपने साथ दोपहिया वाहन में घुमाने के लिए ले गए। रास्ते में तीनों के साथ अंकिता कि दोबारा कहासुनी हुई। इस दौरान उनके बीच हाथापाई भी हुई। जिससे अंकिता को धक्का लगा और वो नहर में गिर गई। आरोपित अंकिता को ऐसे ही छोड़ वापस रिसॉर्ट आ गए और सबको नई कहानी सुनाई। तीनों से पूछताछ की गई तो उन्होंने अपराध कबूल कर लिया।

Chat

Image Source : INDIATV
Chat

आरोपियों ने ऐसे मारा था अंकिता को

आरोपी सौरभ ने बताया, "18 सितंबर की शाम पुलकित और अंकिता रिजॉर्ट में थे, तब दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। इस पर पुलकित ने कहा कि अंकिता गुस्से में है, इसे लेकर ऋषिकेश चलते हैं। चारों एक बाइक और एक स्कूटी से रिजॉर्ट से निकले। हम लोग बैराज होते हुए एम्स के पास पंहुचे। तब बैराज चौकी से करीब 1.5 किमी दूर पुलकित अंधेरे में रुका तो हम भी रुक गए। उसके बाद वह हमने शराब पी और मोमो खाए।

Chat

Image Source : INDIATV
Chat

अंकिता ने कहा- मैं रिजॉर्ट की हकीकत सबको बता दूंगी

हम अंकित और पुलकित चीला रोड पर नहर के किनारे बैठे हुए थे। तभी दोबारा अंकिता और पुलकित के बीच विवाद हुआ। पुलकित ने कहा कि अंकिता हमें अपने साथियों के बीच बदनाम करती है। हमारी बातें अपने दोस्तों को बताती है कि हम उसे कस्टमर से फिजीकल होने के लिए कहते हैं। इस पर अंकिता गुस्सा हो गई और उससे हमारी झड़प हो गई। तब अंकिता ने कहा कि मैं रिजॉर्ट की हकीकत सबको बता दूंगी और इतना कहकर उसने पुलकित का मोबाइल नहर में फेंक दिया। इस पर हमें गुस्सा आ गया। हम नशे में थे, पता नहीं चला कि हम क्या कर रहे हैं।

अंकिता हमसे हाथापाई करने लगी तो हमने गुस्से में उसे धक्का दे दिया और वह नहर में गिर गई। हम घबरा गए और प्लान के तहत रिजॉर्ट पहुंचे। इसके बाद शेफ मनवीर से अंकिता के बारे में पूछा तो उसने कहा कि वो हमारे साथ नहीं थी। प्लान के तहत अंकित ही खाना लेकर अंकिता के कमरे में गया और खाना रखकर आ गया। अगली सुबह पुलकित और अंकित गुप्ता हरिद्वार चले गए और हरिद्वार से पुलकित ने नया मोबाइल और अपने जियो का डमी सिम खरीदा। प्लान के तहत पुलकित ने हमारे रिसॉर्ट में काम करने वाले सौरव बिष्ट को कहा कि अंकिता को कमरे में जाकर उसका फोन ले आओ ताकि सौरव बिष्ट कमरे में जाये और हमें बताये की अंकिता कमरे में नहीं है।"

आरोपियों ने ही अंकिता की रिपोर्ट दर्ज करवाई

हुआ भी कुछ ऐसा ही पुलकित ने ही अंकिता की गुम होने की FIR दर्ज कराई। किसी को शक न हो इसलिए आरोपियों ने ही अंकिता भंडारी की गुमशुदगी की प्राथमिकी भी दर्ज करवाई थी। इसके बाद आरोपियों ने प्लान किया कि तीनों एक जैसे बयान देंगे। इसके लिए तीनों आरोपियों ने सोच समझकर घटना की टाइमिंग सेट की।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन