Tuesday, July 16, 2024
Advertisement

सावरकर पर टिप्पणी कर फंस गए राहुल गांधी? कोर्ट जारी कर सकता है पेशी का नोटिस

28 मई की तारीख को विनायक दामोदर सावरकर की जयंती है। इस बीच राहुल गांधी के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। राहुल पर सावरकर को बदनाम करने के लिए झूठे दावे करने का आरोप लगा है। पुलिस ने इस मामले को प्रथम दृष्टया सच माना है।

Edited By: Subhash Kumar @ImSubhashojha
Updated on: May 28, 2024 9:30 IST
सावरकर मामले में मुश्किल में राहुल गांधी।- India TV Hindi
Image Source : PTI सावरकर मामले में मुश्किल में राहुल गांधी।

लोकसभा चुनाव 2024 के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। वीडी सावरकर के पोते ने राहुल गांधी पर सावरकर को बदनाम करने का आरोप लगाया था। अब पुणे पुलिस ने अदालत में अपनी जांच रिपोर्ट पेश कर दी है जिसमें कहा गया है कि राहुल गांधी के खिलाफ दायर की गई शिकायत में प्रथम दृष्टया सच्चाई है। जानकारी के मुताबिक, अब अदालत इस मामले में राहुल गांधी को पेश होने के लिए नोटिस जारी कर सकती है। आइए जानते हैं क्या है ये पूरा मामला।

क्या है पूरा मामला?

वीडी सावरकर के पोते सत्यकी अशोक सावरकर ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी ने साल 2023 में लंदन में दिए गए एक भाषण में झूठे दावे कर के हिंदुत्व विचारक सावरकर को बदनाम किया था। राहुल गांधी के खिलाफ धारा 499 और 500 के तहत शिकायत दर्ज कराई गई थी। अब सत्यकी सावरकर के वकील ने कहा है कि इस मामले में रिपोर्ट न्यायिक मजिस्ट्रेट (प्रथम श्रेणी) अक्षी जैन की अदालत में प्रस्तुत कर दी गई है। अदालत राहुल गांधी को नोटिस जारी कर पेश होने के लिए कह सकती है।

राहुल गांधी ने क्या कहा था?

दरअसल, शिकायत के अनुसार राहुल गांधी ने अपने भाषण में दावा किया था कि वीडी सावरकर ने एक किताब में लिखा था कि उन्होंने और उनके पांच-छह दोस्तों ने एक बार एक मुस्लिम व्यक्ति की पिटाई की थी और सावरकर को इससे खुशी हुई थी। सत्यकी सावरकर ने कहा था कि ऐसी कोई घटना कभी नहीं हुई थी और वीडी सावरकर ने कभी भी ऐसी कोई बात कहीं नहीं लिखी थी। राहुल गांधी के बयान को काल्पनिक, झूठा और दुर्भावनापूर्ण बताया गया था।

पुलिस ने रिपोर्ट में क्या कहा?

जानकारी के मुताबिक, विश्रामबाग पुलिस ने कोर्ट में अपनी रिपोर्ट पेश कर दी है और अपनी जांच में बताया है कि वीडी सावरकर ने अपनी किसी भी किताब में ऐसी घटना के बारे में नहीं लिखा था। इसके बाद भी राहुल गांधी ने अपने भाषण के दौरान इस तरह की टिप्पणी की और सावरकर को बदनाम किया। पुलिस ने कहा है कि सत्यकी सावरकर द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में प्रथम दृष्टया सच्चाई है। 

ये भी पढ़ें- 'राहुल गांधी को भारतीय सेना में काम करना चाहिए', जनरल वीके सिंह ने क्यों दी ऐसी सलाह

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, कहा- चुनावी घोषणापत्र के वादे भ्रष्ट आचरण का हिस्सा नहीं

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement