Sunday, March 03, 2024
Advertisement

अभिषेक बनर्जी की अगुवाई में तृणमूल कांग्रेस ने किया दिल्ली में प्रदर्शन, कुछ नेताओं को हिरासत में भी लिया गया

तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने दिल्ली में प्रदर्शन किया। इस दौरान टीएमसी के नेता अभिषेक बनर्जी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। वहीं कृष्णानगर से सांसद महुआ मोइत्रा ने आरोप लगाया कि केंद्र पश्चिम बंगाल का बकाया नहीं दे रहा है।

Rituraj Tripathi Edited By: Rituraj Tripathi @riturajfbd
Updated on: October 03, 2023 23:59 IST
Trinamool Congress- India TV Hindi
Image Source : PTI/FILE टीएमसी ने किया प्रदर्शन

नई दिल्ली: तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता अभिषेक बनर्जी की अगुवाई में दिल्ली में तृणमूल कांग्रेस ने जमकर प्रदर्शन किया। हालांकि कृषि भवन के अंदर धरना दे रहे टीएमसी के कुछ नेताओं को हिरासत में भी लिया गया है। प्रदर्शन के दौरान अभिषेक ने केंद्र पर प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि उसने पश्चिम बंगाल को धन जारी करने के लिए दबाव बनाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय राजधानी में एकत्र हुए प्रदर्शनकारियों को डराने की कोशिश की। महात्मा गांधी की जयंती पर यहां राजघाट पर दो घंटे तक धरना देने के एक दिन बाद बनर्जी ने टीएमसी सांसदों,विधायकों और राज्य के मंत्रियों तथा समर्थकों सहित मनरेगा श्रमिकों के साथ राष्ट्रीय राजधानी स्थित जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया। 

टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव बनर्जी ने कहा, ‘‘उन्होंने टीएमसी के 50 नेताओं को रोकने के लिए करीब 5,000 से 10,000 पुलिस कर्मियों, आरएएफ और अन्य बलों को भेजा था। आज यहां सुरक्षाकर्मियों की संख्या को देखकर ऐसा लगता है कि जैसे यहां भारत-चीन युद्ध हो रहा हो।’’ 

उनके साथ मंच पर पार्टी के अन्य नेता भी थे, जो हाथ में तख्तियां लिए हुए थे। उन्होंने मणिपुर का भी जिक्र किया और कहा कि पूर्वोत्तर के इस राज्य में हिंसा जारी है, लेकिन केंद्र सरकार (यहां) प्रदर्शनकारियों को रोकने पर ध्यान दे रही है। टीएमसी नेता ने केंद्र सरकार पर प्रदर्शनकारियों को धमकाने की कोशिश करने का आरोप लगाया और कहा कि अपनी सारी कोशिशों के बावजूद, केंद्र टीमएसी को नहीं रोक सका। 

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी ने भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार पर महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) और प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत राज्य का 15,000 करोड़ रुपये बकाया रखने का आरोप लगाया है। वहीं, भाजपा ने आरोप लगाया कि टीएमसी पश्चिम बंगाल में घोटालों से ध्यान भटकाने के लिए दिल्ली में ‘नाटक’ कर रही है। 

महुआ मोइत्रा ने लगाए ये आरोप

कृष्णानगर से सांसद महुआ मोइत्रा ने आरोप लगाया कि केंद्र बंगाल से कर संग्रह कर रहा है, लेकिन राज्य का बकाया नहीं दे रहा है। टीएमसी नेता ने कहा, 'हम यहां भीख मांगने नहीं आये हैं, बल्कि अपने अधिकार मांगने आये हैं। ममता बनर्जी केवल बंगाल के लिए नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए लड़ रही हैं।' 

उन्होंने आरोप लगाया, 'वे सभी लोग, जो भाजपा और मोदीजी के करीब हैं, वे मजदूर के रूप में काम नहीं करते। ये गरीब लोग हैं, जिन्होंने काम किया लेकिन पारिश्रमिक नहीं मिला। आवास योजना के तहत घर पाने के हकदार 11 लाख लोगों को पैसे नहीं मिले।' केंद्र से धन जारी करने की मांग करते हुए बंगाल के ग्रामीण विकास मंत्री प्रदीप मजूमदार ने कहा कि केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह ने सात नवंबर 2022 को आश्वस्त किया था कि निधि जारी की जाएगी। 

मजूमदार ने कहा, 'बेगूसराय (गिरिराज के निर्वाचन क्षेत्र) के लोगों और बंगाल के गरीब लोगों के बीच कोई अंतर नहीं है।' टीएमसी नेताओं का केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति से मुलाकात करने का कार्यक्रम है, क्योंकि गिरिराज सिंह दिल्ली में नहीं हैं। (इनपुट: भाषा) 

ये भी पढ़ें: 

महाराष्ट्र की सियासत में फिर बड़ी हलचल, अजित पवार हुए नाराज, शिंदे-फडणवीस की अमित शाह के साथ दिल्ली में मीटिंग 

दिल्ली: उमराव ज्वैलर्स के शोरूम में चोरी का मामला, आरोपी लोकेश को रायपुर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को सौंपा, ज्वैलरी भी बरामद

 

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement