1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. बलिया कांड का मुख्य आरोपी है बेरिया विधायक सुरेंद्र सिंह का परिचित, MLA ने इंडिया टीवी पर कबूला

बलिया कांड का मुख्य आरोपी है बेरिया विधायक सुरेंद्र सिंह का परिचित, MLA ने इंडिया टीवी पर कबूला

बेरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने इंडिया टीवी से बात करते हुए कबूल किया कि वह बलिया गोलीकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को जानते हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: October 16, 2020 12:45 IST
बलिया कांड का मुख्य आरोपी है बेरिया विधायक सुरेंद्र सिंह का परिचित, MLA ने इंडिया टीवी पर कबूला- India TV Hindi
बलिया कांड का मुख्य आरोपी है बेरिया विधायक सुरेंद्र सिंह का परिचित, MLA ने इंडिया टीवी पर कबूला

नई दिल्ली: बेरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने इंडिया टीवी से बात करते हुए कबूल किया कि वह बलिया गोलीकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को जानते हैं। आरोपी धीरेंद्र सिंह से जान-पहचान को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा,"मैं जानता हूं, धीरेंद्र प्रताप सिंह सेना के रिटायर्ड व्यक्ति हैं और बेरिया तहसील के सेना संगठन के अध्यक्ष भी हैं।

वहीं, पीड़ित परिवार की ओर से धीरेंद्र प्रताप को विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी बाए जाने को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, "मुझे 70 हजार लोगों ने वोट दिया है। तो 70 हजार लोग हमारे करीबी हुए। मैं बेरिया का विधायक हूं, तो यहां के लाखों लोग मेरे करीबी हैं। हमारे यहां आते हैं, जाते हैं। उनके दुख सुनता हूं और मदद करता हूं।"

विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा, "करीबी तो सब माने जा सकते हैं लेकिन करीबी होने के नाते किसी को गोली चलाने या डकैती करने की इजाजत नहीं है। संविधान में जो भी व्यवस्था होगी, उसके तहत उसे दंड मिलेगा।" उन्होंने कहा, "गोली चलाने के संबंध में उन्हें दंड मिले। लेकिन, लाठी-ठंडे, ईंट-पत्थर से महिलाओं को घायल करने वालों को भी दंड दिलाने के लिए सोचना चाहिए।"

वहीं, इस घटना को लेकर विपक्ष राज्य सरकार पर निशाना साध रहा है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, "बलिया में सत्ताधारी भाजपा के एक नेता के, एसडीएम और सीओ के सामने खुलेआम, एक युवक की हत्या कर फ़रार हो जाने से उप्र में क़ानून व्यवस्था का सच सामने आ गया है। अब देखें क्या एनकाउंटरवाली सरकार अपने लोगों की गाड़ी भी पलटाती है या नहीं।"

अखिलेश यादव के अलावा राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रिमो मायावती ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था दम तोड़ चुकी है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ''उत्तर प्रदेश के बलिया की हुई घटना अति-चिन्ताजनक तथा अब भी महिलाओं एवं बच्चियों पर आये दिन हो रहे उत्पीड़न आदि से यह स्पष्ट हो जाता है कि यहाँ कानून-व्यवस्था दम तोड़ चुकी है। सरकार इस ओर ध्यान दे तो यह बेहतर होगा। बसपा की यह सलाह।''

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के बलिया स्थित दुर्जन बैरिया में सरकारी कोटे की दुकान को लेकर हुए विवाद में एसडीएम और सीओ के सामने दिनदहाड़े एक युवक की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। यह घटना दुर्जनपुर गांव की बताई जा रही है। गोली चलते ही वहां भगदड़ मच गई। गोली लगने से घायल युवक को तत्‍काल अस्‍पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

मौके से अफसर समेत सभी लोग भाग निकले। भगदड़ का फायदा उठाकर आरोपी भाजपा नेता धीरेंद्र सिंह भी फरार हो गया। बाद में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। वहीं, मामले का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तुरंत ही घटनास्थल पर मौजूद एसडीएम, सीओ सहित सभी पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X