1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. कांग्रेस की ओर से भेजी बसों की लिस्ट में 460 बसें फर्जी और 297 बसें कबाड़ हैं- डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा

कांग्रेस की ओर से भेजी बसों की लिस्ट में 460 बसें फर्जी और 297 बसें कबाड़ हैं- डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि कांग्रेस ने जो बसों की लिस्ट दी है उसमें आधी बसें फर्जी हैं। कांग्रेस की बसों के पास फिटनेस सर्टिफिकेट नहीं है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 20, 2020 13:58 IST
Uttar Pradesh Deputy Chief Minister Dinesh Sharma- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Uttar Pradesh Deputy Chief Minister Dinesh Sharma

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों को लेकर कांग्रेस पार्टी की ओर से मांगी गई 1000 बसों का मुद्दा गरमा गया है। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि कांग्रेस ने जो बसों की लिस्ट दी है उसमें आधी बसें फर्जी हैं। कांग्रेस की बसों के पास फिटनेस सर्टिफिकेट नहीं है। अनफिट बसों को चलाना मजदूरों की जान के साथ खिलवाड़ करना है। दिनेश शर्मा ने कहा कि कांग्रेस की 460 बसें फर्जी हैं, 297 बसें कबाड़ हैं जबकि 68 बसों के पास पेपर ही नहीं हैं। 

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कबा कि 'जब कांग्रेस द्वारा भेजी गई बसों की सूची का विश्लेषण किया गया तो पाया गया कि ये बसें राजस्थान सरकार की हैं और इनमें से 460 वाहन फर्जी निकले। आपदा के वक्त इतना घिनौना मजाक शायद इससे पहले किसी बड़े राजनीतिक दल ने कभी नहीं किया होगा।' 

बता दें कि, यूपी के औरैया जिले में भीषण सड़क हादसे में 26 प्रवासी मजदूरों की सड़क हादसे में मौत के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्विट कर यूपी सरकार को पत्र लिखकर कांग्रेस की तरफ से 1000 बसें चलाने की अनुमित मांगी थी। इस पत्र के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रियंका गांधी के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए हुए 1000 बसों का इंतजाम करने कहा। साथ ही यह भी कहा गया कि वे बसों के नंबर्स के साथ-साथ चालक/परिचालक (ड्राइवर-कंडक्टर) की जानकारी भी मुहैया कराएं। कुछ ही देर में कांग्रेस की ओर से जवाब भी आ गया। इसमें बताया गया कि बसों के नंबर मेल में अटैच हैं। 

फिर यूपी सरकार की ओर से जब इन नंबरों की जांच की गई तो इनमें से कई गाड़ियों के नंबर तो मोटरसाइकल, स्कूटर, थ्री वीलर के मिले। इस घटना पर योगी सरकार की ओर से नाराजगी भी जताई गई। योगी सरकार में मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा था कि कांग्रेस की ओर से भेजी गई सूची की हमने शुरुआती जांच कराई है। यह पता चला है कि जिन बसों का विवरण भेजा गया है, उनमें से कई वाहन दोपहिया, ऑटो और माल ढोने वाली गाड़ियां हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण हैं, सोनिया गांधी को जवाब देना चाहिए कि कांग्रेस इस तरह की धोखाधड़ी क्यों कर रही है। कांग्रेस पर जोरदार हमला करते हुए जवाब में चार सवाल पूछे। 

योगी ने पूछे ये चार सवाल

योगी ने पूछे ये चार सवाल

उधर, लखनऊ के हजरतगंज थाने में आईपीसी की धारा 420/467/468 के तहत प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह, यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। मामला लगातार बढ़ रहा है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X