FIFA World Cup 2022: खून से सना है कतर का फीफा वर्ल्ड कप स्टेडियम, टॉप ऑफिशियल ने उठाया चौंकाने वाले सच से पर्दा

FIFA World Cup 2022: कतर में जारी फुटबॉल वर्ल्ड कप के लिए कई साल तक निर्माण कार्य हुआ। इस पर लगभग 200 बिलियन डॉलर का खर्च आया और इस दौरान कई हादसे हुए जिसे छिपाया गया।

Ranjeet Mishra Written By: Ranjeet Mishra @MishraRanjeet23
Published on: November 29, 2022 18:35 IST
FIFA World Cup 2022 construction workers in Qatar - India TV Hindi
Image Source : GETTY FIFA World Cup 2022 construction workers in Qatar

FIFA World Cup 2022: कतर में चल रहे फीफा वर्ल्ड कप शुरू होने से कई साल पहले से विवादों में रहा। शुरुआत में इस एशियाई देश को  मिली इस मेगा इवेंट की मेजबानी पर विवाद हुआ। इसके बाद, स्टेडियम के निर्माण के दौरान मजदूरों के हालात और उनकी मौतों के आंकड़े पर भी विवाद हुआ। बहरहाल फुटबॉल वर्ल्ड कप शुरू हो चुका है और दुनिया इस टूर्नामेंट का मजा ठीक उसी तरह से ले रही है जिस तरह से उसने पिछली बार रूस में और उससे पहले ब्राजील में हुए वर्ल्ड कप का लिया था। लेकिन इन सबके बीच इस वर्ल्ड कप को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।   

वर्ल्ड कप स्टेडियम के निर्माणकार्य से जुड़े सैकड़ों लोगों की हुई मौतें

FIFA World Cup 2022 construction workers in Qatar

Image Source : GETTY
FIFA World Cup 2022 construction workers in Qatar

वर्ल्ड कप के आयोजन से जुड़े कतर के एक टॉप ऑफिशियल ने पहली बार टूर्नामेंट से जुड़े मजदूरों की मौत के आंकड़ों के बारे में एक बड़ा खुलासा किया है। जारी नए आंकड़े कतर के द्वारा बताए गए पहले के आंकड़ों से काफी बड़े हैं। इस शीर्ष अधिकारी के मुताबिक निर्माणकार्य के दौरान कम से कम 400 से 500 मजदूरों ने अपनी जानें गंवाई। यह दोहा की ओर से इससे पहले बताई गई किसी भी संख्या से काफी अधिक है। कतर की ‘डिलीवरी और लीगेसी’ से जुड़ी टॉप कमिटी के महासचिव हसन अल-थावाडी ने ब्रिटिश पत्रकार पियर्स मोर्गन को इंटरव्यू के दौरान यह आंकड़ा बताया।

टॉप ऑफिशियल ने मजदूरों की मौतों के सच से उठाया पर्दा

मोर्गन ने इंटरव्यू का एक हिस्सा ऑनलाइन डाला है जिसमें वह हसन से पूछते हैं, ‘‘वर्ल्ड कप से जुड़े काम करने के दौरान प्रवासी श्रमिकों की मौत से जुड़ा ईमानदार, सही आंकड़ा क्या है?’’ हसन ने कहा, ‘‘अनुमान 400 के आसपास है, 400 और 500 के बीच। मेरे पास सटीक नंबर नहीं है।’’

पहले बताए गए आंकड़ों को झुठला रहा है नया खुलासा

इस आंकड़े पर इससे पहले सार्वजनिक रूप से चर्चा नहीं की गई थी। 2014 से 2021 के अंत तक की शीर्ष समिति की रिपोर्ट में सिर्फ वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाले स्टेडियमों के निर्माण और नवीनीकरण में शामिल मजदूरों की मृत्यु की संख्या शामिल थी। आधिकारिक तौर पर पहले जारी किए गए आंकड़ों में मौतों की कुल संख्या 40 बताई गई है।

बता दें कि पश्चिम एशिया को पहली बार मिली पहले वर्ल्ड कप की मेजबानी के बाद कतर ने 200 अरब डॉलर से ज्यादा के स्टेडियम, मेट्रो लाइन और टूर्नामेंट के लिए जरूरी नए बुनियादी ढांचों का निर्माण कराया। ये तमाम मौतें इन्हीं निर्माणों के दौरान हुए बताए गए हैं।

कतर पर मानवाधिकार समूहों का तेज हो सकता है हमला

मजदूरों की मौतों के नए आंकड़ों के सामने आने के बाद दुनिया भर के तमाम मानवाधिकार समूहों द्वारा आलोचना और तेज होने की आशंका है। तमाम ह्यूमन राइट्स ग्रुप निर्माण के दौरान प्रवासी मजदूरों की मौत के आंकड़ों के लिए कतर की आलोचना करते रहे हैं। शीर्ष समिति और कतर की सरकार ने मंगलवार को जारी इस आंकड़े पर कोई भी रिएक्शन नहीं दिया।

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन

लाइव स्कोरकार्ड