Columbia News: कोलंबिया के राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे पूर्व विद्रोही पेट्रो, जून में जीता था चुनाव

Columbia News: पूर्व विद्रोही पेट्रो की जीत कोलंबिया के लिए असाधारण भी है क्योंकि देश में मतदाता पहले से ही वामपंथी नेताओं का समर्थन नहीं करते थे। वामपंथी नेताओं पर अक्सर अपराध पर नरम रवैया रखने या गुरिल्लाओं से सहानुभूति रखने का आरोप लगाया जाता है।

Shailendra Tiwari Edited By: Shailendra Tiwari @@only_Shailendra
Published on: August 07, 2022 14:04 IST
Gustavo Petro- India TV Hindi News
Image Source : PTI Gustavo Petro

Highlights

  • पहले वामपंथी राष्ट्रपति बने गुस्तावो पेट्रो
  • 19 जून 2022 को हुए राष्ट्रपति चुनाव के दूसरे दौर में 50.5% वोट हासिल किया
  • जनता से किए कई वादे

Columbia News: कोलंबिया के पहले वामपंथी राष्ट्रपति रविवार को पद की शपथ लेंगे। गुस्तावो पेट्रो पूर्व विद्रोही भी हैं। उन्होंने असमानता से लड़ने और सरकार और गुरिल्ला समूहों के बीच लंबे समय तक चले युद्ध से पीड़ित देश के इतिहास में अहम बदलाव लाने का वादा किया है। कोलंबिया के M-19 गुरिल्ला समूह के पूर्व सदस्य गुस्तावो पेट्रो ने कंजर्वेटिव दलों को हराकर जून में चुनाव जीता था। उन्होंने 19 जून 2022 को हुए राष्ट्रपति चुनाव के दूसरे दौर में 50.5% वोट हासिल किया।

पहले रह चुके हैं विद्रोही

पूर्व विद्रोही पेट्रो की जीत कोलंबिया के लिए असाधारण भी है क्योंकि देश में मतदाता पहले से ही वामपंथी नेताओं का समर्थन नहीं करते थे। वामपंथी नेताओं पर अक्सर अपराध पर नरम रवैया रखने या गुरिल्लाओं से सहानुभूति रखने का आरोप लगाया जाता है। कोलंबिया की सरकार और सशस्त्र गुटों के बीच 2016 में हुए शांति समझौते के बाद से मतदाताओं का ध्यान हिंसक संघर्षों से हटकर गरीबी और भ्रष्टाचार जैसी समस्याओं की ओर केंद्रित हुआ। 

इसने 1970 के चुनावों में धोखाधड़ी के दावों के बाद हिंसा के माध्यम से सत्ता हासिल करने की मांग की। पेट्रो ने अवैध हथियार रखने के आरोप में जेल में समय बिताया। वह 17 साल की उम्र में शहरी सैन्य समूह में शामिल हो गए। M-19 को 1990 में बंद कर दिया गया था और इसे एक राजनीतिक दल में रूपांतरित कर दिया गया था।नवनिर्वाचित राष्ट्रपति अब भंग ‘एम-19’ आंदोलन में शामिल थे और समूह के साथ भागीदारी के आरोप में जेल की सजा के बाद उन्हें माफी दी गई थी। 

पेट्रो ने जनता से किए कई वादे

62 वर्षीय गुस्तावो पेट्रो ने गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों पर खर्च और ग्रामीण इलाकों में निवेश बढ़ाकर कोलंबिया की सामाजिक और आर्थिक असमानताओं को दूर करने का वादा किया है। उन्होंने यह भी कहा है कि वह मादक पदार्थ के रास्तों, सोने की खदानों और अन्य संसाधनों को लेकर लड़ रहे शेष विद्रोही समूहों के साथ शांति वार्ता शुरू करना चाहते हैं।

Latest World News

navratri-2022