Wednesday, June 12, 2024
Advertisement

चीन में अमेरिकी नागरिकों पर हुआ हमला, पार्क में चाकू से किए गए ताबड़तोड़ वार

अमेरिका के चार कॉलेज इंस्ट्रक्टर पर चीन के एक पार्क में चाकू से हमला किया गया है। हमले में चारों गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। अमेरिकी नागरिकों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

Edited By: Amit Mishra @AmitMishra64927
Updated on: June 11, 2024 12:14 IST
American Citizens Stabbed in China (सांकेतिक तस्वीर)- India TV Hindi
Image Source : AP American Citizens Stabbed in China (सांकेतिक तस्वीर)

बीजिंग: पूर्वोत्तर चीन के बीहुआ विश्वविद्यालय में अध्यापन कर रहे आयोवा के कॉर्नेल कॉलेज के चार प्रशिक्षकों पर एक पार्क में चाकू से हमला किया गया है। अमेरिकी स्कूल और विदेश विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। कॉर्नेल कॉलेज के अध्यक्ष जोनाथन ब्रांड ने एक बयान में कहा कि जब प्रशिक्षक बीहुआ के एक संकाय सदस्य के साथ पार्क में थे, उसी समय उन पर हमला हुआ। बीहुआ औद्योगिक शहर जिलिन के बाहरी हिस्से में स्थित है। हमलावार घटना को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गए।

स्थिति पर है नजर 

अमेरिकी विदेश विभाग ने एक बयान में बताया कि वह चाकू मारने की खबरों से अवगत है और स्थिति पर नजर रख रहा है। प्रशिक्षकों को कितनी चोट पहुंची और हमला साजिशन था या कोई और कारण था, इन सब के बारे में अब तक स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी है। कॉर्नेल के प्रवक्ता जेन वाइजर ने एक ईमेल में कहा कि कॉलेज घटना के बारे में अब भी जानकारी जुटा रहा है। 

चीन ने नहीं दी तवज्जो

अमेरिकी नागरिकों पर हुए हमले की खबर को चीन ने तवज्जो नहीं दी गई है। यह हमला ऐसे समय पर हुआ जब बीजिंग और वाशिंगटन दोनों ही व्यापार और ताइवान, दक्षिण चीन सागर और यूक्रेन युद्ध जैसे अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर तनाव के बीच संबंधों को मजबूत करने के लिए संपर्क को बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं।  (एपी)

यह भी पढ़ें:

UNSC ने इजराइल-हमास के बीच संघर्ष विराम प्रस्ताव को दी मंजूरी, लेकिन यहां फंसा है पेंच

विदेश मंत्री बनते ही एस जयशंकर ने चीन-पाकिस्तान को लेकर साफ किया रुख, बताया क्या करने वाला है भारत

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement