Sunday, July 14, 2024
Advertisement

भारत-बांग्लादेश के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए पीएम मोदी और शेख हसीना में हुई क्या बात, यहां जानें

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देने के लिए 2 दिनों की भारत यात्रा पर हैं। उन्होंने पीएम मोदी से व्यापार, ऊर्जा और संपर्क क्षेत्र को लेकर गहन विचार विमर्श किया। दोनों देश तमाम मुद्दों पर एक साथ चलने को सहमत हुए।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: June 22, 2024 14:14 IST
पीएम मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना।- India TV Hindi
Image Source : PTI पीएम मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना।

नई दिल्लीः बांग्लेदेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने महज 15 दिन में दूसरी बार भारत का दौरा करके पड़ोसी देशों में हलचल मचा दी है। दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए नई दिल्ली में  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ शनिवार को व्यापार और संपर्क सहित विविध क्षेत्रों में सहयोग को और बढ़ाने के लिए व्यापक बातचीत की। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शुक्रवार से दो दिवसीय भारत यात्रा पर हैं।

लोकसभा चुनाव के बाद भारत में नयी सरकार के गठन के बाद, किसी विदेशी नेता की यह पहली द्विपक्षीय यात्रा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जायसवाल ने सोशल मीडिया ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में लिखा,‘‘ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने द्विपक्षीय वार्ता से पहले हैदराबाद हाउस में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना का गर्मजोशी से स्वागत किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ दोनों नेता 2019 से दस बार मुलाकात कर चुके हैं, जिससे रिश्तों में अभूतपूर्व बदलाव आया है।’’ बांग्लादेश की प्रधानमंत्री हसीना ने सुबह राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

व्यापार और ऊर्जा के क्षेत्र में व्यापक  विमर्श

इस वक्त दुनिया ऊर्जा के भारी संकट से जूझ रही है। इसलिए पीएम मोदी का फोकस ऊर्जा जरूरतों पर ज्यादा रहा। प्रधानमंत्री के साथ वार्ता से पहले हसीना का राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में रस्मी स्वागत किया गया। अधिकारियों ने बताया कि मोदी-हसीना वार्ता का मुख्य उद्देश्य व्यापार, संपर्क और ऊर्जा के क्षेत्रों सहित द्विपक्षीय संबंधों को नई गति प्रदान करना है। हसीना भारत के पड़ोसी और हिंद महासागर क्षेत्र के उन सात शीर्ष नेताओं में शामिल थीं, जो नौ जून को राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए थे। पिछले कुछ वर्षों में भारत और बांग्लादेश के बीच समग्र सामरिक संबंध तेजी से बढ़े हैं। (भाषा) 

यह भी पढ़ें

कौन है बिचौलिया संजय भंडारी? जो भारतीय एजेंसियों से बचने के लिए भाग चुका है ब्रिटेन, अब लंदन की कोर्ट ने दी जमानत


अमेरिका में दुकान के अंदर हमलावर ने दिनदहाड़े बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, 3 लोगों की मौत और 10 घायल
 

 

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement