1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दिल्ली: Coronavirus के मामलों में सबसे बड़ा उछाल, सामने आए 428 नए केस, कुल 5532 लोग संक्रमित

दिल्ली: Coronavirus के मामलों में सबसे बड़ा उछाल, सामने आए 428 नए केस, 5532 हुई कुल संक्रमितों की संख्या

दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 5532 पहुंच गई है। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को कोरोना वायरस के 428 नए पॉजिटिव केस सामने आए।

Bhaskar Mishra Bhaskar Mishra
Updated on: May 07, 2020 0:51 IST
दिल्ली: Coronavirus के मामलों में सबसे बड़ा उछाल, सामने आए 428 नए केस, 5532 हुई कुल संक्रमितों की सं- India TV Hindi
दिल्ली: Coronavirus के मामलों में सबसे बड़ा उछाल, सामने आए 428 नए केस, 5532 हुई कुल संक्रमितों की संख्या

नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 5532 पहुंच गई है। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को कोरोना वायरस के 428 नए पॉजिटिव केस सामने आए। संक्रमण के मामलों की यह एक दिन में सबसे अधिक वृद्धि है। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने बुलेटिन जारी कर बताया कि बुधवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से एक शख्स की मौत हुई, जिसके साथ ही यहां मरने वालों की संख्या 65 हो गई।

हालांकि, दिल्ली के लिए राहत की खबर यह है कि बुधवार को कोरोना वायरस के 74 और मरीजों के ठीक होने से कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या अब 1542 हो गई है। यह आंकड़ा कुल मरीजों की संख्या के एक चौथाई से ज्यादा है। स्वास्थ्य विभाग ने बुलेटिन में बताया कि दिल्ली में अब तक 71,934 लोगों की जांच हो चुकी है।

दिल्ली में भले ही कोरोना वायरस के मामलों में बढोतरी हो रही है लेकिन हॉटस्पॉट के इलाकों की संख्या में कमी आ रही है। आज दिल्ली के एक और कंटेनमेंट जोन को डिकंटेंड कर दिया गया है। यानी यह इलाका कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हो चुका है। आज पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर गली नंबर-9 को डिकंटेंड घोषित किया गया। 

इस संबंध में पूर्वी दिल्ली के डीएम अरुण कुमार मिश्रा की ओर से आदेश जारी किया गया है। दिल्ली में अबतक 13 हॉटस्पॉट के इलाकों को डिकंटेंड घोषित किया जा चुका है। ऐसे में एक तरफ कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी होती जा रही है तो दूसरी ओर कोरोना वायरस के फैलाव का दायरा घट रहा है।

इसी बीच बुधवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्रालय ने निजामुद्दीन मरकज में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए तबलीगी जमात के उन सभी लोगों को घर जाने की अनुमति दे दी है, जिन्हें प्रशासन की ओर से क्वारंटाइन में रखा गया था। इसके साथ ही जो जमाती पहले पॉजिटिव पाए गए थे और अब इलाज के बाद ठीक हो गए हैं, उन्हें भी जाने की अनुमति दी गई है। 

दिल्ली के स्वास्थ्य और गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने इससे संबंधित आदेश जारी किए हैं। आदेश में कहा गया है कि निजामुद्दीन मरकज/तबलीगी जमात के ठीक हुए सभी लोगों को घर जाने दिया जाए और क्योंकि सभी का क्वारंटाइन पीरियड भी पूरा हो चुका है तो बाकियों को भी घर जाने दिया जाए। 

हालांकि, आदेश में साफ तौर पर कहा गया है कि निजामुद्दीन मरकज में हुए कार्यक्रम में शामिल जिस भी शख्स पर मुकदमा है, उस पर पुलिस कार्रवाई करे। आदेश में कहा गया है कि निजामुद्दीन मरकज की घटना में इनमें से तबलीगी जमात के जिन सदस्यों के नाम दर्ज किये गये हैं और जांच के लिये उनकी जरूरत है, उन्हें दिल्ली पुलिस की हिरासत में भेजा जाएगा। 

आदेश में कहा, "शेष सभी को उनके गृह राज्य भेज दिया जाए इसके लिए दिल्ली सरकार के गृह विभाग को राज्यों के रेजीडेंट कमिश्नर से संपर्क करने को कहा गया है।" गौरतलब है कि तबलीगी जमात के हजारों सदस्य निजामुद्दीन मरकज में एक धार्मिक कार्यक्रम में इकट्ठा हुए थे।

जानकारी मिलने के बाद इन सदस्यों को वहां से निकाला गया था। जांच में बड़ी संख्या में संक्रमण के मामले मिलने से यह स्थान कोरोना वायरस के हॉटस्पॉट के रूप में उभरा था। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। दिल्ली: Coronavirus के मामलों में सबसे बड़ा उछाल, सामने आए 428 नए केस, कुल 5532 लोग संक्रमित News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन
Write a comment
X