अग्निवीर परीक्षा में हुआ भयंकर फर्जीवाड़ा, आर्मी इंटेलिजेंस ने मध्य प्रदेश से पकड़े 15 लड़के

इनके पास से डुप्लीकेट मूल निवास प्रमाण पत्र और मार्कशीट पाई गई है। फिलहाल इन लोगों से पुलिस और आर्मी इंटेलीजेंस पूछताछ कर रही है‌। अग्निवीर भर्ती दौड़ में भाग लेने के बाद पास होने वाले अभ्यार्थियों के दस्तावेजों का वेरिफिकेशन चल रहा था, जिसमें फर्जी दस्तावेजों का शक़ होने पर 15 अभ्यार्थियों को पकड़ा गया है।

Anurag Amitabh Reported By: Anurag Amitabh @@anuragamitabh
Updated on: November 03, 2022 6:49 IST
अग्निवीर परीक्षा में हुआ भयंकर फर्जीवाड़ा- India TV Hindi
Image Source : PTI अग्निवीर परीक्षा में हुआ भयंकर फर्जीवाड़ा

अग्निवीर परीक्षा, जिसे लेकर युवाओं में अच्छा खासा जोश देखने को मिल रहा है, उस परीक्षा में एक फर्जीवाड़ा सामने आया है। दरअसल, मध्य प्रदेश में जब यह भर्ती हो रही थी, तो वहां आर्मी इंटेलिजेंस की नजर कुछ लड़कों पर पड़ी जिनके दस्तावेज सही नहीं लग रहे थे। जब अच्छे से जांच की गई तो पता चला कि इन लड़कों ने फर्जी कागजात बनवा लिए थे और इसी के सहारे वह इस भर्ती में शामिल होना चाह रहे थे। यह पूरी घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में हुई है।

दरअसल, राजधानी भोपाल के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में अग्निवीर भर्ती परीक्षा में फर्जी मूल निवासी प्रमाण पत्र देने के आरोप में आर्मी इंटेलिजेंस ने 15 अभ्यर्थियों को पकड़ा है। परीक्षार्थियों ने मध्य प्रदेश में फर्जी मूल निवासी प्रमाण पत्र बनवाए जबकि यह सभी उत्तर प्रदेश के निवासी हैं।

फर्जी सर्टिफिकेट के साथ पकड़े गए लड़के

भोपाल के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में सेना की अग्निवीर सैनिकों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है, जिसमें 9 जिलों के करीब 44 हजार युवाओं ने रजिस्ट्रेशन करवाया हुआ है। अब तक करीब 20 हजार युवा भर्ती में भाग ले चुके हैं, लेकिन इसी प्रक्रिया के बीच भोपाल में अग्निवीर भर्ती परीक्षा के 6वें दिन एमपी के फर्जी दस्तावेज के साथ यूपी के 15 अभ्यार्थियों को आर्मी इंटेलिजेंस ने पकड़ा है।

एक संदिग्ध वीडियो बना रहा था

इनके पास से डुप्लीकेट मूल निवास प्रमाण पत्र और मार्कशीट पाई गई है। फिलहाल इन लोगों से पुलिस और आर्मी इंटेलीजेंस पूछताछ कर रही है‌। अग्निवीर भर्ती दौड़ में भाग लेने के बाद पास होने वाले अभ्यार्थियों के दस्तावेजों का वेरिफिकेशन चल रहा था, जिसमें फर्जी दस्तावेजों का शक़ होने पर 15 अभ्यार्थियों को पकड़ा गया है। इनसे फर्जी दस्तावेज बनाने वाले रैकेट का खुलासा होने की संभावना जताई जा रही है।‌ भोपाल जोन के डीसीपी साईं कृष्णा ने इस मामले पर कहा कि इससे पहले भी आर्मी ने लाल परेड ग्राउंड से एक संदिग्ध को भी गिरफ्तार किया था, जो परेड का वीडियो बना रहा था।

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन