1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. इलेक्‍शन
  4. इलेक्‍शन न्‍यूज
  5. यूपी चुनाव: सपा के फ्री बिजली वादे पर योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, जानिए क्या कहा

यूपी चुनाव 2022: सपा के फ्री बिजली वादे पर योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, जानिए क्या कहा

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, 2017 से पहले बिजली आती ही नहीं थी, जो आज कह रहें कि 300 यूनिट बिजली मुफ्त में देंगे। तो इनसे पूछना चाहिए कि पहले बिजली आती नहीं थी और जब बिजली ही नहीं आएगी तो आप बिजली फ्री में देने की बात कैसे कर रहे हैं?

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 23, 2022 16:55 IST
यूपी चुनाव 2022: सपा के फ्री बिजली वादे पर योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, जानिए क्या कहा- India TV Hindi
Image Source : ANI यूपी चुनाव 2022: सपा के फ्री बिजली वादे पर योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, जानिए क्या कहा

Highlights

  • कोरोना कालखंड में कांग्रेस, सपा और बसपा मैदान से गायब थी- योगी आदित्यनाथ
  • योगी आदित्यनाथ ने गाज़ियाबाद के कई इलाकों में डोर-टू-डोर कैंपन किया
  • भाजपा सरकार ने 2017 के संकल्प पत्र के एक-एक वादे को पूरा किया है- योगी आदित्यनाथ

Uttar Pradesh Vidhan Sabha Chunav 2022: उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गाज़ियाबाद के मोहन नगर, साहिबाबाद समेत कई इलाकों में डोर-टू-डोर कैंपन किया। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री वीके सिंह भी मौजूद रहे। गाजियाबाद पहुंचे यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा सरकार ने 2017 के संकल्प पत्र के एक-एक वादे को पूरा किया है। सीएम योगी ने इस दौरान विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। 

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, 2017 से पहले बिजली आती ही नहीं थी, जो आज कह रहें कि 300 यूनिट बिजली मुफ्त में देंगे। तो इनसे पूछना चाहिए कि पहले बिजली आती नहीं थी और जब बिजली ही नहीं आएगी तो आप बिजली फ्री में देने की बात कैसे कर रहे हैं?

गाज़ियाबाद में UP के CM योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना कालखंड में कांग्रेस, सपा और बसपा मैदान से गायब थी, सिर्फ केंद्र और प्रदेश सरकार या बीजेपी  के कार्यक्रता एक-एक लोग का जीवन बचाने के लिए जद्दोजहद कर रही थी। जो संकट के समय आपका साथी नहीं तो उस व्यक्ति को आप चुनाव के समय अपना साथी कैसे चुन सकते हैं। 

 गाज़ियाबाद में उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य का बुंदेलखंड क्षेत्र सबसे ज़्यादा सूखा ग्रस्त माना जाता था। वहां ट्रेन में पानी पहुंचाया जाता था। हमारी सरकार में ट्रेन चलाने की नौबत नहीं आई। जल जीवन मिशन के तहत बुंदेलखंड के हर घर में पानी पहुंचाने की कार्यवाही संपन्न की।

erussia-ukraine-news