1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. 'सूरज पे मंगल भारी' में मेरे काम की तुलना मनोज वाजपेयी से न करें : दिलजीत दोसांझ

'सूरज पे मंगल भारी' में मेरे काम की तुलना मनोज वाजपेयी से न करें : दिलजीत दोसांझ

दिलजीत दोसांझ मुंबई में रविवार को अभिनेत्री सना फातिमा शेख और फिल्म निर्माता अभिषेक शर्मा के साथ हाल ही में रिलीज हुई फिल्म के बारे में दर्शकों की प्रतिक्रिया जानने के लिए पास की सिनेमाघर गए, जहां उन्होंने मीडिया से बातचीत की।

India TV Entertainment Desk India TV Entertainment Desk
Updated on: November 18, 2020 20:46 IST
'सूरज पे मंगल भारी'...- India TV Hindi
Image Source : YOUTUBE SCREENGRAB 'सूरज पे मंगल भारी' में मेरे काम की तुलना मनोज वाजपेयी से न करें : दिलजीत दोसांझ

मुंबई: सिंगर-एक्टर दिलजीत दोसांझ का कहना है कि फिल्म 'सूरज पे मंगल भारी' में उनके काम की तुलना बहुआयामी अभिनेता मनोज बाजपेयी से न की जाए। दिलजीत दोसांझ मुंबई में रविवार को अभिनेत्री सना फातिमा शेख और फिल्म निर्माता अभिषेक शर्मा के साथ हाल ही में रिलीज हुई फिल्म के बारे में दर्शकों की प्रतिक्रिया जानने के लिए पास की सिनेमाघर गए, जहां उन्होंने मीडिया से बातचीत की।

फिल्म को लेकर क्रिटिक और दर्शकों ने दिलजीत की तुलना अभिनेता मनोज वाजपेयी से कर रहे हैं, जिस पर दिलजीत ने कहा, "वह लिविग लिजेंड हैं। मैंने बचपन के दिनों से ही उनकी फिल्में देखी हैं और मैं उनके काम से हमेशा प्रेरित हुआ हूं। मेरा जन्म 1984 में हुआ था, शूटिंग के दौरान उन्होंने बताया कि उस दौरान वे थिएटर प्ले करने के लिए पंजाब आते थे, इसलिए मुझे नहीं लगता कि फिल्म में मेरे प्रदर्शन की तुलना उनके प्रदर्शन से करने की जरूरत है।"

suraj pe mANGAL BHARI

Image Source : INSTAGRAM/MANOJBAJPAYEE
'सूरज पे मंगल भारी' में मेरे काम की तुलना मनोज वाजपेयी से न करें : दिलजीत दोसांझ

'सूरज पे मंगल भारी' में मेरे काम की तुलना मनोज वाजपेयी से न करें : दिलजीत दोसांझ

 दिलजीत दोसांझ को  'सूरज पे मंगल भारी' के लिए मराठी सीखनी पड़ी और उन्होंने स्वीकार किया कि नई भाषा सीखना कोई आसान काम नहीं था। उन्होंने कहा, "प्यार के लिए आदमी को जो न करना पड़ जाए। मेरे किरदार को उनकी प्रेमिका के लिए मराठी सीखनी पड़ी और मुझे अपनी फिल्म के प्रति प्यार के लिए ऐसा करना पड़ा। मेरा किरदार फिल्म में काफी बार मराठी बोलता है। वह बॉम्बे का एक लड़का है, इसलिए यह उसके बोलचाल का एक हिस्सा है।"

उन्होंने आगे कहा, "एक नई भाषा को चुनना हमेशा कठिन होता है, लेकिन इस फिल्म में इसकी जरूरत थी। यह प्रामाणिक लगा। इसलिए जब मेरे चरित्र को फातिमा के चरित्र को लुभाना था, तो उसने प्यारे मराठी पंक्तियों का उपयोग किया। वे दृश्य थोड़े हृदयस्पर्शी हैं। स्क्रीन पर किरदार को जीवंत करने के लिए की गई मेहनत जब रंग लाती है तो उसे देखकर बहुत खुशी होती है।"

मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड टाइटल जीतने के 3 साल पूरे, याद किया वो पल

अभिषेक शर्मा द्वारा निर्देशित कॉमेडी ड्रामा 15 नवंबर को रिलीज हुई। कोविड-19 लॉकडाउन के कारण लंबे ब्रेक के बाद सिनेमाघरों के दोबारा खुलने के बाद यह पहली नई बॉलीवुड रिलीज है।

दिलजीत ने ट्वीट कर उन प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया, जिन्होंने महामारी के दौरान फिल्म देखने का फैसला किया।

इनपुट- आईएएनएस

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Write a comment