1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. कमर-गर्दन के हर दर्द को छूमंतर कर देंगे ये कारगर आयुर्वेदिक नुस्खे, रीढ़ रहेगी हमेशा फिट

कमर-गर्दन के हर दर्द को छूमंतर कर देंगे ये कारगर आयुर्वेदिक नुस्खे, रीढ़ रहेगी हमेशा फिट

स्पाइनल कॉर्ड से नर्वस सिस्टम और ब्रेन जुड़ा है। इतना ही नहीं लिवर, किडनी, हार्ट, इन्टेस्टाइन भी स्पाइन के दम पर ही टिका है। इसलिए शरीर की तमाम बीमारियों की जड़ भी स्पाइन है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: March 19, 2021 14:07 IST

आज के समय में अधिकतर लोगों रीढ़ से संबंधी समस्याओं से परेशान है। जिसके कारण गर्दन, पीठ, कमर आदि में अधिक दर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है। स्वामी रामदेव के अनुसार स्पाइनल समस्या का मुख्य कारण स्मोकिंग, गलत तरीके से लेटना या बैठना, अधिक वजन बढ़ना आदि शामिल है। जिसके कारण स्लिप डिस्क, सर्वाइकल, वर्टिगो,  आस्टियो, अर्थराइटिस, स्पॉनिलाइटिस, स्पाइनल स्टेनोसिस, साइटिका , ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारियों का समस्या करना पड़ता है। इस समय अधिकतर लोग वर्क फ्रॉम होम के दौरान रीढ़ संबंधी समस्याओं का ज्यादा सामना कर रहे हैं। 

एक स्टडी के अनुसार, भारत के करीब 60 परसेंट लोगों को स्पाइन से जुड़ी कोई न कोई तकलीफ है और इनमें आईटी प्रोफेशनल्स की तादात सबसे ज्यादा है। आपको यह बात जानकर थोड़ी हैरानी होगी कि रीढ़ की हड्डी संबंधी समस्याओं से बुजुर्ग ही नहीं बल्कि 20 साल की उम्र का युवा भी तेजी से शिकार हो रहे हैं। अधिकतर लोगों को सर्वाइकल, साइटिका जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

सर्वाइकल, साइटिका और वर्टिगो से हैं परेशान, स्वामी रामदेव से जानिए कैसे 7 दिन में मिलेगा रीढ़ की समस्या से निजात

 स्वामी रामदेव के अनुसार विटामिन डी, बी12, ओमेगा, कैल्शियम की कमी के कारण भी रीढ़ संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि सुबह-सुबह योगाभ्यास करे। इससे सूर्य की किरणों से लाभ मिलेगा। इसके साथ ही ये आयुर्वेदिक उपायों को अपना सकते हैं। 

रीढ़ की हड्डी को मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक उपाय

  1. अलसी के बीज, तिल, ड्राई फूट्स और अंकुरित ले। इससे आपकी रीढ़ की हड्डी होगी मजबूत 
  2. गिलोय, निर्गुंडी, रासना, पारिजात का पानी दिनभर पिएं
  3. एलोवेरा वात नाशक है। इसका सेवन करने से हड्डियां मजबूत रहेगी। 
  4. दही, छाछ, टमाटर, नींबू आदि  खट्टी चीजों का सेवन न करे
  5. एकांकवीर रस 10 ग्राम , रसराज रस 10 ग्राम, योगेंद्र रस 1 ग्राम, वसंत कुशमाकर 1 ग्राम, प्रबाल पंचामृत 1 ग्राम 
  6. मोतीपिष्टी 4 ग्राम को मिलाकर 1-1 ग्राम की पैकेट बना लें। रोजाना 1 पैकेट की सेवन करे। 
  7.  चंद्रप्रभावती, अश्वशिला, त्रियोदशांकगुगल खाने के बाद 1-1 गोली लें 
  8. पीडांतक, गिलोय, पीड़ानिल खाने से पहले एक एक गोली लें।
  9. दर्द से छुटकारा पाने के लिए पीड़ांतक तेल से मालिश करें
  10. मसल्स दर्द में निजात पाने के लिए मोरिंगा, स्प्रूलिना 1-1 गोली खाएं। 
  11. खाली पेट लहसुन का सेवन करना लाभकारी होगा। अगर आपको ज्यादा गर्मी लगती तो रात को सोने से पहले लहसुन की कुछ कली लेकर इसमें चीरा लगाकर पानी में भिगो दें। दूसरे दिन इसका सेवन करें। इससे किसकी तासीर ठंडी हो जाएगाी।
  12. मेथी को भिगोकर सुबह इसका पानी पिएं। इसके अलावा अंकुरित मेथी का सेवन करे। 
  13. पिडांतक का सेवन करें। इसके लिए आधा मुट्ठी भर रात को भिगो दें। सुबह इसका काढ़ा बनाकर पिएं। 
  14. पीड़ांतक क्वाथ भी स्पाइन की हर समस्या के लिए लाभकारी है। इसके लिए 1 लीटर पानी में थोड़ा सा पीड़ांतक क्वाथ डालकर उबाल लें। जब आधा बचे तो इसे छानकर रख लें। इस काढ़ा का दिनभर सेवन करे।  

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए ऐसे करें आंवला का सेवन, नेचुरल तरीके से हट जाएगा आंखों का चश्मा

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। कमर-गर्दन के हर दर्द को छूमंतर कर देंगे ये कारगर आयुर्वेदिक नुस्खे, रीढ़ रहेगी हमेशा फिट News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
X