1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. क्या लौंग, लहुसन और नींबू खाने से नहीं होगा कोरोना वायरस?, जानें ऐसी ही कुछ भ्रांतियां और तथ्य

क्या लौंग, लहुसन और नींबू खाने से नहीं होगा कोरोना वायरस?, जानें ऐसी ही कुछ भ्रांतियां और तथ्य

एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने इन भ्रांतियों को तोड़ते हुए कुछ सुझाव दिए। इसके साथ ही लोगों से अपील की है कि घर पर रहें औऱ कुछ अंतराल पर अपने हाथों को साबुन से धोते रहें।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: March 23, 2020 11:54 IST
Coronavirus myths- India TV Hindi
Coronavirus myths

कोरोना वायरस लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है। कई शहरों को लॉकडाउन भी किया गया है। इसके साथ ही लोगों के बीच इसको लेकर कई भ्रांतियां फैली हुई हैं। एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने इन भ्रांतियों को तोड़ते हुए कुछ सुझाव दिए हैं। इसके साथ ही लोगों से अपील की है कि घर पर रहें औऱ कुछ अंतराल पर अपने हाथों को साबुन से धोते रहें। जानें ऐसी कौन सी भ्रांतियां है जो लोगों के बीच फैली हैं। 

अदरक, शहद, नींबू और लौंग का सेवन वायरस से बचा सकता है 

विश्व स्वास्थ्य संगठन का इस बारे में कहना है कि यह बिल्कुल सच नहीं है। ये सब एंटीऑक्सीडेंट जरूर माने जाते हैं लेकिन इनका सेवन करने से कोरोना से निजात मिल जाएगी ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है। 

बाबा रामदेव से जानिए कोरोना वायरस से बचाव के आसन और औषधि 

 धातुओं पर वायरस लंबे समय तक जीवित रहता है कोरोना वायरस
आपको बता दें कि अगर धातु घर में है तो इस पर लगभग 8 से 10 घंटे तक वायरस जीवित रह सकता है। सामान्य तौर पर यह 3 से 4 घंटे तक ही जीवित रहता है। लेकिन अभी तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं है। 

 मांस और पॉल्ट्री उत्पाद भी सुरक्षित नहीं 
नहीं, यह वायरस मनुष्य को संक्रमित कर रहा है। एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के नजदीक आने से फैलता है। अब यह जानवरों में नहीं जा सकता है, इसलिए अंडा, मांस आदि संक्रमित नहीं है। 
 
 डिब्बाबंद और आयातित खाना हो सकता है संक्रमित
इस बारे में डब्ल्यूएचओ कहना है कि बिल्कुल भी ऐसा नहीं है।  किसी व्यक्ति के किसी कमर्शियल सामान को संक्रमित करने की संभावना काफी कम है और विभिन्न स्थितियों/तापमान को झेलते हुए यात्रा कर आप तक पहंचे, किसी पैक सामान में इस वायरस के होने का जोखिम काफी कम है।

क्या वाकई तापमान बढ़ने से खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? जानें डॉक्टरों की राय
 
पालतू पशुओं से भी कोरोना वायरस फैलने का खतरा
डब्लूएचओ ने इस बारे में कहा है कि अभी  तक कोई ऐसा तथ्य नहीं मिला है जिससे यह कहा जाए कि पालतू जानवरों से भी फैलता है। यह केवल मनुष्यों से फैलता है। 

 सैनिटाइजर का इस्तेमाल साबुन से हाथ धोने जैसा सुरक्षित 
 दरअसल सैनिजाइजर में अधिक मात्रा में केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके कारण इसका इस्तेमाल से आपकी स्किन एलर्जी हो सकती  हैं। अगर आप घर पर है तो साबुन और पानी का इस्तेमाल करें। अगर आप घर से बाहर है तो अल्कोहाल युक्त सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही घर आते ही साबुन-पानी से हाथ जरूर धोएं। 
 
 तापमान बढ़ने से कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा। 
 इस सवाल को लेकर हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना वायरस के कई मामले ऐसे भी है जहां पर गर्म जलवायु हैं। इसलिए यह कहना थोड़ा गलत होगा कि गर्मी आने से वायरस खत्म हो जाएगे। 

अल्कोहल के सेवन से वायरस हो जाएगा खत्म
डब्ल्यूएचओ के अनुसार अल्कोहल के सेवन से कोरोना वायरस से नहीं बचा जा सकता। अल्कोहल के सेवन से वायरस खत्म नहीं होता।
 
हवा से फैलने वाला संक्रमण है कोरोना वायरस
 यह हवा से फैलने वाला संक्रामक नहीं है। यह केवल छींक या खांसी के दौरान निकलने वाली महीन बूंदों से फैलता है। यह हवा में एक मीटर जा सकता है। इसलिए अगर संक्रमित व्यक्ति से बात करें है तो 1 मीटर की दूरी बनाकर रखें। 
 
 मास्क (सर्जिकल और एन-95) का उपयोग वायरस से बचने के लिए बहुत जरूरी है। 
विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार यदि कोई स्वस्थ इंसान काम से बाहर जा रहा हो तो सर्जिकल मास्क का उपयोग करना जरूरी नहीं है। अगर सर्दी, जुकाम या खांसी है तो आप मास्क पहन सकते हैं ताकि दूसरों में ये बीमारी न फैले। इसके साथ ही गंदा और नम मास्क हो तो उसे तुरंत हटा दें।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। क्या लौंग, लहुसन और नींबू खाने से नहीं होगा कोरोना वायरस?, जानें ऐसी ही कुछ भ्रांतियां और तथ्य News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
X