ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. न्यूमोनिया में राहत देंगी किचन की ये चीजें, बुखार टूटेगा और दूर होगी कमजोरी

न्यूमोनिया में राहत देंगी किचन की ये चीजें, बुखार टूटेगा और दूर होगी कमजोरी

न्यूमोनिया में अक्सर बुखार शरीर तोड़ देता है औऱ फेफड़े कमजोर हो जाते हैं। लेकिन इन घरेलू उपायों से आपको राहत मिलेगी।

India TV Health Desk Edited by: India TV Health Desk
Updated on: June 30, 2021 12:08 IST
pneumonia- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK.COM pneumonia
यूं तो मौसम बदलने पर सर्दी खांसी और बुखार होना आम बात है लेकिन अगर ये बुखार बिगड़ जाए तो ये न्यूमोनिया का रूप ले लेता है।न्यूमोनिया फेफड़ों में बेक्टीरियल इन्फेक्शन की वजह से होने वाला बुखार है जो लंबे समय तक शरीर में टिक जाता है और शरीर को बुरी तरह तोड़ देता है। यूं तो इस दौरान डॉक्टर की दवाई चलती है लेकिन कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से आप फेफड़ो के संक्रमण को कम कर सकते हैं और शरीर की कमजोरी भी दूर कर सकते हैं।
 
आपके किचन में रखी कई सारी उपयोगी चीजें हैं जिनके इस्तेमाल से फेफड़ों का संक्रमण दूर होगा और शरीर को उसकी ताकत वापस मिलेगी। शरीर स्वस्थ होगा औऱ इसकी प्रतिरोधी क्षमता भी बढ़ेगी जिसके चलते शरीर पर न्यूमोनिया और दूसरे बेक्टीरिया वाले संक्रमण हमला नहीं कर पाएंगे।
 
न्यूमोनिया के घरेलू इलाज-
 
लहसुन का प्रयोग करें
जो लोग लहुसन खाते हैं वो न्यूमोनिया के मरीज को लहुसन दे सकते हैं। लहुसन में भऱपूर एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण पाए जाते हैं जिसके कारण यह बेक्टीरिया ग्रस्त फेफड़ों को साफ करता है। इससे कफ की समस्या दूर होती है। एक कप दूध में चार कप पानी मिला लें औऱ उसमें छिले हुए लहुसन की चार कलियां उबाल लें। इसे अच्छी तरह ठंडा करके न्यूमोनिया के मरीज को दिन में दो बार पीने के लिए दिया जा सकता है।
 
अदरक की चाय और अर्क
अदरक भी एंटी बेक्टीरियल तत्वो से भरपूर है। इसका नियमित प्रयोग करने से फेफड़ों का संक्रमण दूर होता है और कफ निकल जाता है। न्यूमोनिया ग्रस्त मरीज को गर्म पानी में अदरक के टुकड़े उबाल कर इसका पाने पिलाने से राहत मिलती है। आप चाहें तो गर्म पानी में अदरक का अर्क मिला कर भी उपयोग में ला सकते हैं। अदरक का चाय भी इस दौरान फायदा करती है। न्यूमोनिया के मरीज को बुखार के समय अदरक की चाय देने से बुखार जल्दी दूर होने की संभावना बनती है।
 
हल्दी वाला दूध
यूं तो हल्दी वाला दूध हमेशा ही फायदेमंद होता है लेकिन न्यूमोनिया होने ये काफी फायदा करता है। न्यूमोनिया के मरीज को अगर रोज रात को हल्दी वाला दूध दिया जाए तो फेफड़ों में जमा संक्रमण बाहर निकलता है जिससे आराम पड़ता है। आपको बता दें कि हल्दी में एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो गर्म दूध के साथ मिलकर बेक्टीरियल संक्रमण को कम करते है, इससे शरीर में दर्द से भी राहत मिलती है। आप चाहें तो दिन में एक बार हल्दी वाली चाय भी मरीज को दे सकते हैं। 
 
शहद
शहद को गर्म पानी में मिलाकर न्यूमोनिया के मरीज को पिलाने से खांसी में आराम मिलता है। इसके एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल तत्व संक्रमण और खांसी को ठीक करने में सहायक होते हैं और बुखार से शरीर टूटने की स्थिति में भी आराम मिलता है। 
 
सरसों के तेल की मालिश
सरसों के तेल को गुनगुना कर लें और इससे मरीज की छाती पर हल्के हाथ से मालिश करें। इससे फेफड़ों  में जमा कफ बाहर निकलता है और शरीर को आराम मिलता है। 
 
Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। इंडिया टीवी इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें।
elections-2022