1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. World Alzheimer Day : चीजें रखकर भूल जाना है अल्जाइमर का संकेत, स्वामी रामदेव से जानें कैसे पाएं इस रोग से निजात

World Alzheimer Day 2021: चीजें रखकर भूल जाना है अल्जाइमर का संकेत, स्वामी रामदेव से जानें कैसे पाएं इस रोग से निजात

खराब लाइफस्टाइल, खानपान और अत्यधिक तनाव के कारण 40 साल से कम उम्र में भी लोग इस रोग का शिकार हो रहे हैं। स्वामी रामदेव से जानिए इस बीमारी से कैसे पाएं निजात।

India TV Health Desk India TV Health Desk
Updated on: September 21, 2021 6:26 IST
अल्जाइमर- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK.COM अल्जाइमर

आमतौर पर अल्जाइमर की बीमारी 70 साल की उम्र के बाद होती है। लेकिन आज के समय में खराब लाइफस्टाइल, खानपान और अत्यधिक तनाव के कारण 40 साल से कम उम्र के लोग भी इस बीमारी के शिकार हो रहे हैं। दुनिया भर में अल्जाइमर के मरीजों की बात करें तो उसमें भारत तीसरे स्थान पर है। यह रोग पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को अपना शिकार ज्यादा बना रहा है। 10 में से 7 महिलाएं अल्जाइमर की शिकार है। इसी कारण हर साल विश्वभर में 21 सितंबर को विश्व अल्जाइमर दिवस (World Alzheimer Day) मनाया जाता है। इस दिन को अल्जाइमर एवं मनोभ्रंश (डिमेंशिया) जैसे रोग के बारे में लोगों को जागरूक करने के उद्धेश्य से मनाया जाता है।

गुस्सा आना, चिड़चिड़ापन होना और धीरे-धीरे छोटी-छोटी चीजें भूल जाना आदि अल्जाइमर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं। अगर इस बीमारी को समय रहते पहचान लिया तो योग के द्वारा इससे छुटकारा पाया जाता सकता है। स्वामी रामदेव से जानिए किन योगासन और प्राणायाम के द्वारा इस भूलने की बीमारी को खत्म किया जा सकता है।

बीपी और शुगर रहेंगे कंट्रोल में, स्वामी रामदेव से जानिए बॉडी-माइंड की फिटनेस के लिए 40 मिनट का योग

त्राटक क्रिया

त्राटक क्रिया के द्वारा आंखों की रोशनी तेज होने के साथ एकाग्रता बढ़ती है। त्राटक क्रिया बिंदू, तारा, सूर्य, चंद्रमा, दीपक और मोमबत्ती आदि पर किया जाता है। लेकिन आप दीपक से इसकी शुरुआत करें। सबसे पहले एक एकांत और शांत जगह को चुने। इसके बाद आंखों के बिल्कुल सामने थोड़ी दूर दीपक रखें। किसी भी आसन में आराम से बैठ जाएं। सिर, गर्दन, पीठ को सीधा रखें। अंधेरे में ध्यान की मुद्रा केंद्रित करें। आंखों को बराबर दीपक में लाएं। दीपक की रोशनी में ध्यान दें। इसे तब तक देखते रहें जब तक आपकी आंखे  थक न जाए। पलक न झपकने दें। इसके बाद आंखे बंद कर लें। फिर अपनी आंखों को ठंडे पानी से धो लें। इसे आप रोजाना या सप्ताह में 1-2 बार कर सकते हैं। 

अल्जाइमर से निजात पाने के लिए करें ये योगासन

शीर्षासन

  1. डिप्रेशन दूर होता है
  2. चेहरे में चमक आती है, सुंदरता बढ़ती है
  3. त्वचा मुलायम और खूबसूरत बनती है
  4. मानसिक शांति और स्मरण शक्ति बढ़ती है
  5. दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है 
  6. आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगर

आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगर है भिंडी, जानिए खाने का सही तरीका

सर्वांगासन

  1. तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है
  2. दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है
  3. एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है
  4. याद की हुई चीजें भूलते नहीं 

हलासन

  1. इस आसन से दिमाग शांत होता है 
  2. थायराइड की बीमारी ठीक होती है 
  3. स्ट्रेस और थकान मिटाता है
  4. रीढ़ की हड्डी में खिंचाव आता है 
  5. डायबिटीज़ की परेशानी दूर होती है 

सूर्य नमस्कार

  1. डिप्रेशन दूर करता है सूर्य नमस्कार
  2. एनर्जी लेवल बढ़ाने में सहायक
  3. वजन बढ़ाने में मददगार योगासन
  4. शरीर को डिटॉक्स करता है
  5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
  6. पाचन तंत्र बेहतर होता है
  7. शरीर को ऊर्जा मिलती है
  8. फेफड़ों तक पहुंचती है ज्यादा ऑक्सीजन

तिर्यक ताड़ासन

  1. रोज करने से शरीर काफी लचीला होता है
  2. कमर की चर्बी पूरी तरह खत्म हो जाती है
  3. कद बढ़ाने में भी मदद मिलती है
  4. वजन घटाने में मदद मिलता है
  5. मन को शांत रखने में सहायक

पादहस्तासन

  1. पादहस्तासन से डिप्रेशन दूर होता है
  2. फेफड़ों को स्वस्थ बनाता है
  3. सांस संबंधी दिक्कत दूर होती है
  4. पाचन संबंधी समस्या दूर होती है
  5. सिर मे रक्त संचार बढ़ता है

गोमुखासन

  1. फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है
  2. पीठ, बांहों को मजबूत बनाता है
  3. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है
  4. शरीर को लचकदार बनाता है
  5. सीने को चौड़ा करने में सहायक
  6. शरीर के पॉस्चर को सुधारता है

व्रकासन

  1. पेट पर पड़ने वाला दबाव फायदेमंद
  2. कैंसर की रोकथाम में कारगर
  3. पेट की कई समस्याओं में राहत
  4. पाचन क्रिया ठीक रहती है
  5. कब्ज ठीक होती है 

भुजंगासन

  1. किडनी को स्वस्थ बनाता है
  2. लिवर से जुड़ी दिक्कत दूर होती है 
  3. तनाव, चिंता, डिप्रेशन दूर करता है
  4. कमर का निचला हिस्सा मजबूत होता है
  5. फेफड़ों, कंधों, सीने को स्ट्रेच करता है
  6. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है
  7. छाती चौड़ी होती है

शलभासन

  1. फेफड़े सक्रिय होते हैं
  2. तंत्रिका तंत्र को मजबूत बनाता है
  3. खून को साफ करता है
  4. शरीर को मजबूत और लचीला बनाता है
  5. हाथों और कन्धों की मज़बूती बढ़ाता है

मर्कटासन

  1. रीढ़ की हड्डी लचीली बनाता है 
  2. पीठ का दर्द दूर हो जाता है
  3. फेफड़ों के लिए फायदेमंद 
  4. पेट संबंधी समस्या दूर होती है
  5. एकाग्रता बढ़ती है 
  6. गुर्दे, अग्नाशय, लीवर सक्रिय होते हैं

पवनमुक्तासन

  1. फेफड़े स्वस्थ और मजबूत रहते हैं
  2. अस्थमा, साइनस में लाभकारी
  3. किडनी को स्वस्थ रखता है
  4. ब्लड प्रेशर को सामान्य रखता है
  5. पेट की चर्बी को दूर करता है
  6. मोटापा कम करने में मददगार
  7. हृदय को सेहतमंद रखता है
  8. ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है
  9. रीढ़ की हड्डी मज़बूत होती है

चक्रासन

  1. बुढ़ापे को दूर भगाता है
  2. त्वचा में चमक आती है
  3. कमर, रीढ़ मजबूत बनता है
  4. हाथों को मजबूत बनाता है
  5. सीने को चौड़ा करता है
  6. मोटापे को कम करता है
  7. पेट की चर्बी कम करता है
  8. पाचन तंत्र दुरुस्त होता है 
  9. फेफड़ों के लिए लाभदायक 
  10. आलस्य को दूर भगाता है

पश्चिमोत्तानासन

  1. इम्यूनिटी मजबूत होती है
  2. साइनस की बीमारी में आराम मिलता है 
  3. डायबिटीज कंट्रोल होती है 
  4. सिरदर्द की समस्या में आराम देता है 
  5. मोटापा कम करने में मददगार 

अल्जाइमर से निजात पाने के लिए प्राणायाम

  1. भ्रस्त्रिका
  2. कपालभाति
  3. अनुलोम-विलोम
  4. उज्जयी प्राणायाम
  5. भ्रामरी प्राणायाम
  6. उद्गीथ प्राणायाम
Click Mania
bigg boss 15