1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सरोगेसी के नाम पर ठगी का शिकार हुआ दंपत्ति, बर्थ डे के दौरान पहुंची पुलिस ने बताया-बच्चा आपका नहीं है

सरोगेसी के नाम पर ठगी का शिकार हुआ दंपत्ति, बर्थ डे के दौरान पहुंची पुलिस ने बताया-बच्चा आपका नहीं है

वे अपने बच्चे का पहला जन्मदिन मनाकर आराम कर रहे थे। अचानक दरवाजे पर पहुंची पुलिस ने उन्हें बताया कि बच्चा उनका नहीं बल्कि किसी और का है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 02, 2021 11:06 IST
TWITTER/@NOTTSHEALTHCARE- India TV Hindi
Image Source : TWITTER/@NOTTSHEALTHCARE प्रतिकात्मक तस्वीर (TWITTER/@NOTTSHEALTHCARE)

बेंगलुरु: एक दंपत्ति को उस समय बड़ा झटका लगा जब वे अपने बच्चे का पहला जन्मदिन मनाकर आराम कर रहे थे। अचानक दरवाजे पर पहुंची पुलिस ने उन्हें बताया कि वो बच्चा उनका नहीं बल्कि किसी और का है। उस बच्चे को बेंगलुरु के हॉस्पिटल से किडनैप किया गया था और सरोगेसी के नाम पर दंपत्ति को सौंप दिया गया था।

दरअसल दंपत्ति ने सरोगेसी के लिए मनोचिकित्सक डॉ. रमेश रश्मिकुमार से 14.5 लाख में बच्चे की डील की थी। लेकिन डॉ. रमेश ने सरोगेसी के नाम पैसा तो ले लिया और जब दंपत्ति को बच्चा सौंपने की बारी आई तो बेंगलुरु के अस्पताल से बच्चा चुराकर दंपत्ति को सौंप दिया। पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तो मनोचिकित्सक डॉ. रमेश से पूछताछ शुरू की। डॉ. रमेश ने जब हकीकत बयान किया तो उसी के आधार पर पुलिस इस दंपत्ति के घर पहुंची और बच्चे को अपने कब्जे में ले लिया। 

29 मई को जिस दिन पुलिस बेंगलुरु में दंपत्ति के घर पहुंची उसी दिन इन लोगों ने बच्चे का पहला जन्मदिन मनाया था। पूरा घर गुब्बारे और अन्य सामान से सजा था। जन्मदिन की पार्टी मनाकर दंपत्ति अभी रिलैक्स कर ही रहे थे कि अचानक पुलिस के पहुंचने और सारी सच्चाई खुलने के बाद इस दंपत्ति के सारे अरमानों पर पानी फिर गया। वे एक बड़ी ठगी का शिकार हो चुके थे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X