1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. JNU विरोध प्रदर्शन: उद्योग भवन, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय और लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशन बंद

JNU विरोध प्रदर्शन: उद्योग भवन, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय और लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशन बंद

पुलिस ने एहतियातन दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) से कहकर येलो लाइन पर पड़ने वाले उद्योग भवन, पटेल चौक और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशनों को अस्थाई रूप से बंद करा दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 18, 2019 17:03 IST
Trains are not halting at Udyog Bhawan and Patel Chowk- India TV Hindi
Image Source : PTI Trains are not halting at Udyog Bhawan and Patel Chowk

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के हजारों छात्रों ने अपने हाथों में तख्तियां लेकर संसद भवन की तरफ मार्च करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें विश्वविद्यालय परिसर से आधा किलोमीटर के भीतर ही रोक दिया। हालांकि, पुलिस ने एहतियातन दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) से कहकर येलो लाइन पर पड़ने वाले उद्योग भवन, पटेल चौक और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशनों को अस्थाई रूप से बंद करा दिया है। इसके अलावा लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशन को भी बंद किया गया है। DMRC ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी।

DMRC ने ट्वीट में लिखा कि “येलो लाइन अपडेट...दिल्ली पुलिस के सुभाव पर, उद्योग भवन और पटेल चौक पर ट्रेनें नहीं रुक रही हैं। उद्योग भवन, पटेल चौक और केंद्रीय सचिवालय के निकास/प्रवेश द्वार अस्थायी रूप से बंद कर दिए गए हैं।” वहीं, इससे अलग एक अन्य ट्वीट में DMRC ने लिखा कि "दिल्ली पुलिस की सलाह के अनुसार, लोक कल्याण मार्ग पर ट्रेनें नहीं रुक रही हैं और स्टेशन के प्रवेश/निकास द्वार भी अस्थायी रूप से बंद कर दिए गए हैं।"

दरअसल, JNU के के छात्र, छात्रावास शुल्क में बढ़ोतरी के खिलाफ पिछले तीन सप्ताह से प्रदर्शन कर रहे हैं। वे अपनी मांगों की तरफ संसद का ध्यान आकृष्ट करने के लिए सड़क पर उतरे हैं। उसी के मद्देनजर तीनों स्टेशनों को बंद किया गया है। छात्रों का कहना है कि जब तक सरकार शुल्क वृद्धि वापस नहीं ले लेती है तब तक वे प्रदर्शन करते रहेंगे। सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने बाबा गंगनाथ मार्ग पर छात्रों को आगे बढ़ने से रोक दिया।

विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार से आगे बढ़ने पर 600 मीटर की दूरी पर छात्रों को रोक दिया गया और कुछ ने जब आगे बढ़ने की कोशिश की तो उन्हें बलपूर्वक आगे बढ़ने नहीं दिया गया। शुरुआत में विश्वविद्यालय परिसर के बाहर से अवरोधक हटाए गए थे और छात्रों को मार्च करने की इजाजत दी गई थी। विश्वविद्यालय के छात्र छात्रावास नियमावली के खिलाफ पिछले तीन सप्ताह से प्रदर्शन कर रहे हैं। इस नियमावली में छात्रावास के शुल्क में वृद्धि, ड्रेस कोड और आने-जाने का समय तय करने के नियम वाले प्रावधान हैं।

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष एन साई बालाजी ने कहा, ‘‘दिल्ली पुलिस ने संसद भवन की तरफ जा रहे शांतिपूर्ण मार्च को रोक दिया। मानव संसाधन विकास मंत्रालय, समिति गठित कर छात्रों को मूर्ख बना रहा है। जब तक बातचीत हो रही है तब तक के लिए समिति शुल्क वृद्धि को खत्म क्यों नही कर देती है? हम लोग शुल्क वृद्धि को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।’’ 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X