1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. RAJAT SHARMA BLOG: वीवीपैट में गड़बड़ी के मामले को चुनाव आयोग को तेजी से सुलझाना चाहिए

RAJAT SHARMA BLOG: वीवीपैट में गड़बड़ी के मामले को चुनाव आयोग को तेजी से सुलझाना चाहिए

चुनाव आयोग के अधिकारियों ने खराबी की शिकायत मिलने पर मशीनों को बदला। जितना जल्दी हो सका पोलिंग शुरू कराने की कोशिश की। इसलिए साजिश की बात करना ठीक नहीं है।

Rajat Sharma Rajat Sharma
Updated on: May 29, 2018 17:49 IST
Rajat Sharma Blog- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Rajat Sharma Blog

सोमवार को जब चार लोकसभा क्षेत्र और नौ विधानसभा क्षेत्र के लाखों मतदाता उपचुनाव के दौरान वोट डालने गए तो उन्होंने पाया कि कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम से जुड़े वीवीपैट खराब थे। चुनाव आयोग को खराब वीवीपैट को बदलने के लिए 1200 रिजर्व वीवीपैट का इस्तेमाल करना पड़ा। चुनाव पर्यवेक्षकों द्वारा रिपोर्ट भेजने के बाद चुनाव आयोग ने कैराना के 73 मतदान केंद्रों पर कल दोबारा मतदान कराने का आदेश दिया है। 

 
चुनाव आयोग के मुताबिक कैराना में 20.8 फीसदी वीवीपैट ईकाइयां बदली गईं, भंडारा और गोंदिया में 19.2 फीसदी, पालघर में 13.2 फीसदी, महेशताला में  12.4 फीसदी और शाहकोट में 11 फीसदी वीवीपैट बदले गए। चुनाव आयोग ने इंजीनियरों से यह पता लगाने को कहा है कि कहीं ज्यादा गर्मी की वजह से सेंसर्स में खराबी आई या फिर वीवीपैट यूनिट के संचालन से पोलिंग ऑफिसर्स अपरिचित थे।
 
विपक्ष के कई नेताओं ने वीवीपैट में आई खराबी को साजिश बताया है लेकिन मेरा यह मानना है कि ये आरोप सही नहीं हैं। चुनाव आयोग के अधिकारियों ने खराबी की शिकायत मिलने पर मशीनों को बदला। जितना जल्दी हो सका पोलिंग शुरू कराने की कोशिश की। इसलिए साजिश की बात करना ठीक नहीं है। बड़ी बात ये है कि उपचुनावों के दौरान इस तकनीकी गड़बड़ी का पता चल गया, क्योंकि अगले साल मई में लोकसभा के चुनाव होने हैं और उस समय गर्मी अपने चरम पर होगी।

अब चुनाव आयोग को चाहिए कि वह इन गड़बड़ियों को युद्धस्तर पर ठीक करे। इस काम को तेजी से निपटाना जरूरी है क्योंकि इस साल के अंत में तीन राज्यों राजस्थान, मध्यप्रदेश, और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसलिए चुनाव आयोग को थोड़ी तेजी दिखानी होगी जिससे लोगों का भरोसा ईवीएम और वीवीपैट दोनों पर बना रहे। (रजत शर्मा)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment