1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. नकवी ने कहा, भाजपा के खिलाफ महागठबंधन बिना दुल्हे के ‘बैंड, बाजा, बारात की तरह

नकवी ने कहा, भाजपा के खिलाफ महागठबंधन बिना दुल्हे के ‘बैंड, बाजा, बारात की तरह

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा के खिलाफ प्रस्तावित महागठबंधन बिना दुल्हे के ‘बैंड, बाजा, बारात की तरह है।’

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 30, 2018 6:49 IST
naqvi slams opposition on mahagathbandhan- India TV
naqvi slams opposition on mahagathbandhan

मुंबई: केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा के खिलाफ प्रस्तावित महागठबंधन बिना दुल्हे के ‘बैंड, बाजा, बारात की तरह है।’ भाजपा के वरिष्ठ नेता ने एक साक्षात्कार में कहा कि 2019 में प्रधानमंत्री पद के लिए कोई वेकेंसी नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘ महागठबंधन इस तरह का है कि बैंड, बाजा और बारात तैयार है लेकिन दुल्हा गायब है। प्रधानमंत्री पद पर दावा करने वाले करीब दो दर्जन उम्मीदवार हैं।’’ सपा, बसपा, राजद जैसी पार्टियां अन्य दलों के साथ मिलकर 2019 के आम चुनाव में भाजपा से मुकाबले के लिए एक मोर्चा बनाने की योजना बना रही हैं। (करुणानिधि की हालत में सुधार, कावेरी अस्पताल के बाहर समर्थकों की भारी भीड़, पुलिस ने किया लाठीचार्ज )

कांग्रेस पर तंज कसते हुए अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा, ‘‘ कांग्रेस ने पहले घोषणा की कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। बहरहाल, 12 घंटे के अंदर उन्होंने उनका नाम वापस ले लिया। यह इस तरह की पहली घटना थी जिसमें कांग्रेस ने (गांधी का नाम) वापस किया है। यह नामांकन से पहले ही वापस ले लिया गया।’’ सवाल के जवाब में नकवी ने कहा कि राजनीति में स्थायी दोस्ती या नाराजगी नहीं होती है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने ‘नो एंट्री’ का बोर्ड नहीं लगाया हुआ है।

नकवी ने कहा कि भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या करने की घटनाओं को सांप्रदायिक रंग नहीं देना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘ पीट-पीट कर हत्या करना संगीन जुर्म है। दुर्भायग्य से जब ऐसी चीजों का राजनीतिकरण होता है, आपराधिक घटना को सांप्रदायिक रंग दिया जाता है तब इन कृत्यों में शामिल अपराधियों को सामाजिक संरक्षण मिलता है।’’ उन्होंने कहा कि अपराध अपराध होता है। अपराध को सांप्रदायिकता से नहीं मिलाएं और ऐसे जघन्य अपराधों को सांप्रदायिक चीजों के तौर पर पेश नहीं करें। अपराध का धर्म या जाति नहीं होती है। ‘तीन तलाक’ को ‘खराब परंपरा’ बताते हुए नकवी ने कहा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा इस चलन को असंवैधानिक घोषित करने के बाद से विभिन्न एजेंसियों को कम से कम 1000 ऐसे मामले रिपोर्ट हुए हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X