1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अमित शाह ने कहा- 'कांग्रेस देश से माफी मांगे'

राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अमित शाह ने कहा- 'कांग्रेस देश से माफी मांगे'

उन्होंने कहा कि आज का फैसला एकबार फिर मोदी सरकार की साख को एक पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त शासन के रूप में परिपुष्ट करता है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 14, 2019 17:10 IST
Amit Shah- India TV Hindi
Image Source : ANI Amit Shah

नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राफेल केस में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए कहा है कि सर्वोच्च अदालात द्वारा राफेल पर रिव्यू पेटिशन को खारिज करना उन नेताओं और पार्टियों को करारा जवाब है जो दुर्भावनापूर्ण और आधारहीन दुष्प्रचार पर भरोसा करते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के हमेशा राजनीति राष्ट्रहित से ऊपर रही है, उसे देश से माफी मांगनी चाहिए। अमित शाह ने कहा कि आज का फैसला एकबार फिर मोदी सरकार की साख को एक पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त शासन के रूप में स्थापित करता है। 

अमित शाह ने कहा अब यह साबित हो गया कि राफेल के मुद्दे पर संसद की कार्यवाही में व्यवधान महज दिखावा था। लोगों के कल्याण के लिए संसद के इस महत्वपूर्ण समय का बेहतर उपयोग किया जा सकता था। अमित शाह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा कांग्रेस और उनके नेताओं को फटकार मिलने के बाद अब उन्हें राष्ट्र से माफी मांगनी चाहिए। शाह ने कहा कि कांग्रेस के लिए हमेशा राजनीति राष्ट्रीय हित से ऊपर रही है। 

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में नरेंद्र मोदी सरकार को बृहस्पतिवार को क्लीन चिट देते हुए कहा कि पुनर्विचार याचिकाएं सुनवायी योग्य नहीं हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अपने 14 दिसंबर 2018 के फैसले पर पुनर्विचार करने की मांग वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा, ‘‘हमने पाया कि पुनर्विचार याचिकाएं सुनवायी योग्य नहीं हैं।’’ सुप्रीम कोर्ट ने राफेल सौदे के संबंध में टिप्पणियों के लिए राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना याचिका का निपटारा करते हुए कहा कि उन्हें भविष्य में सावधान रहना चाहिए। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment