Tuesday, June 25, 2024
Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: "आपसे सिर्फ वोट मांगने नहीं आया, बल्कि...", PM मोदी का पुरुलिया में जोरदार भाषण; जानें 10 खास बातें

Lok Sabha Elections 2024: पुरुलिया में पीएम मोदी ने कहा कि टीएमसी ये कहकर राजनीति में आई थी कि मां, माटी और मानुष की रक्षा करेगी। आज टीएमसी इसका ही भक्षण कर रही है। बंगाल की महिलाओं का भरोसा टीएमसी से टूट गया है।

Written By: Malaika Imam @MalaikaImam1
Published on: May 19, 2024 15:11 IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- India TV Hindi
Image Source : PTI प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Lok Sabha Elections 2024: पश्चिम बंगाल की पुरुलिया लोकसभा सीट पर छठे चरण में 25 मई को वोटिंग होनी है। इसके मद्देनजर पीएम मोदी ने रविवार को यहां बीजेपी उम्मीदवार ज्योतिर्मय सिंह महतो के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने टीएमसी और इंडी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिस बंगाल में मां सरस्वती की पूजा होती है, वहां टीएमसी सरकार शिक्षा में भी चोरी करती है। इंडी गठबंधन वालों के तरकश में जितने तीर थे, ये लोग चला चुके हैं। इनकी हर साजिश नाकाम साबित हुई है। आइए, जानते हैं पुरुलिया में पीएम मोदी के संबोधन से जुड़ी 10 बड़ी बातें क्या रहें-

  1. प्रधानमंत्री ने जनसभा की शुरुआत में कहा, "मैं आज यहां आपसे सिर्फ वोट मांगने नहीं आया, बल्कि मैं आप सबसे आशीर्वाद मांगने के लिए आया हूं। मुझे विकसित भारत के लिए आपका आशीर्वाद चाहिए। मुझे आत्मनिर्भर भारत के लिए आपका आशीर्वाद चाहिए।"
  2. पीएम मोदी ने कहा, "मोदी ने इन चुनाओं में इंडी गठबंधन वालों का कच्चा-चिट्ठा खोलकर देश के सामने रख दिया है। ये लोग संविधान खत्म करना चाहते हैं। ये लोग घुसपैठिए को बढ़ावा देते हैं। ये लोग वोट बैंक को खुश करने के लिए CAA का विरोध करते हैं। टीएमसी और उसके साथी दलितों, पिछड़ों, आदिवासियों को मिल रहा आरक्षण छीन लेना चाहते हैं। बाबा साहेब आंबेकर धर्म के आधार पर आरक्षण के खिलाफ थे, लेकिन आज इंडी गठबंधन वाले धर्म के आधार पर आरक्षण देना चाहते हैं। कर्नाटक में इन लोगों ने ओबीसी कोटे का आरक्षण मुसलमानों को दे दिया।"
  3. पुरुलिया में पीएम मोदी ने कहा, "TMC इस साजिश में कंधे से कंधा मिलाकर कांग्रेस के साथ खड़ी है। आपलोग टीएमसी और कांग्रेस का वोट बैंक नहीं है, इसलिए इन पार्टियों को आपकी रत्तीभर परवाह नहीं है। टीएमसी ये कहकर राजनीति में आई थी कि मां, माटी और मानुष की रक्षा करेगी। आज टीएमसी इसका ही भक्षण कर रही है। बंगाल की महिलाओं का भरोसा टीएमसी से टूट गया है। संदेशखाली में जो पाप हुआ है उसने पूरे बंगाल की बहनों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। एससी, एसटी परिवार की बहनों को तो टीएमसी के लोग इंसान ही नहीं समझते। अपने शाहजहां को बचाने के लिए टीएमसी के लोग संदेशखाली की बहनों को ही दोषी ठहरा रहे हैं। उनके चरित्र पर सवाल उठा रहे हैं।"
  4. प्रधानमंत्री ने कहा, "जिस बंगाल में मां सरस्वती की पूजा होती है, वहां टीएमसी सरकार शिक्षा में भी चोरी करती है। शिक्षकों की भर्ती में हजारों नौजवानों का भविष्य बर्बाद कर दिया। इन सभी नौजवानों को कर्ज में डूबो दिया, क्योंकि नौकरी के लिए इन्हें कर्ज कर टीएमसी वालों को पैसा देना पड़ा। नुकसान सिर्फ इन नौजवानों का ही नहीं, आज बंगाल के गांवों के स्कूलों में टीचर नहीं है। टीएमसी ने उन बच्चों के भविष्य की भी चोरी कर ली है।"
  5. पीएम ने कहा, "टीएमसी हो या कांग्रेस, ये एक ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं। कांग्रेस के मंत्री और सांसद के पास से कैसे नोटों के पहाड़ मिल रहे हैं। मैंने अपनी जिंदगी में आंख के सामने नोटों का ढेर नहीं देखा, जितने नोटों के पहाड़ पर ये चोर लुटेरे बैठे हैं। यहां टीएमसी के नेताओं और मंत्री के पास से भी नोटों के पहाड़ निकलते हैं। ये भ्रष्टाचार करते रंगे हाथ पकड़े जाते हैं, लेकिन गाली मोदी को देते हैं।"
  6. जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने पूछा, "क्या मैंने देशवासियों से कभी कुछ छुपाया है? मैंने 2014 में कहा था कि भ्रष्टाचारियों के खिलाफ काम करूंगा। मैंने 2019 में कहा था कि भ्रष्टाचारियों को एक-एक कर पकड़ूंगा। इस बार कह रहा हूं कि मैं इन भ्रष्टाचारियों को बिना जेल के बाहर नहीं रहने दूंगा। मोदी आज आपको एक और गारंटी दे रहा है कि 4 जून के बाद नई सरकार बनते ही ऐसे हर भ्रष्टाचारी की जिंदगी जेलों में ही बितेगी।"
  7. पीएम ने कहा, "ये लूटा हुआ पैसा मोदी पकड़ रहा है, ये पैसा उन पीड़ितों का है, जिनसे उन्होंने लूटा है। वो पैसे उन्हें वापस मिले, इसके लिए मैं रास्ता खोज रहा हूं। बंगाल की जनता ने इस बार टीएमसी को साफ करने का पक्का मन बना लिया है। इसके रुझान आने शुरू भी हो गए हैं। इसी के साथ टीएमसी की बौखलाहट भी बढ़ती जा रही है। जिन्हें इन्होंने कभी पूछा नहीं, मोदी उनकी पूजा करता है।" 
  8. भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा, "पुरुलिया के लोगों को किस तरह जल संकट का सामना करना पड़ता है। मोदी की कोशिश देश के हर घर तक नल से जल पहुंचाने का है। पिछले पांच साल में 12 करोड़ से ज्यादा घरों को हमने नल कनेक्शन से जोड़ा है, लेकिन पुरुलिया जैसी जगह पर टीएमसी सरकार इस अभियान को आगे नहीं बढ़ने दे रही है। उत्तर प्रदेश जैसे राज्य जहां भाजपा की सरकार है, वहां रोजाना अलग-अलग गावों में, अलग-अलग इलाके में एक दिन में 30 हजार लोगों को नल का कनेक्शन दिया जा रहा है। वहीं, बंगाल में एक दिन में सिर्फ पांच हजार घरों में काम होता है। टीएमसी सरकार से यहां विकास की कोई उम्मीद नहीं लगाई जा सकती है।"
  9. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "आज देश और दुनिया में इस्कॉन, रामकृष्ण मिशन और भारत सेवाश्रम संघ, सेवा और सदाचार के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं, वे भारत का नाम रोशन करते हैं, लेकिन बंगाल की मुख्यमंत्री इन्हें खुले तौर पर धमका रही हैं। दुनिया भर में इस मिशन से जुड़ने वाले लोखों अनुयायी रहते हैं। अपने वोट बैंक को सिर्फ खुश करने के लिए लाखों लोगों की भावनाओं का ख्याल नहीं। आध्यात्मिक गुरुओं का अपमान ये देश कभी नहीं सहेगा।"
  10. पीएम ने कहा, "भाजपा सरकार विकास भी, विरासत भी इस मंत्र पर काम करती है। पुरुलिया और इस क्षेत्र की पहचान छऊ नृत्य बहुत प्रसिद्ध है। ये भाजपाई है, जो छाऊ मास्क को जीआई टैग दिया है। भाजपा देश की समृद्धि को दुनिया भर में ला जाने को तैयार है। यहां अयोध्या पहाड़ है, यहां सीताकुंड भी है। प्रभु राम के चरण यहां पड़े हैं। 500 साल बाद प्रभु राम का मंदिर बना, जहां रामलला विराजमान हुए हैं, लेकिन टीएमसी को राम का नाम लेना, रामनवमी मनाना ही पसंद नहीं है। सिर्फ वोट बैंक के लिए हमारी आस्था को पसंद नहीं करते। ऐसी टीएमसी एक वोट भी पाने के लायक नहीं है।"

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement