Friday, June 14, 2024
Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: ‘सपा, कांग्रेस को योगी जी से बुलडोजर पर ट्यूशन लेनी चाहिए’, बाराबंकी में PM के भाषण की 10 खास बातें

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में विपक्षी दलों पर बरसते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये लोग पहले राम मंदिर की जगह पर धर्मशाला बनाने की बात करते थे, और अगर सत्ता में आ गए तो फिर से रामलला को टेंट में भेज देंगे।

Edited By: Vineet Kumar Singh @VickyOnX
Updated on: May 17, 2024 13:27 IST
Lok Sabha Elections 2024, Lok Sabha Elections, Elections 2024- India TV Hindi
Image Source : TWITTER.COM/BJPLIVE बाराबंकी में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने कहा कि राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण ठुकराने वाले इन लोगों को यदि सरकार में आने का मौका मिला तो वे रामलला को फिर से टेंट में भेज देंगे और मंदिर पर बुलडोजर चला देंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों पर आरक्षण के मुद्दे को लेकर भी निशाना साधा। आइए, जानते हैं बाराबंकी में पीएम मोदी के संबोधन से जुड़ी 10 बड़ी बातों के बारे में:

  1. समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, 'यहां जो बबुआ जी हैं यानी समाजवादी शहजादे उन्होंने एक नई बुआ की शरण ली है जो बंगाल में हैं। बंगाल वाली बुआजी ने इंडी वालों को कह दिया है कि मैं आपको बाहर से सपोर्ट करूंगी। इंडी गठबंधन की एक और पार्टी ने दूसरी को कह दिया है कि खबरदार जो हमारे खिलाफ पंजाब में बोला। पीएम पद को लेकर सभी ने मुंगेरीलाल को भी पीछे छोड़ रहे हैं। इनके सपनों की इंतेहा देखिए कि कांग्रेस के एक नेता ने कह दिया कि रायबरेली के लोग प्रधानमंत्री चुनेंगे। ये सुनते ही समाजवादी शहजादे का दिल ही टूट गया बस आंसू नहीं निकले लेकिन दिल के सारे अरमान बह गए।'    
  2. राम मंदिर को लेकर विपक्षी दलों पर बरसते हुए पीएम ने कहा, 'कांग्रेस, सपा वालों ने पहले रामलला को टेंट में पहुंचाया, वोट बैंक को खुश करने के लिए कहा कि वहां कोई धर्मशाला बना दो। अब उनके पेट में इतना जहर भरा है कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण ठुकरा दिया। सपा के बड़े नेता राम मंदिर को बेकार बताते हैं। रामनवमी के दिन भद्दी बातें कहते हैं। कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर पर फैसला पलटने की तैयारी कर रही है। कांग्रेस के एक बड़े नेता ने खुद ये बात कही है। सपा-कांग्रेस वाले सरकार में आए तो रामलला को फिर से टेंट में भेजेंगे और राम मंदिर पर बुलडोजर चला देंगे। इन्हें योगी जी से ट्यूशन लेनी चाहिए कि बुलडोजर असल में कहां चलाना है।'
  3. विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि एक ओर देशहित के समर्पित भाजपा, एनडीए का गठबंधन है और दूसरी तरफ देश में अस्थिरता पैदा करने के लिए INDI गठबंधन मैदान में है। उन्होंने कहा, 'जैसे-जैसे चुनाव आगे बढ़ रहा है ये INDI वाले ताश के पत्तों की तरह बिखरना शुरू हो गए हैं। पूरा देश और पूरी दुनिया जानती है कि मोदी सरकार हैट्रिक लगाने जा रही है। नई सरकार में मुझे महिला, किसान, युवाओं और गरीबों के लिए कई बड़े फैसले लेने हैं।'
  4. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आप सब लोग इतने तेज तर्रार हैं कि सारी बातें इशारों में ही समझ जाते हैं। उन्होंने कहा, 'अब आप ही बताइये इस उटपटांग खिचड़ी को आप लोग वोट देकर अपना वोट बर्बाद करोगे क्या? कोई भी अपना वोट बर्बाद करना चाहेगा क्या? अच्छा होगा कि बाराबंकी और मोहनलालगंज में भाजपा का सांसद हो। भाजपा सांसद आपके लिए दिल्ली और लखनऊ से ज्यादा से ज्यादा योजनाएं लेकर आएंगे। भाजपा सांसद विकास के लिए ज्यादा काम करेंगे।'
  5. INDI अलायंस का सांसद होने का 'नुकसान' गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'अगर इंडी का सांसद बनता है तो उसकी पार्टी का यही मापदंड होगा कि तुमने मोदी को एक दिन में कितनी गालियां दी। उसे यही काम होगा कि सुबह उठो मोदी को गाली दो, दोपहर में मोदी गाली दो और शाम को मोदी को गाली दो और सो जाओ। हमें गाली देने वाले नहीं काम करने वाले सांसद चाहिए। इसके लिए लोगों के पास एक ही विकल्प है सिर्फ कमल। इसीलिए बाराबंकी से राजरानी जी और मोहनलालगंज से कौशल किशोर को हर हाल में विजयी बनाना है।'
  6. विकास के मुद्दे पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'जब देश में दमदार सरकार होती है तो फर्क साफ-साफ दिखता है। कमजोर सरकार आज है, कल नहीं है। कमजोर सरकार का पूरा फोकस इसी बात पर होता है कि उनकी गाड़ी किसी तरह चलती रहे और समय पूरा हो जाए। 100 CC के इंजन से 1000CC की रफ्तार ली जा सकती है क्या? विकास की तेज रफ्तार दमदार सरकार और भाजपा सरकार ही दे सकती है।'
  7. पीएम ने सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को गिनाते हुए कहा, 'मुफ्त अनाज, मुफ्त इलाज, पक्का घर, सस्ता गैस सिलेंडर, नल जल हो ये सब को बिना भेदभाव दिया जाता है। सपा के राज के समय बिजली भी वोट जिहाद वालों के लिए रिजर्व रहते हैं। जिस वोट बैंक के पीछे ये भागते हैं वो भी अब समझ गए हैं। तीन तलाक समाप्त होने के बाद महिलाएं आशीर्वाद दे रहे हैं। रामकाज से आगे अब राष्ट्रकाज का समय आ गया है।'
  8. कांग्रेस पर बरसते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस के शहजादे कहते हैं कि आपकी कमाई का एक्स रे करेंगे। इसका मतलब ये पता करेंगे कि आपके लॉकर में क्या है मंगलसूत्र कहां है। ये आधा हिस्सा वोट जिहाद करने वालों को देना चाहते हैं। सपा कांग्रेस तुष्टिकरण के आगे घुटने टेक चुके हैं। जब मोदी उन्हें बेनकाब करता है तो ये कहते हैं कि मोदी हिंदू-मुसलमान करता है। ये लोग संविधान, दलित और पिछड़ों के विरोधी हैं। 370 हटने से जम्मू कश्मीर में संविधान लागू हुआ और दलितों को अधिकार मिले। सीएए के तहत जिनको नागरिकता मिली वे सबसे ज्यादा दलित हैं। सपा वालों ने दलितों को कितना परेशान किया ये सब जानते हैं।'
  9. RJD सुप्रीमो लालू यादव पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'बिहार के चारा घोटाले के जो चैंपियन हैं जिन्हें अदालत ने सजा दी है और जेल से तबीयत के बहाने बाहर घूम रहे हैं वो कह रहे हैं कि पूरा का पूरा आरक्षण मुसलमान को मिलना चाहिए। इसका मतलब दलित आदिवासी पिछड़े ओबीसी के पाछ कुछ बचेगा ही नहीं। मैं आपके अधिकारों की रक्षा के लिए आपसे 400 पार सीटें मांग रहा हूं।'
  10. आरक्षण के मुद्दे पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'बाबा साहब आंबेडकर धर्म के आधार पर आरक्षण के सबसे बड़े विरोधी थे। लेकिन 10 साल पहले यूपी में इन लोगों ने धर्म के आधार पर आरक्षण देने की कोशिश की। कर्नाटक में जितने भी मुसलमान थे उन सभी को रातोंरात ओबीसी बना दिया। जो आरक्षण ओबीसी को मिला था उसमें से बड़ा हिस्सा ये लूट कर चले गए। क्या आप ओबीसी, एससी, एसटी का हक छिनने देंगे? बाबा साहब आंबेडकर ने जो दिया है उसे कोई हाथ नहीं लगा सकता।'

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement