Wednesday, April 17, 2024
Advertisement

सावरकर पर अब टिप्पणी नहीं करेंगे राहुल गांधी, शरद पवार ने सुलझाया शिवसेना और कांग्रेस का विवाद

एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को बैठक की। यह बैठक मुख्य रूप से कांग्रेस और शिवसेना पार्टी के बीच की कलह को शांत करने के लिए थी।

Ravi Prashant Edited By: Ravi Prashant @iamraviprashant
Updated on: March 30, 2023 7:18 IST
sonia gandhi rahul gandhi- India TV Hindi
Image Source : PTI शरद पवार ने शिवसेना और कांग्रेस के बीच का मामला सुलझाया

पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता राहुल गांधी हमेशा अपनी बयानबाजी को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। हाल ही में उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीर विनायक दामोदर सावरकर पर टिप्पणी की, जिसके बाद महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है। इसका असर इतना दिखा कि उद्धव ठाकरे कांग्रेस पार्टी की बैठक में शामिल नहीं हुए। वहीं, इस मौके का फायदा उठाते हुए बीजेपी उद्धव गुट और कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। हालांकि समय को भांपते हुए शरद पवार ने एंट्री लेकर मामला सुलझा लिया है।

 

शरद पवार ने सुलझाया मामला 

एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को बैठक की। यह बैठक मुख्य रूप से कांग्रेस और शिवसेना पार्टी के बीच की कलह को शांत करने के लिए थी। दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद सावरकर से जुड़े सभी ट्वीट राहुल गांधी के ट्विटर हैंडल से डिलीट कर दिए गए हैं। वहीं, मीटिंग में यह बात सामने आई कि राहुल ने सीधे तौर पर ट्वीट नहीं किया, बल्कि बार्टी के समर्थकों के ट्वीट को रीट्वीट किया गया था। अब राहुल गांधी के हैंडल पर सावरकर से जुड़ा कोई ट्वीट नहीं है। 

राहुल और सोनिया ने दिया भरोसा
इस मुलाकात के बाद संसद परिसर में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और शिवसेना सांसद राउत की सौहार्दपूर्ण मुलाकात का आयोजन किया गया। मुलाकात के दौरान संजय राउत को भरोसा दिलाया गया कि अब सावकर को लेकर कोई आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की जाएगी। वहीं पवार ने कहा कि कांग्रेस इसे अपनी विचारधारा तक ही सीमित रखें। वैचारिक मतभेद से ही तो तीनों दल अलग हैं, वरना एक ही दल होता। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement