1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. क्या सुनील जाखड़ की कांग्रेस से होगी छुट्टी? जानें, सियासी गलियारों में क्यों हो रही है ये चर्चा

क्या सुनील जाखड़ की कांग्रेस से होगी छुट्टी? जानें, सियासी गलियारों में क्यों हो रही है ये चर्चा

पंजाब चुनाव के दौरान सुनील जाखड़ ने आरोप लगाया था कि उन्हें हिंदू होने की वजह से पंजाब का मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया।

Vijai Laxmi Reported by: Vijai Laxmi @vijai_laxmi
Published on: April 19, 2022 16:34 IST
Sunil Jakhar, Sunil Jakhar KV Thomas, Sunil Jakhar Congress, Congress, KV Thomas- India TV Hindi
Image Source : PTI Congress leader Navjot Singh Sidhu and Sunil Jakhar.

Highlights

  • सुनील जाखड़ और केवी थॉमस दोनों पर पार्टी विरोधी बयानबाजी का आरोप है।
  • पार्टी ने दोनों ही नेताओं को एक हफ्ते का कारण बताओ नोटिस जारी किया था।
  • कांग्रेस की अनुशासनात्मक समिति की अगली बैठक जल्द होने वाली है।

नई दिल्ली: पंजाब कांग्रेस के कद्दावर नेता सुनील जाखड़ की पार्टी से छुट्टी हो सकती है। पिछले हफ्ते हुई कांग्रेस की अनुशासनात्मक समिति की बैठक में सुनील जाखड़ और के. वी. थॉमस पर क्या कार्रवाई की जानी चाहिए, इसको लेकर चर्चा हुई थी। पार्टी ने दोनों ही नेताओं को एक हफ्ते का कारण बताओ नोटिस जारी किया था। इन दोनों नेताओं को एक हफ्ते के भीतर पार्टी की अनुशासनात्मक  समिति के सामने अपनी बात रखने को कहा गया था।

बता दें कि के. वी. थॉमस ने तो पार्टी के अनुशासनात्मक कमेटी को अपना जवाब भेजा लेकिन सुनील जाखड़ ने अनुशासनात्मक समिति द्वारा दिए गए शो कॉज नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया। अनुशासनात्मक  समिति की बैठक अब जल्द होगी, और सूत्रों की मानें तो पार्टी से उनके  निलंबन की कार्यवाही भी अनुशासनात्मक कमेटी द्वारा की जा सकती है। सुनील जाखड़ और केवी थॉमस दोनों पर पार्टी विरोधी बयानबाजी का आरोप है।

पंजाब चुनाव के दौरान सुनील जाखड़ ने आरोप लगाया था कि उन्हें हिंदू होने की वजह से पंजाब का मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया जबकि ज्यादातर विधायक उनके समर्थन में थे, वहीं, दूसरी ओर केवी थॉमस कांग्रेस अध्यक्ष के निर्देश के बावजूद कन्नूर में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

दोनों नेताओं के खिलाफ केंद्रीय नेतृत्व को  राज्य की इकाई द्वारा चिट्ठी लिखी गई थी। जाखड़ और थॉमस, दोनों नेताओं को एक सप्ताह के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया गया था। कांग्रेस की अनुशासनात्मक समिति की अगली बैठक जल्द होने वाली है, जिसमें दोनों नेताओं के भविष्य को लेकर फैसला किया जाएगा।

erussia-ukraine-news