1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. यूपी पहुंचते ही मुख्तार ने छोड़ी व्हील चेयर, पैदल चलकर बैरक में गया, योगी के मंत्री बोले- जिसने जो किया है वो भरेगा

यूपी पहुंचते ही मुख्तार ने छोड़ी व्हील चेयर, पैदल चलकर गया बैरक के अंदर, योगी के मंत्री बोले- जिसने जो किया है वो भरेगा

सूत्रों से खबर मिली है कि मुख्तार अंसारी जेल में पहुंचने के बाद खुद चलकर बैरक के अंदर गया। अभी तक वो सिर्फ व्हील चेयर पर दिखाई दे रहा था। इस बीच योगी सरकार में मंत्री अनिल राजभर ने मुख्तार को लेकर बड़ा बयान दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 07, 2021 11:39 IST

लखनऊ. मुख्तार अंसारी अब यूपी की बांदा जेल में शिफ्ट किया जा चुका है। उत्तर प्रदेश पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल से करीब 900 किलोमीटर का सफर तय करने के बाद आज सुबह साढ़े चार बजे बांदा जेल पहुंची। जेल पहुंचते ही मुख्तार का मेडिकल टेस्ट किया गया। अब सूत्रों से खबर मिली है कि मुख्तार अंसारी जेल में पहुंचने के बाद खुद चलकर बैरक के अंदर गया। अभी तक वो सिर्फ व्हील चेयर पर दिखाई दे रहा था। इस बीच योगी सरकार में मंत्री अनिल राजभर ने मुख्तार को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा, "जो लोग कानून से मजाक करते थे। उनकी उत्तर प्रदेश में वापसी हो चुकी है। जिसने जो किया है वो भरेगा। ये योगी जी की सरकार है। पिछले दिनों सपा की सरकार में लोग जेल में फाइव स्टार होटल की सुविधा लेते थे।

मुख्तार अंसारी के परिवार को उनसे न मिलने दिए जाने पर अनिल राजभर ने कहा कि उनकी सुरक्षा और उनको कोरोना न हो इसका भी ख्याल रखा जा रहा है। जेल प्रशासन ने भी प्रोटोकॉल जारी किया है, उसका भी पालन कर रहे हैं। सरकार और न्यायालय के प्रोटोकॉल का भी पालन किया जा रहा है। मुख्तार को यूपी की बांदा जेल लाए जाने पर योगी सरकार में जेल मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि जब से योगी आदित्यनाथ सरकार आई है गुंडे, माफिया और अपराधी भयभीत हैं। उनको लगता है कि UP हमारे लिए सुरक्षित नहीं है। अपराधियों में खौफ होना जरूरी है। सरकार भयमुक्त समाज की स्थापना के संकल्प के साथ आई थी।

बांदा जेल में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई

एक अधिकारी ने बताया कि मुख्तार की शिफ्टिंग को लेकर बांदा जेल में सुरक्षा व्यवस्था पहले ही काफी तगड़ी कर दी गई थी। यहां चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है। जेल की हर दीवार पर सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है। कुल मिलाकर सुरक्षा ऐसी है कि परिंदा भी पर न मार सके। साथ ही जेल में दाखिल होने वाले हर व्यक्ति की पूरी पड़ताल की जाएगी। बिना जांच-पड़ताल के जेल स्टॉफ को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा। जेल में कौन कितनी बार आया इसका लेखा-जोखा भी रखा जाएगा। इसके अलावा जेल के बाहर भी अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

सूत्रों के मुताबिक मुख्तार के आसपास जाने वाला हर जेल कर्मी बॉडी वॉर्न कैमरे से लैस रहेगा ताकि उसके और मुख्तार के बीच हुई बातचीत और व्यवहार की रिकॉर्डिग हो सके। जेल की निगरानी के लिए एक ड्रोन कैमरा भी लखनऊ से भेजा गया है। वहीं मुख्तार अंसारी की बैरक और आसपास के इलाके को सीसीटीवी कैमरों से लैस कर दिया गया है। आपको बता दें कि पंजाब की रोपड़ जेल में रह रहे बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को वो जेल खूब रास आई थी। 2 साल में 8 बार यूपी की पुलिस उसे लेने रोपड़ गई लेकिन हर बार सेहत, सुरक्षा और कोरोना आदि को कारण बताकर पंजाब पुलिस ने उसे सौंपने से इनकार कर दिया था।

पंजाब पुलिस हर बार डॉक्टर की सलाह का हवाला देती रही कि अंसारी को डिप्रेशन, शुगर, रीढ़ से संबंधित बीमारियां हैं। ऐसे में उसे कहीं और शिफ्ट करना ठीक नहीं है। जब यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तो पंजाब सरकार ने आरोपी को पंजाब की जेल में रखने के लिए कई तर्क रखे लेकिन वे सब विफल रहे। बता दें कि पंजाब पुलिस 21 जनवरी 2019 को मोहाली पुलिस बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को रियल एस्टेट कारोबारी से रंगदारी मांगने के आरोप में उप्र से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी। इसके बाद 25 जनवरी 2019 से वह रोपड़ जेल में ही बंद था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X