1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. उत्तर प्रदेश कोविड-19 अस्पतालों में 1 लाख बेड तैयार करने वाला पहले राज्य बना

उत्तर प्रदेश कोविड-19 अस्पतालों में 1 लाख बेड तैयार करने वाला पहले राज्य बना

उत्तर प्रदेश कोरोना वायरसऐ अस्पतालों में एक लाख बेड तैयार करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। राज्य के सभी 75 जिलों में L1, L2 लेवल के सभी अस्पताल पूरी तरह से तैयार है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: May 31, 2020 15:28 IST
Uttar Pradesh becomes first state in India in making of one lakh beds in covid19 hospitals- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Uttar Pradesh becomes first state in India in making of one lakh beds in covid19 hospitals

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कोरोना वायरस अस्पतालों में एक लाख बेड तैयार करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। राज्य के सभी 75 जिलों में L1, L2 लेवल के सभी अस्पताल पूरी तरह से तैयार है। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मई के अंत तक एक लाख बेड तैयार करने का निर्देश दिया था। इसके अलावा आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान केन्द्र सरकार द्वारा घोषित आर्थिक पैकेज का सबसे ज्यादा लाभ उनके राज्य को मिला है और राज्य सरकार लॉकडाउन के कारण हुए वित्तीय नुकसान की भरपाई के लिये जनता पर कोई नया कर नहीं लगाएगी। 

योगी ने यहां ऑनलाइन माध्यम से संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा घोषित गरीब कल्याण पैकेज तथा अन्य राहतों का सबसे ज्यादा फायदा उत्तर प्रदेश को मिला है। उसी का नतीजा है कि हम अपनी योजनाओं को सफलतापूर्वक आगे बढ़ा सके हैं। उन्होंने कहा, “ चार चरणों के लॉकडाउन के बाद सोमवार से अनलॉक की कार्रवाई शुरू होगी। निरुद्ध क्षेत्रों को नियंत्रित करते हुए शेष क्षेत्रों में अधिकतम कार्यों को छूट देने की तैयारी हो रही है। हमारी आर्थिक गतिविधियां तेजी से आगे बढ़ रही हैं और पिछले माह की तुलना में इस माह भी हमें अच्छा राजस्व मिल रहा है। हम जनता पर कोई अलग से कर लगाने के बजाय उसे अधिक से अधिक राहत देने की कोशिश कर रहे हैं।” उन्होंने बताया कि आज दोपहर दो बजे उनकी सरकार दिशा-निर्देश जारी करने जा रही है। 

योगी ने कहा, “ उत्तर प्रदेश में अधिकतर विकास योजनाएं शुरू हो चुकी हैं। हमारा प्रयास है कि 'जान भी और जहान भी' दोनों के साथ लेकर चलेंगे। हम कोरोना की कड़ी तोड़कर आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं।” धार्मिक स्थलों को खोलने से अधिक लोगों के बाहर निकलने पर कोरोना विस्फोट होने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, ''अधिक लोगों के एकत्र होने को हर हाल में रोकना है। कोई बड़े आयोजन नहीं होंगे। मेरा विश्वास है कि अब हर व्यक्ति इसके लिये तैयार हो चुका है कि इस वायरस के साथ जीना है।'' 

मुख्यमंत्री ने केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले सफल वर्ष पर प्रधानमंत्री और उनकी कैबिनेट को बधाई देते हुए कहा कि पहले जो मुद्दे केवल नारों तक सीमित हुआ करते थे, उन्हें हकीकत में बदलने का काम मोदी ने किया है। योगी ने केन्द्र की जनधन योजना, स्वच्छ भारत मिशन, उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, नमामि गंगे समेत तमाम योजनाओं का जिक्र किया। 

उन्होंने दावा किया कि देश में पहली बार किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिला। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने सदियों से नारी गरिमा पर चोट करने वाली तीन तलाक की कुप्रथा को समाप्त किया। देश की सम्प्रभुता के लिए चुनौती बनी अनुच्छेद 370 को हटाकर एक सरकार की ऐतिहासिक गलती को ठीक किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों से 30 लाख प्रवासी श्रमिक और कामगार आये। सभी मानते थे कि इनके कारण अव्यवस्था फैलेगी, लेकिन हमने माना कि वे हमारी ताकत हैं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment