1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. राजस्थान
  4. उदयपुर हत्याकांड पर आरिफ मोहम्मद खान का बड़ा बयान, जानें क्या कुछ बोले

Udaipur Murder Case: 'मुस्लिम कानून कुरान से नहीं आया', उदयपुर हत्याकांड पर आरिफ मोहम्मद खान का बड़ा बयान

Udaipur Murder Case: घटना पर विभिन्न तबके के लोगों की लगातार प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। इस बीच, उदयपुर हत्याकांड को लेकर केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने रिएक्शन दिया है।

Malaika Imam Edited by: Malaika Imam @MalaikaImam1
Updated on: June 30, 2022 6:27 IST
Kerala Governor Arif Mohammad Khan- India TV Hindi News
Image Source : PTI Kerala Governor Arif Mohammad Khan

Highlights

  • मदरसों में बच्चों की पढ़ाई को लेकर उठाया सवाल
  • 'क्या ईशनिंदा पर सिर कलम करना पढ़ाया जा रहा?'
  • 'मुस्लिम कानून कुरान से नहीं आया, इंसान ने लिखा है'

Udaipur Murder Case: नूपुर शर्मा विवाद में कन्हैयालाल की हत्या से पूरे देश में उबाल है। हत्यारों ने पूरी वारदात का वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर डाल दिया। इस घटना के बाद राजस्थान में तनाव का माहौल है। राज्य में एहतियातन 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई है। इस पूरे मामले की जांच NIA ने अपने हाथ में ले ली है। हत्या में शामिल दोनों आरोपियों से पूछताछ जारी है। घटना पर विभिन्न तबके के लोगों की लगातार प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। इस बीच, उदयपुर हत्याकांड को लेकर केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने रिएक्शन दिया है। 

'लक्षण दिखने पर चिंतित होते हैं, लेकिन बीमारी को मानने से इनकार कर देते हैं' 

आरिफ मोहम्मद खान ने घटना की निंदा करते हुए मदरसों में बच्चों की पढ़ाई को लेकर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा,"सवाल यह है कि क्या हमारे बच्चों को ईशनिंदा करने वालों का सिर कलम करना पढ़ाया जा रहा है? मुस्लिम कानून कुरान से नहीं आया है, वह किसी इंसान ने लिखा है, जिसमें सिर कलम करने का कानून है और यह कानून बच्चों को मदरसा में पढ़ाया जा रहा है।" उन्होंने कहा कि हम लक्षण दिखने पर चिंतित होते हैं, लेकिन गंभीर बीमारी को मानने से इनकार कर देते हैं।

 सरकार आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे- असगर अली इमाम मेहदी सलाफी 

मरकजी जमीयत अहले हदीस हिंद के मौलाना असगर अली इमाम मेहदी सलाफी ने उदयपुर हत्याकांड की कड़ी निंदा की है। उन्होंने लोगों से खुद पर काबू रखने और कानून-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। साथ ही उन्होंने यह भी मांग की कि सरकार आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे।

 यह दुखद और बेहद निंदनीय है, यह इस्लाम के खिलाफ है- मौलाना हकीमुद्दीन कासमी 

जमीयत उलेमा-ए-हिंद के महासचिव मौलाना हकीमुद्दीन कासमी ने उदयपुर हत्याकांड को अमानवीय कृत्य बताया है। उन्होंने कहा, "यह कानून-व्यवस्था के लिए बेहद खतरनाक है। हमारे देश में कानून है। हम हमेशा कानून को हाथ में लेने वाले के खिलाफ हैं। यह दुखद और बेहद निंदनीय है। यह इस्लाम के खिलाफ है।"

कन्हैयालाल पर धारदार हथियार से 26 वार किए गए थे, शरीर पर 13 कट के निशान 

गौरतलब है कि उदयपुर में आज बुधवार दोपहर को कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले कन्हैयालाल की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई चौकाने वाले खुलासे हुए। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, हथियारों ने कन्हैयालाल पर धारदार हथियार से 26 वार किए थे। उनके शरीर पर 13 कट थे, जिनमें से ज्यादातर गर्दन के आस-पास पाए गए थे। वहीं, हथियारों ने कन्हैयालाल के सिर को शरीर से अलग करने की भी कोशिश की थी।