Coronavirus Vaccine Side Effects: Covid-19 टीका लेने के बाद महिला डॉक्टर को मारा लकवा, एक की हो चुकी है मौत

Coronavirus Vaccine Side Effects: भारत में आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश और हरियाणा को छोड़कर सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के सभी जिलों में कोविड-19 वैक्सीनेशन का ड्राई रन किया जाएगा। हालांकि, वैक्सीन के साइड इफेक्ट के तमाम केस आए दिन सामने आ रहे हैं।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 07, 2021 16:27 IST
Coronavirus Vaccine Side Effects: Mexican doctor admitted to ICU after receiving Pfizer vaccine- India TV Hindi
Image Source : AP Coronavirus Vaccine Side Effects: वैक्सीन के साइड इफेक्ट के तमाम केस आए दिन सामने आ रहे हैं। 

Coronavirus Vaccine Side Effects: कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए आई वैक्सीन को लेकर दुनिया भर के लोगों में एक उम्मीद जगी है कि अब इस बीमारी का प्रभाव कुछ कम होगा। भारत में भी आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश और हरियाणा को छोड़कर सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के सभी जिलों में कोविड-19 वैक्सीनेशन का ड्राई रन किया जाएगा। हालांकि, वैक्सीन के साइड इफेक्ट के तमाम केस आए दिन सामने आ रहे हैं। ऐसा ही एक केस मेक्सिको में सामने आया है। यहां एक महिला डॉक्टर को कोविड-19 की फाइजर वैक्सीन लगवाने के बाद लकवा मार गया है।

ये भी पढ़ें: 81 वर्षीय महिला ने 35 साल के युवक से की शादी, सामने आई ये मुसीबत

वैक्‍सीन लगाने के आधे घंटे के अंदर ही बिगड़ी तबीयत

बताया जा रहा है कि मैक्सिको में डॉक्‍टर को फाइजर की कोरोना वैक्‍सीन लगाने के आधे घंटे के अंदर ही शरीर में चकत्‍ते पड़ने, ऐंठन, कमजोरी और सांस लेने में दिक्‍कत के बाद आईसीयू में भर्ती कराया गया था, जिसके बाद गंभीर रूप से बीमार हुई महिला डॉक्‍टर कार्ला सेसेलिया पेरेज को लकवा मार गया है। बीमार डॉक्‍टर के परिवार वालों ने अपील की है कि वैक्‍सीन के इस तरह के गंभीर दुष्‍प्रभाव को लेकर अतिरिक्‍त जांच की जरूरत है।

किया गया दिमाग और स्‍पाइनल कॉर्ड में सूजन का इलाज
मामले को लेकर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि डॉक्‍टर कार्ला के दिमाग और स्‍पाइनल कॉर्ड में सूजन का इलाज किया गया है। वैक्‍सीन लगने से पहले डॉक्‍टर कार्ला को एक एंटीबायोटिक से एलर्जी थी और इसी कारण उन्हें गंभीर दुष्‍प्रभाव का सामना करना पड़ा है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय का कहना है, ''हम इस बात पर जोर नहीं दे रहे हैं कि डॉक्‍टर कार्ला को वैक्सीन के चलते लकवा की शिकायत आई है। हालांकि, इस मामले की जांच करना जरूरी है कि क्या इसका संबंध वैक्सीन से है या नहीं। सही कारण का पता लगाने के लिए शोध की जरूरत है।''

ये भी पढ़ें: जिनके पास नहीं है एड्रेस प्रूफ वो ऐसे लगवाएं Coronavirus का फ्री टीका

पुर्तगाल में एक हेल्थ वर्कर की हो चुकी है मौत
बता दें कि इससे पहले पुर्तगाल में एक हेल्थ वर्कर की फाइजर वैक्सीन लेने के 48 घंटे के भीतर अचानक मौत हो गयी थी। 41 साल की सोनिया ऐसवेदो को वैक्सीन का डोज मिलने के 48 घंटे के भीतर नए साल के दिन अपने घर में मृत पाया गया। फिलहाल शव का पोस्टमार्टम नहीं हुआ है। लेकिन मृतक के पिता फाइजर वैक्सीन पर सवाल उठा रहे हैं। 

ये भी पढ़ें: पांचवीं से 12वीं कक्षा के लिए 7 जनवरी से खुल जाएंगे यहां के स्कूल, ऐसा करने वाला यह पहला राज्य

नहीं दिखे थे कोई भी साइड इफेक्ट
पोर्टो इंस्टीट्यूट ऑफ ऑन्कोलॉजी में पीडियाट्रिक्स में काम करने वाली और दो बच्चों की मां सोनिया में टीका लगने के बाद कोई भी साइड इफेक्ट नहीं दिखाई दिए थे। सोनिया एसेवेडो के पिता अबिलियो ऐसवेदो ने पुर्तगाली दैनिक कोरेरियो डा मनहा से कहा, वह ठीक थी। उसे कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं थी। उसे कोविड-19 वैक्सीन दी गई थी लेकिन उसमें कोई लक्षण नहीं थे। मुझे नहीं पता कि क्या हुआ। मुझे सिर्फ जवाब चाहिए।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन