1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. Coronavirus in America: व्हाइट हाउस पहुंचा कोरोना वायरस, एक ऑफिसर पॉजिटिव जबकि अमेरिकी पत्रकार की मौत

Coronavirus in America: व्हाइट हाउस पहुंचा कोरोना वायरस, एक ऑफिसर पॉजिटिव जबकि अमेरिकी पत्रकार की मौत

दुनिया के सुरक्षित जगहों में शुमार अमेरिकी राष्ट्रपति के दफ्तर व्हाइट हाउस में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। यहां पर एक अधिकारी कोरोना वायरस पॉजिटिव मिला है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 21, 2020 12:36 IST
coronavirus, white house, Washington, america- India TV
coronavirus in white house

वाशिंगटन। अमेरिका में लगातार कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक 252 लोगों की मौत हो गई है साथ ही एक पत्रकार की मौत होने की भी पुष्टि हुई है। दुनिया के सुरक्षित जगहों में शुमार अमेरिकी राष्ट्रपति के दफ्तर व्हाइट हाउस में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। यहां पर एक अधिकारी कोरोना वायरस पॉजिटिव मिला है। पीटीआई के मुताबिक अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेनेस के साथ नियुक्त एक अधिकारी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है। इसके साथ ही अमेरिका कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा संक्रमित छठा देश बन गया है। अमेरिका के कैलिफोर्निया समेत कई इलाकों को लॉकडाउन कर दिया गया है। 

अमेरिका में 2 अमेरिकी सांसदों समेत इस जानलेवा बीमारी से कुल संक्रमित लोगों का आंकड़ा 20,000 को पार कर गया है, जबकि मरने वाले लोगों की संख्या 250 से ज्यादा हो गई है। स्वास्थ्य देखभाल अधिकारियों और नेताओं ने तेजी से फैल रहे इस संक्रामक रोग को काबू में करने के प्रयास तेज कर दिए हैं। कोरोना से दुनियाभर में 2 लाख 77 हजार लोग इससे संक्रमित हुए हैं। 

व्हाइट हाउस में भी कोरोना वायरस की दस्तक के खुलासे के बाद से ही हड़कंप मचा हुआ है। अब इस बात की जांच की जा रही है कि ये शख्स व्हाइट हाउस में किन किन लोगों के साथ संपर्क में आया था। हालांकि जानकारी मिली है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उप राष्ट्रपति माइक पेनेस पिछले कुछ दिनों से इस व्यक्ति के साथ संपर्क में नहीं हैं।

किन-किन लोगों के संपर्क में आया था शख्स

उप राष्ट्रपति के प्रेस सचिव कैटि मिलर ने कहा कि शुक्रवार शाम हमें बताया गया कि उप राष्ट्रपति माइक पेनेस का एक दफ्तर पॉजिटिव पाया गया है। उन्होंने कहा कि अब स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइंस के मुताबिक ये पता लगाया जा रहा है कि ये शख्स किन किन लोगों के साथ संपर्क में आया था।  

व्हाइट हाउस में प्रवेश के लिए सख्त गाइडलाइन

व्हाइट हाइस ने इस परिसर में प्रवेश के लिए सख्त गाइडलाइन जारी किए हैं। राष्ट्रपति के डॉक्टरों की टीम और सीक्रेट सर्विस के एजेंट हर उस व्यक्ति के तापमान की जांच करते हैं जो व्हाइट हाउस में प्रवेश करता है। व्हाइट हाउस के प्रेस ब्रीफिंग रूम में भी सीटिंग अरेंजमेंट को बदल दिया गया है ताकि एक उचित दूरी बरकरार रखा जा सके।

अमेरिकी पत्रकार की मौत

कोरोना वायरस से जूझ रहे अमेरिकी पत्रकार लैरी एडवर्थ की मौत हो गई है। एनबीसी न्‍यूज में काम करने वाले लैरी एडवर्थ कोरोना वायरस से संक्रमित थे। एनबीसी न्‍यूज के चेयरमैन एंड्रू लैक ने इस बात की पुष्टि की है। उन्‍होंने बताया कि लैरी पहले से बीमार चल रहे थे और इसी बीच कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए। दुनियाभर में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में पत्रकार अपनी जान जोखिम में डालकर इस बीमारी के कहर का सामना कर रहे हैं। 

रिपोर्ट से हिली UK सरकार 

चीन से फैले खतरनाक कोरोना वायरस की दहशत पूरी दुनिया में दिख रही है और करोड़ों लोगों को अपने घरों में रहने को मजबूर कर दिया है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पूरे ब्रिटेन में देशव्यापी बंद (लॉकडाउन) के आदेश दिए हैं। ऐसा माना जा रहा है कि ब्रिटेन में लॉकडाउन के पीछे एक ब्रिटिश शोध रिपोर्ट है, जिसने चौंकाने वाला अनुमान लगाया है। कोरोना वायरस पर लंदन के इंपीरियल कॉलेज की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया है कि कोरोना वायरस पर अगर काबू नहीं पाया गया तो यह ऐसे ही तीव्र गति से फैलता रहा तो ब्रिटेन में करीब 5 लाख 10 लोगों की मौत हो सकती है। 

बीते 50 घंटे में 10,000 लोग पॉजिटिव

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अमेरिका में शुक्रवार शाम तक कोरोना वायरस से 252 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 20,000 हो गई है। अमेरिका से मिले आंकड़ों पर गौर करें तो यहां 50 घंटों में 10000 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।

दुनियाभर में कोरोना वायरस से अब तक करीब 11 हजार लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कोरोना से दुनियाभर में 2 लाख 77 हजार लोग इससे संक्रमित हुए हैं। ब्रिटेन में लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है। ठीक उसी तरह अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य ने भी बड़ा कदम उठाते हुए लोगों से किसी भी हाल में अपने घर में ही रहने को कहा है। अमेरिका ने आर्थिक मोर्चे की दिक्कतों को दूर करने के लिए एक हजार अरब के आपातकालीन राहत पैकेज का वादा किया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X