Saturday, June 22, 2024
Advertisement

पाकिस्तान को बैलिस्टिक मिसाइलों के पुर्जे बेचने वाली चीनी कंपनी पर US ने लिया ये बड़ा एक्शन, बौखलाए जिनपिंग

चीन और पाकिस्तान की करतूतों को रोकने के लिए अमेरिका ने बड़ा सख्त कदम उठाया है। अमेरिका के कदम से पाकिस्तान के मिसाइल कार्यक्रमों को तगड़ा झटका लगा है। हाल ही में पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली का प्रक्षेपण किया था। अमेरिकी ने पाक को बैलिस्टिक मिसाइलों के पुर्जे बेचनी वाली 3 चीनी कंपनियों पर बैन लगा दिया है।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: October 21, 2023 13:36 IST
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और चीन के शी जिनपिंग।- India TV Hindi
Image Source : AP अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और चीन के शी जिनपिंग।

अमेरिका ने पाकिस्तान और चीन को एकसाथ बड़ा झटका दिया है। चीनी की एक कंपनी पाकिस्तान को बैलिस्टिक मिसाइलों के पुर्जे बेज रही थी। जबकि सामूहिक हथियारों की बिक्री प्रतिबंधित है। चीन की इस करतूत की जानकारी होने पर अमेरिका ने तत्काल कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान को बैलिस्टिक मिसाइलों के पुर्जों की आपूर्ति करने वाली चीनी कंपनी पर बैन लगा दिया है। अमेरिकी की इस सख्त कार्रवाई से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग बौखला गए हैं। इधर पाकिस्तान को भी तगड़ा झटका लगा है। जो बाइडेन प्रशासन ने चीन और पाकिस्तान को अपने इस फैसले से सख्त संदेश भी दे दिया है।

पाकिस्तान को सिर्फ एक नहीं, बल्कि 3 चीनी कंपनियां बैलिस्टिक मिसाइलों के पुर्जों की सप्लाई किया करती थीं। इसके बाद मेरिका ने पाकिस्तान के बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम के लिए मिसाइलों से जुड़े उपकरणों की आपूर्ति करने के वास्ते तीनों चीनी कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि ये प्रतिबंध वैश्विक अप्रसार व्यवस्था के तहत लगाए गए हैं। मंत्रालय ने एक बयान में कहा,''आज, हम कार्यकारी आदेश 13382 के अनुसार तीन कंपनियों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं जो सामूहिक विनाश के हथियारों के प्रसारकों और उनके वितरण से जुड़ी हैं।

पाकिस्तान ने हाल ही में किया था बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली का प्रक्षेपण

उक्त तीनों कंपनियां चीन की हैं और इन्होंने पाकिस्तान के बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम के मिसाइल से जुड़े पुर्जों एवं उपकरणों की आपूर्ति की है।'' बता दें कि पाकिस्तान का चीन सदाबहार सहयोगी है जो इस्लामाबाद के सैन्य आधुनिकीकरण कार्यक्रम के लिए हथियारों और रक्षा उपकरणों का मुख्य आपूर्तिकर्ता रहा है। यह तीनों कंपनियां जनरल टेक्नोलॉजी लिमिटेड, बीजिंग लुओ लुओ टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड और चांगझौ यूटेक कंपोजिट कंपनी लिमिटेड हैं। हाल ही में पाकिस्तान ने अबाबील बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली का प्रक्षेपण किया था। इसके कुछ दिनों बाद ही अमेरिका ने यह प्रतिबंध लगाया है। इससे पाक और चीन के मिशन को बड़ा सदमा लगा है। (भाषा) 

यह भी पढ़ें

हमास ने इजरायल पर क्यों किया हमला, बाइडेन ने 2 अमेरिकी बंधको की रिहाई के बाद बता दी ये नई वजह

भारत-कनाडा राजनयिक विवाद पर ब्रिटेन और अमेरिका ने बदला रुख, कही ये अहम बात

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement