bihar-vidhan-sabha-chunav-2020
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. इलेक्‍शन
  4. बिहार विधान सभा चुनाव 2020
  5. शिवसेना का गुप्तेश्वर पांडे को 'सबक सिखाने' का प्लान फेल, JDU कर गई 'खेल'

शिवसेना का गुप्तेश्वर पांडे को 'सबक सिखाने' का प्लान फेल, JDU कर गई 'खेल'

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूर की मौत के मामले को उठाने के कारण शिवसेना की नजरों में खटकने वाले बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे (अभी JDU में शामिल हो गए हैं) के खिलाफ बिहार चुनाव में शिवसेना अपना उम्मीदवार खड़ा करना चाहती थी।

Lakshya Rana Lakshya Rana
Updated on: October 08, 2020 10:01 IST
धरा रह गया शिवसेना का गुप्तेश्वर पांडे को 'सबक सिखाने' का प्लान, JDU कर गई 'खेल'- India TV Hindi
Image Source : FILE धरा रह गया शिवसेना का गुप्तेश्वर पांडे को 'सबक सिखाने' का प्लान, JDU कर गई 'खेल'

पटना/मुंबई: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूर की मौत के मामले को उठाने के कारण शिवसेना की नजरों में खटकने वाले बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे (अभी JDU में शामिल हो गए हैं) के खिलाफ बिहार चुनाव में शिवसेना अपना उम्मीदवार खड़ा करना चाहती थी। लेकिन, JDU ने गुप्तेश्वर पांडे को टिकट न देकर शिवसेना के इस प्लान पर ही पानी फेर दिया। जेडीयू ने बुधवार को अपने 115 उम्मीदवारों की सूची जारी की, जिसमें गुप्तेश्वर पांडे का नाम नहीं हैं।

शिवसेना का प्लान फेल!

शिवसेना ने बुधवार को ही बिहार में JDU का दामन थामने वाले राज्य के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे के खिलाफ विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया था। शिवसेना का कहना था कि गुप्तेश्वर पांडे ने महाराष्ट्र का अपमान किया है, महाराष्ट्र पुलिस पर झूठे आरोप लगाए हैं, ऐसे में उनको सबक सिखाने के लिए शिवसेना उनके खिलाफ उम्मीदवार उतारेगी। लेकिन, JDU ने पांडे को टिकट ही नहीं दिया।

टिकट न मिलने पर भावुक हुए गुप्तेश्वर पांडे

पांडे ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा है, "अपने अनेक शुभचिंतकों के फ़ोन से परेशान हूँ। मैं उनकी चिंता और परेशानी भी समझता हूँ। मेरे सेवामुक्त होने के बाद सबको उम्मीद थी कि मैं चुनाव लड़ूँगा लेकिन मैं इस बार विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ रहा। हताश निराश होने की कोई बात नहीं है। धीरज रखें। मेरा  जीवन संघर्ष में ही बीता है। मैं जीवन भर जनता की सेवा में रहूँगा। कृपया धीरज रखें और मुझे फ़ोन नहीं करे।"

BJP-JDU सीट बंटवारे में गया पांडे का टिकट!

कयास लगाए जा रहे थे कि जनता दल यूनाइटेड (JDU) से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत करने वाले पांडे को बक्सर से टिकट दिया जा सकता है। बता दें कि, गुप्तेश्वर पांडेय बक्सर से बीजेपी का टिकट चाहते थे लेकिन जेडीयू और भाजपा के बीच सीट बंटवारे में ये सीट बीजेपी के खाते में चली गई। बीजेपी ने बुधवार देर शाम बक्‍सर सहित दो और सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा कर दी।

JDU में कब शामिल हुए गुप्तेश्वर पांडेय?

गौरतलब है कि बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता वाले जनता दल युनाइटेड (जदयू) में 27 सितंबर को शामिल हुए थे। उन्हें पटना में मुख्यमंत्री आवास पर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने जदयू की प्राथमिक सदस्यता दिलायी थी।

कई नेताओं की मौजूदगी में ज्वाइन की JDU

इस दौरान बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, पार्टी के सांसद एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, नवनियुक्त पार्टी के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष तथा राज्य के मंत्री अशोक चौधरी और बिहार विधान परिषद सदस्य संजय गांधी उपस्थिति थे। इनकी मौजूदगी में गुप्तेश्वर पांडेय JDU में शामिल हुए।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020 News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन
Write a comment