1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. इलेक्‍शन
  4. इलेक्‍शन न्‍यूज
  5. UP Election 2022: अखिलेश यादव 'अपराधियों, भ्रष्टाचारियों के सरगना', केशव प्रसाद मौर्य का हमला

UP Election 2022: अखिलेश यादव 'अपराधियों, भ्रष्टाचारियों के सरगना', केशव प्रसाद मौर्य का हमला

केशव प्रसाद मौर्य ने अपने जारी एक बयान में कहा कि समाजवादी पार्टी की उम्मीदवारों की सूची में गुंडों, अपराधियों, माफियाओं, दंगाइयों, भ्रष्टाचारियों का बोलबाला है। लेकिन भाजपा के उम्मीदवार 'सबका साथ-सबका विकास' का शानदार गुलदस्ता हैं।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 25, 2022 19:58 IST
UP election 2022- India TV Hindi
Image Source : PTI/ FILE PHOTO UP election 2022

Highlights

  • अखिलेश यादव के खुद को विकास पुरुष बताने वाले बयान पर केशव प्रसाद का तंज
  • 10 मार्च को समाजवादी पार्टी समाप्तवादी पार्टी बन जाएगी- उप मुख्यमंत्री मौर्य
  • 2017 में जितनी सीटें सपा को मिली थी, अबकी बार अखिलेश यादव उसे भी नहीं बचा पाएंगे- बीजेपी

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर एक तरफ जहां नेताओं के पार्टी बदलने का सिलसिला जारी है। वहीं, बयानबाजी भी चरम पर है। यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के खुद को विकास पुरुष बताने वाले बयान पर तंज कसते हुए कहा कि वह विकास पुरूष नहीं बल्कि 'विनाश' पुरुष हैं। जनता इसकी गवाह है और वह अखिलेश के झांसे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि सपा मुखिया अखिलेश यादव 'अपराधियों, दंगाइयों और भ्रष्टाचारियों' के गैंग के सरगना हैं।

केशव प्रसाद मौर्य ने अपने जारी एक बयान में कहा कि समाजवादी पार्टी की उम्मीदवारों की सूची में गुंडों, अपराधियों, माफियाओं, दंगाइयों, भ्रष्टाचारियों का बोलबाला है। लेकिन भाजपा के उम्मीदवार 'सबका साथ-सबका विकास' का शानदार गुलदस्ता हैं। मौर्य ने कहा कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव कहते हैं कि यह नई सपा है, लेकिन यह वही सपा है जिससे जनता खफा है। उत्तर प्रदेश  की जनता ने विदाई कर दी और 10 मार्च को समाजवादी पार्टी समाप्तवादी पार्टी बन जाएगी।

सपा मुखिया के पाकिस्तान और जिन्ना के बयानों पर पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि मुझे लगता है कि अखिलेश यादव इस समय बौखलाहट में हैं। इसलिए इस तरह के बयान दे रहे हैं। उनको पहले किसी ने सपना दिखाया था कि उत्तर प्रदेश में वो सरकार बना रहे हैं, मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं, लेकिन जैसे-जैसे हकीकत उनके सामने आ रही है तो उनकी घबराहट भी जनता के सामने आने लगी है। उत्तर प्रदेश में 2017 में जितनी सीटें सपा को मिली थी, अबकी बार अखिलेश यादव उसे भी नहीं बचा पाएंगे।

भाजपा के सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के सवाल पर उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा का लक्ष्य विकास और केवल विकास है। उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिले विकास योजनाओं के केन्द्र में हैं। सपा-बसपा के शासनकाल में केवल पांच जिले ही विकास के केंद्र में होते थे। इसलिए भाजपा की सपा, कांग्रेस और बसपा से तुलना नहीं हो सकती। भाजपा सुशासन, विकास, भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने वाली, सबको सुरक्षा प्रदान करने वाली, सबका साथ-सबका विकास करने वाली पार्टी है।

इनपुट- आईएएनएस

erussia-ukraine-news