1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. Healthy Eating: आप भी खाते हैं रात के बचे हुए चावल, चिकन या अंडे? भूलकर भी ना खाएं ये 5 फूड्स

Healthy Eating: आप भी खाते हैं रात के बचे हुए चावल, चिकन या अंडे? भूलकर भी ना खाएं ये 5 फूड्स

बहुत ही कम ऐसे लोग हैं जो बिल्कुल भी बासी खाना नहीं पसंद करते। ज्यादातर घरों में बचे हुए खाने को लोग दोबारा गरम करके बड़े चाव से खाते हैं। लेकिन, ऐसे बहुत से फूड्स हैं जिन्हें दोबारा गरम करके खाने से फूड प्वॉइजनिंग का खतरा बढ़ जाता है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Published on: January 31, 2021 17:39 IST
FOOD ITEMS - India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/EATCLEANWECO FOOD ITEMS 

सर्दी में बासी खाना सभी को पसंद आता है, इसकी एक वजह ये भी होती है कि सर्दी में रात का खाना सुबह तक खराब नहीं होता है। बासी चीजों का सेवन बुरा नहीं होता है लेकिन इन 5 फूड्स का सेवन आपके सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए इन सभी फूड्स को गर्मी और सर्दी, दोनों ही मौसम में बिल्कुल भी ना खाएं। आइए जानते हैं कि वो कौन से फूड्स हैं जिन्हें बासी खाने से आपकी तबीयत खराब हो सकती है।  

खाने में ये मामूली बदलाव करके कंट्रोल कर सकते हैं यूरिक एसिड

इन बासी चीजों को दोबारा गर्म ना करें

अंडा

अंडे में सबसे ज्यादा साल्मोनेला पाया जाता है। साल्मोनेला एक तरह का बैक्टीरिया है जो कच्चे या अधपके अंडे में होता है। इसकी वजह से बुखार, पेट में ऐंठन या डायरिया जैसी समस्या शुरू हो सकती है। ज्यादातर लोग अंडे को कम हीट पर पकाते हैं और इसकी वजह से बैक्टीरिया मरते नहीं हैं और बासी अंडा खाने से ये बैक्टीरिया दोगुने हो जाते हैं। 

POTATOES

Image Source : INSTAGRAM/THEARTOFFOODFANTASY
POTATOES 

आलू 

आलू को पकाने के बाद अगर लंबे समय तक आप ठंडा छोड़ देते हैं तो इसमें क्लोस्ट्रीडियम बोटुलिनम नाम का बैक्टीरिया आ जाता है। इस बैक्टीरिया के कारण कई बीमारियां हो जाती हैं जिसमें धुंधला दिखना, मुंह में सूजन आना और सांस लेने में दिक्कत होना। आलू को कभी भी माइक्रोवेव या किसी तरह से रिहीट नहीं करना चाहिए।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक नुस्खे, कुछ ही दिनों में उतर जाएगा चश्मा 

चिकन 

अंडे की तरह कच्चे चिकन में भी साल्मोनेला बैक्टीरिया पाया जाता है। बहुत देर तक रखने पर ये बैक्टीरिया तेजी से बढ़ता है। इससे बचने के लए चिकन को हाई हीट पर अच्छे से पकाना चाहिए। 

SPINACH

Image Source : INSTAGRAM/MYCULINARYWORLD_RACHI
SPINACH 

पालक 

पालक में नाइट्रेट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो ज्यादा पकाने पर कार्सिनोजेनिक नाइट्रोसेमाइंस में बदलता है। इस वजह से पालक को फिर से गरम करके खाने से बचना चाहिए। यही नहीं पालक को कच्चा या हल्का पकाकर खाने ज्यादा फायदेमंद होता है।  

मोतियाबिंद, ग्लूकोमा और स्क्रीन टाइम के कारण आंखें हुई धुंधली, स्वामी रामदेव से जानिए आंखों का कारगर उपचार

चावल 

पके हुए चावल को रूम टेंपरेचर पर देर तक छोड़ने से उसमें बेसिलस सेरेस बैक्टीरिया बनने लगते हैं। बचे हुए चावल को कई बार गरम करके खाने से फूड प्वॉइजिंग भी हो सकता है। कोशिश करें कि चावल बनाने के कुछ घंटों के अंदर तक खाकर खत्म कर दें। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Healthy Eating: आप भी खाते हैं रात के बचे हुए चावल, चिकन या अंडे? भूलकर भी ना खाएं ये 5 फूड्स News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
X