1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची से इस देश को बाहर करने की पहल, भारत ने स्वागत किया

आतंकवाद प्रायोजक देशों की सूची से इस देश को बाहर करने की पहल, भारत ने स्वागत किया

विदेश मंत्रालय (एमईए) ने बयान जारी कर जुबा शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने का स्वागत किया और उम्मीद जताई कि इससे लोकतांत्रिक बदलाव होगा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 09, 2020 17:29 IST
India welcomes removal of Sudan from state sponsors of terrorism list- India TV Hindi
Image Source : FILE विदेश मंत्रालय (एमईए) ने बयान जारी कर जुबा शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने का स्वागत किया।

नयी दिल्ली: भारत ने सूडान को आतंकवाद के प्रायोजक देशों की अमेरिकी सूची से बाहर निकाले जाने का सोमवार को स्वागत किया। साथ ही इसने अफ्रीकी देश और इजराइल के बीच संबंधों के सामान्य होने का भी स्वागत किया। विदेश मंत्रालय (एमईए) ने बयान जारी कर जुबा शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने का स्वागत किया और उम्मीद जताई कि इससे लोकतांत्रिक बदलाव होगा और सूडान के विकास, शांति और सुरक्षा को बढ़ाने में योगदान मिलेगा।

सूडान की अस्थायी सरकार ने पिछले महीने कई आतंकवादी समूहों के साथ शांति समझौता किया ताकि वर्षों से चल रहे गृह युद्ध को समाप्त किया जा सके जिसमें देश के लाखों लोग मारे गए। इसी सिलसिले में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषणा की थी कि वॉशिंगटन, सूडान को आतंकवाद के प्रायोजक देशों की सूची से हटा देगा।

इसके कुछ दिनों बाद सूडान तीसरा देश बना जिसने अमेरिकी मध्यस्थता में इजराइल के साथ संबंधों को सामान्य बनाने की घोषणा की। विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘सूडान के साथ भारत के रिश्ते ऐतिहासिक और विशिष्ट हैं और साझे मूल्यों तथा लोगों के बीच निकट संपर्क पर आधारित हैं। हम सूडान को आतंकवाद के प्रायोजक देशों की सूची से हटाने और इजराइल के साथ संबंधों को सामान्य करने की पहल का स्वागत करते हैं।’’

इसने कहा, ‘‘हम सूडान की अस्थायी सरकार और जनता को जुबा शांति समझौते पर हस्ताक्षर के लिए बधाई देते हैं और उम्मीद करते हैं कि इन सकारात्मक पहल से वहां लोकतंत्र की शुरुआत होगी और सूडान के विकास, शांति, सुरक्षा और स्थिरता को बढ़ावा देने में सहयोग मिलेगा।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment