1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. मुंबई में मॉनसून से पहले चक्रवाती तूफान का खतरा, अगले 48 घंटों के लिए अलर्ट जारी

मुंबई में मॉनसून से पहले चक्रवाती तूफान का खतरा, अगले 48 घंटों के लिए अलर्ट जारी

अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान का मुंबई और कोंकण के इलाके में असर देखा जा सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर में निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है जिस कारण पश्चिमी तट से करीब 300 किलोमीटर दूर तूफान के हालात बने हुए हैं। इसी तूफान के कारण तटीय इलाकों में बारिश हो रही है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 11, 2019 7:37 IST
मुंबई में मॉनसून से पहले चक्रवाती तूफान का खतरा, अगले 48 घंटों के लिए अलर्ट जारी- India TV Hindi
मुंबई में मॉनसून से पहले चक्रवाती तूफान का खतरा, अगले 48 घंटों के लिए अलर्ट जारी

नई दिल्ली: मुंबई में इस सीजन की पहली बारिश हुई जिससे तापमान में जबरदस्त गिरावट हुआ। मॉनसून से पहले ये बारिश जितनी राहत लेकर आई है उतनी ही आफत भी साथ लाई है। मुंबई में अगले 24 से 48 घंटों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। अरब सागर में कम दबाव के चलते एक चक्रवाती तूफान तटीय इलाके की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक इस तूफान के कारण तेज हवाओं के साथ बारिश होगी। मौसम विभाग की मानें तो मॉनसून से पहले हो रही बारिश की वजह वो चक्रवाती तूफान है जो अरब सागर में उठा है।

तेज बारिश के कारण कहीं सड़कों पर जल भराव हो गया तो कहीं-कहीं इसका असर सड़क और लोकल ट्रेन के ट्रैफिक पर भी पड़ा। हालांकि बारिश के कारण तापमान में जबरदस्त गिरावट आई है। बारिश ने मुंबईकरों को गर्मी से राहत दी तो साथ कुछ मुसीबत भी लेकर आई। मुंबई से सटे पालघर के वसई विरार महानगरपालिका में कई घंटों तक बिजली गुल रही, ठाणे शहर के डोम्बिवली, उल्हासनगर और शहापुरा में भी बीजली गुल रही। वहीं नवी मुंबई के पनवेल सिटी में भी पोल गिरने के कारण बिजली सप्लाई बंद रही।

तेज बारिश के बाद कई इलाकों में पानी भर गया जिससे लोकल ट्रेनों की चाल सुस्त हो गई। बारिश के बाद हार्बर लोकल रूट पर लोकल धीमी रफ्तार से चली। पहली बारिश में ही चूनाभट्टी स्टेशन पर तकनीकी खराबी के कारण सीएसटी से वाशी और पनवेल की तरफ जानेवाली सेवा भी प्रभावित हुई। जल भराव के कारण दूर से आने वाली कई ट्रेनों को रोका गया है जिससे बाहर से आने वाली ट्रेनें भी कई घंटे की देरी से मुंबई पहुंच रही हैं। बारिश के कारण बांद्रा स्टेशन पर शॉर्ट सर्किट होने से लोकल ट्रेन के पेंटाग्राफ में भी ब्लास्ट हुआ जिससे अफरा-तफरी मच गई और लोग चलती ट्रेन से कूदने लगे।

अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान का मुंबई और कोंकण के इलाके में असर देखा जा सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर में निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है जिस कारण पश्चिमी तट से करीब 300 किलोमीटर दूर तूफान के हालात बने हुए हैं। इसी तूफान के कारण तटीय इलाकों में बारिश हो रही है। हालांकि राहत की बात ये है कि ये तूफान महाराष्ट्र के तट से नहीं टकराएगा लेकिन इसकी वजह से तेज हवाएं और समुद्री विक्षोभ पैदा हो सकता है इसलिए मछुआरों को समंदर में जाने से मना किया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक 24 से 48 घंटे में अरब सागर में निम्न दबाव वाला क्षेत्र और गहरा हो जाएगा जिससे तटीय इलाकों में भारी बारिश होगी। अंदेशा है कि इस दौरान 135 से 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। यानी मुंबई और तटीय इलाके के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम हैं। कुछ इलाकों में बेहद तेज बारिश हो सकती है। हालांकि मुंबई वालों को मॉनसून का इंतजार है ताकि मौसम मेहरबान हो और उन्हें गर्मी से निजात मिले।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X