1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. असम में राहुल ने किया भाजपा पर प्रहार, बोले- अगर हम सत्ता में आए तो CAA कभी लागू नहीं करेंगे

असम में राहुल ने किया भाजपा पर प्रहार, बोले- अगर हम सत्ता में आए तो CAA कभी लागू नहीं करेंगे

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने असम के लोगों को एकजुट किया, इससे पहले हिंसा के चलते इस बात की कोई गारंटी नहीं हुआ करती थी कि कोई व्यक्ति जनसभा से घर वापस लौट पाएगा कि नहीं। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 14, 2021 14:53 IST
Rahul Gandhi says will not implement CAA in Assam if returns to power असम में राहुल ने किया भाजपा पर- India TV Hindi
Image Source : PTI असम में राहुल ने किया भाजपा पर प्रहार, बोले- अगर हम सत्ता में आए तो CAA कभी लागू नहीं करेंगे

शिवसागर. असम में इस साल चुनाव होने है। असम की सत्ता में लौटने के लिए कांग्रेस पार्टी ने प्रचार शुरू कर दिया है। रविवार को असम के शिवसागर में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी और केंद्र व असम सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि परिस्थितियां चाहे जो भी रहें, अगर हम सत्ता में आए तो सीएए कभी लागू नहीं करेंगे।

पढ़ें- जम्मू में बड़ी साजिश नाकाम, 7 किलो IED बरामद

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने असम के लोगों को एकजुट किया, इससे पहले हिंसा के चलते इस बात की कोई गारंटी नहीं हुआ करती थी कि कोई व्यक्ति जनसभा से घर वापस लौट पाएगा कि नहीं। राहुल गांधी ने कहा, "मैं और कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता असम समझौते के सिद्धांतों की रक्षा करेंगे, हम इससे एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे।" उन्होंने आगे कहा कि रिमोट कंट्रोल से टीवी चल सकता है, मुख्यमंत्री नहीं, आपको अपना मुख्यमंत्री चाहिये जो आपकी परेशानियों को सुने, लेकिन असम के मौजूद मुख्यमंत्री केवल नागपुर और दिल्ली की सुनते हैं।

पढ़ें- शहर को मेट्रो, गांव को नहर, जानिए प्रधानमंत्री ने तमिल नाडु को दिए और क्या-क्या गिफ्ट्स

उन्होंने कहा कि भाजपा और RSS असम को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। नरेन्द्र मोदी और अमित शाह इससे प्रभावित नहीं होंगे लेकिन असम और पूरा देश इससे प्रभावित होगा। राहुल गांधी ने कहा कि असम का सबसे बड़ा मुद्दा रोजगार है। असम का युवा जानता है कि बीजेपी सरकार में रोजगार नहीं मिलेगा। नरेंद्र मोदी खेती को खत्म करने के लिए तीन कृषि कानून लाए हैं। हम यहां सरकार में आएंगे तो जो नफरत फैलाई जा रही है वो खत्म होगी।

पढ़ें- तमिलनाडु में पीएम ने पुलवामा के शहीदों को दी श्रद्धांजलि, जानिए भाषण की बड़ी बातें

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों का पैसा लूटा और अपने दो दोस्तों का कर्ज माफ कर दिया। उन्होंने कहा, "हिंदुस्तान की सरकार ने तरुण गोगोई जी का और इस प्रदेश का अपमान किया है। असम की जनता में वो क्षमता है कि अवैध प्रवास के  मुद्दे को मिलकर सुलझाया जा सकता है। अगर यह प्रदेश फिर से बंट गया, जो बीजेपी और आरएसएस रोज करते हैं तो असम का नुकसान होगा।"

पढ़ें- सिंघु बॉर्डर की नई तस्वीर सामने आई, किसानों के तंबू खाली देखिए वीडियो

Click Mania